नई दिल्ली। टेलिकॉम सेक्टर की अग्रणी कंपनी भारती एयरटेल भारती इंफ्राटेल में अपनी हिस्सेदारी घटाना चाहती है। कंपनी नेटल इंफ्रास्ट्रकचर इनवेस्टमेंट्स को करीब 32 फीसद हिस्सेदारी बेचकर भारती इंफ्राटेल में अपनी हिस्सेदारी घटाकर 18.3 फीसद करेगी। यह जानकारी इंफ्राटेल ने एक नियामकीय फाइलिंग में दी है।इन्फ्राटेल ने नियामकीय फाइलिंग में बताया कि एयरटेल की इकाई नेटल इन्फ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट भारती इन्फ्राटेल में 32 फीसद की हिस्सेदारी 18 मार्च तक खरीदेगी। इस ट्रांसफर के बाद एयरटेल के पास इन्फ्राटेल में 18.3 फीसद की हिस्सेदारी रह जाएगी, जबकि वर्तमान में इसकी कंपनी में हिस्सेदारी 50.33 फीसद की है।सौदे के लिए शेयरों की कीमत अधिग्रहण के वक्त पर होने वाले बाजार मूल्य पर या उसके आस-पास होगी। बाजार विशेषज्ञों का कहना है कि हिस्सेदारी के इस हस्तांतरण से तीसरे पक्ष के शेयरों की बिक्री होगी और भारतीय एयरटेल को पैसे जुटाने में मदद मिलेगी।इस घोषणा के बाद भारती एयरटेल के शेयरों में दिन के कारोबार के दौरान चार फीसद से ज्यादा की बढ़त देखी गई। वहीं दोपहर 2:02 बजे बीएसई में भारती एयरटेल के शेयर की कीमत 347 रुपये थी, जो पिछले दिन के मुकाबले 3.99 फीसद या 13.30 रुपये ज्यादा है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें