नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने अप्रैल-जून तिमाही के लिए सामान्य भविष्य निधि (जीपीएफ) पर मिलने वाली ब्याज दरों को यथावत रखा है। इसके साथ ही अन्य संबंधित योजनाओं पर भी ब्याज दरों को अपरिवर्तित रखा गया है। अप्रैल-जून तिमाही के लिए यह ब्याज दर फिलहाल 8 फीसद ही रहेगी।जीपीएफ पर मिलने वाली ब्याज दर लोक भविष्य निधि (पीपीएफ) पर मिलने वाले ब्याज के बराबर ही है। जानकारी के लिए आपको बता दें कि वित्त वर्ष 2018-19 की जनवरी-मार्च तिमाही के दौरान भी जीपीएफ पर मिलने वाली ब्याज दर 8 फीसद ही रही थी।आर्थिक मामलों के विभाग की ओर से जारी एक अधिसूचना में कहा गया, "सामान्य जानकारी के लिए यह घोषणा की जाती है कि वर्ष 2019-20 के दौरान, जीपीएफ और अन्य सामान्य बचत योजनाओं पर ब्याज दर एक अप्रैल से 30 जून 2019 के लिए 8 फीसद होगी। यह एक अप्रैल से 30 जून 2019 तक प्रभावी होगी।"यह ब्याज दर केंद्र सरकार के कर्मचारियों, रेलवे तथा रक्षा बलों की भविष्य निधि पर लागू होगी। पिछले महीने सरकार ने छोटी बचत योजनाओं जैसे कि नेशनल सेविंग स्कीम (एनएससी) और पीपीएफ पर चालू वर्ष की पहली तिमाही के दौरान ब्याज दरों को बरकरार रखा था।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें