नई दिल्ली। इंडिया पोस्ट का पेमेंट बैंक (आईपीपीबी) तीन तरह के जीरो बैलेंस सेविंग अकाउंट को खोलने की सुविधा देता है। रेगुलर सेविंग अकाउंट, डिजिटल सेविंग अकाउंट और बेसिक सेविंग बैंक डिपॉजिट अकाउंट। जीरो बैलेंस सेविंग अकाउंट की सबसे बड़ी खासियत यह होती है कि इसमें ग्राहकों को मिनिमम एवरेज बैलेंस मेंटेन करने की जरूरत नहीं होती है।इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक की 650 शाखाएं और 3,250 एसेस प्वाइंट है, जो कि इन तीनों तरह के सेविंग अकाउंट में जमा राशि पर 4 फीसद की दर से ब्याज उपलब्ध करवा रहा है। यह जानकारी इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक की आधिकारिक वेबसाइट (website - ippbonline.com) पर दर्ज है।
इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक रेगुलर सेविंग अकाउंट: इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक के रेगुलर सेविंग अकाउंट को या तो आप एसेस प्वाइंट के जरिए खुलवा सकते हैं या फिर डोर स्टेप सर्विस के जरिए। इस अकाउंट को जीरो बैलेंस के साथ खुलवाया जा सकता है और खाताधारक को इसमें किसी भी बैलेंस को मेंटेन करने की जरूरत नहीं होती है। इस रेगुलर सेविंग अकाउंट के साथ तिमाही आधार पर अकाउंट स्टेटमेंट प्राप्त करने और फंड रेमिटेंस सर्विस आईएमपीएस की सुविधा भी मिलती है। इसकी जानकारी आईपीपीबी की आधिकारिक वेबसाइट पर दर्ज है।
इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक डिजिटल सेविंग अकाउंट: इंडिया पोस्ट के डिजिटल सेविंग अकाउंट को पेमेंट बैंक की मोबाइल एप के माध्यम से खुलवाया जा सकता है। यह एप गूगल के एंड्रॉयड प्लेटफार्म पर उपलब्ध है। इस खाते को खुलवाने के लिए आवेदक को अपने आधार के साथ पैन नंबर (पर्मानेंट अकाउंट नंबर) की जानकारी देनी होती है। इस अकाउंट को आप घर बैठे भी खुलवा सकते हैं। इसमें भी खाताधारक को बैलेंस मेंटेन करने की जरूरत नहीं होती है। इसे भी जीरो बैलेंस के साथ खुलवाया जा सकता है। साथ ही इस खाते पर तिमाही आधार पर अकाउंट स्टेटमेंट प्राप्त करने और फंड ट्रांसफर के लिए आईएमपीएस की सुविधा भी मिलती है।
इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक बेसिक सेविंग अकाउंट: इंडिया पोस्ट के इस अकाउंट में वो सारे फीचर्स और बेनिफिट्स मिलते हैं जो कि रेगुलर सेविंग अकाउट में दिए जाते हैं। हालांकि इसमें सिर्फ महीने में चार बार नकदी निकासी की सुविधा मिलती है। इंडिया पोस्ट के इस बेसिक सेविंग अकाउंट का मकसद न्यूनतम शुल्क के साथ प्राथमिक बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध करवाना है। इस खाते को भी जीरो बैलेंस के साथ खुलवाया जा सकता है। इसमें भी तिमाही आधार पर मुफ्त में बैंक स्टेटमेंट प्राप्त करने और आईएमपीएस की सुविधा मिलती है। यह जानकारी भी इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर दर्ज है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें