नई दिल्ली। ऑटो क्षेत्र की दिग्गज कंपनी टाटा मोर्ट्स को दिसंबर तिमाही में 26,961 करोड़ रुपये का भारी भरकम घाटा हुआ है। कंपनी ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी। टाटा मोटर्स को पिछले साल अक्टूबर-दिसंबर की समान तिमाही में 1,214.6 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। टाटा मोटर्स के मुताबिक उसने अपनी सहायक कंपनी जगुआर की संपत्ति को ठीक करने के लिए एक बार में 3.1 बिलियन पाउंड की गैर-नकद शुल्क लिया जिससे की कंपनी का घाटा बढ़ गया। कंपनी का तीसरी तिमाही में संगठित राजस्व 5 फीसद बढ़कर 77,001 करोड़ रुपये हो गया।बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को भेजी गई जानकारी में कंपनी ने कहा कि उसका प्रदर्शन विशेष रूप से चीन और इन्वेंट्री करेक्शन में चुनौतीपूर्ण बाजार की स्थितियों से प्रभावित हुआ है। कंपनी की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक परिचालन से उसका राजस्व 4.36 फीसद बढ़कर 77,582.71 करोड़ रुपये हो गया जो पिछले साल इसी अवधि की समान तिमाही में 74,337.7 करोड़ रुपये था। एकीकृत आधार पर टैक्स देने के बाद कंपनी का मुनाफा 617.62 करोड़ रुपये रहा जो पिछले साल की तिमाही में 211.59 करोड़ रुपये था।पूरे एकीकृत आधार पर टाटा मोटर्स की आय 16,477.07 करोड़ रुपये बढ़ गई जो पिछले साल की समान तिमाही में 16,186.15 करोड़ रुपये थी। वहीं जगुआर का राजस्व 1 फीसद कम होकर 6.2 पौंड रह गया।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें