नई दिल्ली। पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने समाप्त होने वाली तिमाही (मार्च) के लिए 10,000 करोड़ रुपये की रिकवरी का लक्ष्य रखा है। यह जानकारी बैंक के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुनील मेहता ने दी है।मेहता ने न्यूज एजेंसी आईएएनएस को दिए एक साक्षात्कार में बताया, "बैंक ने चालू तिमाही के लिए 10,000 करोड़ रुपये की रिकवरी का लक्ष्य रखा है। अगले वित्त वर्ष के लिए लक्ष्य का निर्धारण अभी किया जाना है।" जानकारी के लिए आपको बता दें कि बैंक ने चालू वित्त वर्ष की बीती तीन तिमाहियों में 16,000 करोड़ रुपये की रिकवरी की है।एक अलग स्ट्रेस्ड एसेट वर्टिकल के अलावा, बैंक ने नॉन-परफॉर्मिंग एसेट (एनपीए) के मुद्दे को हल करने के लिए कई कदम उठाए हैं। वर्तमान में बैंक NPA-2018 के लिए एक विशेष "वन टाइम सेटलमेंट" (OTS) योजना चला रहा है जिसमें 25 करोड़ (31 मार्च 2018 तक का बकाया) रुपये तक के खातों को देखा जा रहा है।मेहता ने बताया, "ओटीएस कैंप देशभर में चलाए गए हैं जहां उधार लेने वाला व्यक्ति और बैंक बातचीत के जरिए एक उपयुक्त राशि पर निपटान को राजी होने की कोशिश करते हैं।" इसके अलावा बैंक ने उन चिह्नित खातों की रिकवरी प्रक्रिया तेज कर दी है जिन्हें पूरी तरह से प्रोविजनिंग में डाल दिया गया था जो कि 31 मार्च 2018 तक संचालन में थे।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें