नई दिल्ली। जेट एयरवेज की घरेलू पायलट बॉडी, द नेशनल एविएटर्स गिल्ड (एनएजी) ने मंगलवार को लंबित सैलरी के मुद्दे पर एसबीआई चेयरमैन रजनीश कुमार से मिलने का समय मांगा है। गौरतलब है कि एसबीआई की अगुवाई में कर्जदाताओं के समूह की ओर से नरेश गोयल की कंपनी के अधिग्रहण के एक दिन बाद एनएजी ने यह मांग रखी है।एनएजी ने पिछले हफ्ते घोषणा की थी कि अगर उनके बकाये वेतन का भुगतान तथा कंपनी को पटरी पर लाने की रूपरेखा 31 मार्च तक उपलब्ध नहीं कराई जाती है, तो उसके 1,100 सदस्य एक अप्रैल से उड़ान रोक देंगे। कंपनी में जारी मौजूदा उठापटक के बीच बीते दिन जेट एयरवेज के संस्थापक और चेयरमैन नरेश गोयल तथा निदेशक मंडल में शामिल उनकी पत्नी अनीता गोयल ने बोर्ड से इस्तीफा दे दिया था। इसके साथ ही अब जेट एयरवेज में नरेश गोयल की हिस्सेदारी 50.1 फीसद से घटकर 25.5 फीसद पर आ गई है।वहीं एतिहाद की हिस्सेदारी भी 24 फीसद से घटकर 12 फीसद पर आ गई है। नई डील के अंतर्गत एसबीआई की अगुवाई में बैंक तत्काल 1,500 करोड़ रुपये की पूंजी एयरलाइंस में डालेंगे और 9,700 करोड़ रुपये के कर्ज को इक्विटी में बदलेंगे। नई पूंजी के साथ कंपनी में बैंकों की हिस्सेदारी 50.1 प्रतिशत पर आ गई है। गौरतलब है कि एक बिलियन डॉलर से अधिक के कर्ज में डूबी जेट पर पर बैंकों, सप्लायर्स की देनदारी और पायलट और पट्टे का भुगतान बकाया है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें