नई दिल्ली। सार्वजनिक क्षेत्र का स्टेट बैंक ऑफ इंडिया अपने ग्राहकों को देशभर में 50,000 ऑटोमेटेड टेलर मशीन (एटीएम) का इस्तेमाल करने की सुविधा देता है। यह ग्राहकों को एसबीआई एटीएम से मुफ्त निकासी की सुविधा देता है। इसमें एसबीआई के सहयोगी बैंक स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर, स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ पटियाला और स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर के एटीएम भी शामिल हैं।यह ग्राहकों को प्रति दिन 40,000 रुपये की निकासी की सुविधा भी देता है, यह सीमा क्लासिक डेबिट कार्ड पर लागू होती है। वहीं हायर वैल्यू कार्ड में डेली विदड्रॉअल की लिमिटि भी ज्यादा होती है जो कि 1 लाख रुपये तक होती है।स्टेट बैंक के एटीएम पर काम करते हैं ये कार्ड: स्टेट बैंक की ओर से जारी किए गए सभी कार्ड्स के अलावा अन्य कार्ड्स भी एसबीआई एटीएम पर स्वीकार किए जाते हैं। इस लिस्ट में स्टेट बैंक क्रेडिट कार्ड, अन्य बैंकों की ओर से जारी किए गए कार्ड जिनमें मैस्ट्रो, मास्टर कार्डस, साइरस, वीजा और वीजा इलेक्ट्रॉन लोगो, इंडिया के बाहर के बैंक की ओर से जारी किए गए डेबिट और क्रेडिट कार्ड जिनमें मैस्ट्रो, मास्टर कार्डस, साइरस, वीजा और वीजा इलेक्ट्रॉन लोगो वाले कार्ड शामिल होते हैं।
SBI के ATM कार्ड पर मिलते हैं ये फायदे:
-एसबीआई अपने ग्राहकों को एटीएम के जरिए भी कुछ सुविधाएं प्रदान करती है। इनमें से ही एक सर्विस फास्ट कैश की है। यह ग्राहकों को वन टच के साथ मर्जी के हिसाब से राशि निकालने की अनुमति देता है। इसमें निकलने वाली राशि 100,200,500,1000,2000, 3000,5000 और 10,000 हो सकती है। इसके अलावा बैंक ग्राहको को पिन चेंज, बैलेंस इन्क्वायरी, मिनी स्टेटमेंट प्राप्त करने, एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस प्रीमियम का भुगतान करने और यूटिलिटी बिल का पेमेंट करने की भी सुविधा देता है।
-ग्राहक एसबीआई के सभी एटीएम पर खुद को इंटर मोबाइल पेमेंट सिस्टम (आईएमपीएस) के लिए रजिस्टर्ड भी करवा सकते हैं। यह आईएमपीएस के साथ रजिस्टर्ड व्यक्ति को तुरंत पैसा ट्रांसफर करने की भी सुविधा देता है।
-यह मोबाइल टॉप अप की भी सुविधा देता है। ग्राहक एसबीआई के किसी भी एटीएम से अपने प्रीपेड मोबाइल कनेक्शन को रिचार्ज करा सकते हैं। ऐसे में ग्राहकों को अपने मोबाइल रिचार्ज को लेकर चिंता करने की जरूरत नहीं है।
-एसबीआई ग्राहकों को यह सुविधा देता है कि वो अपने मोबाइल एप्लीकेशन को रजिस्टर्ड और डीरजिस्टर्ड करा सकते हैं, अकाउंट के साथ आधार को रजिस्टर्ड करा सकते हैं, मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड एवं अपडेट करा सकते हैं। ये सारे काम एसबीआई के एटीएम के इस्तेमाल से किए जा सकते हैं।
-ग्राहक शाखा पर जाए बिना चेक बुक के लिए ऑर्डर कर सकते हैं और किसी भी ट्रांजेक्शन स्लिप को फाइल कर सकते हैं। इसके लिए ग्राहकों को अपने पते को ब्रांच में रजिस्टर्ड कराना होगा ताकि चेक बुक की डिलीवरी उन तक हो पाए।
-ग्राहक आसानी से एक एसबीआई डेबिट कार्ड से दूसरे में कैश भेज सकते हैं। यह सुविधा फ्री में मिलती है और आसान सेवा है जिसमें वो एक दिन में 40,000 रुपये तक भेज सकते हैं। यहां ट्रांजेक्शन की संख्या की कोई सीमा निर्धारित नहीं है। इसके लिए आपके पास बस एसबीआई का डेबिट कार्ड होना चाहिए।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें