नई दिल्ली। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड रिलायंस ट्रेंड फैशन स्टोर को बढ़ाने की योजना पर काम कर रहा है। कंपनी अगले पांच सालों में पूरे देश में कम लागत वाले रिलायंस ट्रेंड्स फैशन स्टोर की संख्या 557 से बढ़ाकर 2,500 करना चाहती है। न्यूज एजेंसी रायटर्स के मुताबिक, रिलायंस ने साथ ही अपने ई-कॉमर्स बिजनेस के साथ इसे जोड़ने की योजना बनाई है। हालांकि रिलायंस के विस्तार की जानकारी पहले साझा नहीं की गई थी। ऐसा माना जा रहा है कि भारत के बाजार में पहले से मौजूद अमेजन और फ्लिपकार्ट को चुनौती देने के लिए रिलायंस के चेयरमैन मुकेश अंबानी इस योजना को लेकर आ रहे हैं। बता दें कि रिलायंस की ई-कॉमर्स बाजार में एंट्री और फैशन में विस्तार करने की योजना से भारत में पहले से मौजूद अमेजन और फ्लिपकार्ट को एक तगड़ा झटका लग सकता है।गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने पिछले साल दिसंबर महीने में इ-कॉमर्स में एफडीआई नियमों को लेकर कुछ बदलाव किया था। नए बदलावों के मुताबिक अब ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म उन कंपनियों के प्रॉडक्ट नहीं बेच पाएंगे, जिनमें उनकी हिस्सेदारी है। इसके अलावा ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर अब किसी प्रॉडक्ट विशेष की एक्सक्लूसिव सेल भी नहीं होगी।एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति अंबानी ने वर्ष 2007 में रिलायंस रिटेल लिमिटेड की स्थापना इसलिए की थी ताकि वो अपनी पेट्रोलियम क्षेत्र की बड़ी कंपनी को उपभोक्ताओं के लिहाज से बदल पाएं।
300 शहरों का लक्ष्य;-ऐसी उम्मीद की जा रही है अंबानी के इस पहल से कंपनी की खुदरा क्षेत्रों पर अच्छी पकड़ बनेगी। रिलायंस ट्रेंड की योजना अगले पांच सालों में 300 शहरों में स्टोर खोलने की है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें