-इति शिवहरे
आज गौरी कोचिंग जाने के लिए घर से निकली ही थी कि तभी देखा कि एक आलीशान बंगले से काफी जोर जोर से आवाज आ रही थी ।देखा तो पता चला कि जन्मदिन की पार्टी हो रही थी। तभी वह आगे बढ़ने ही वाली थी कि अचानक उसकी नजर एक बच्चे पर पड़ी जो काफी गौर से देख रहा था। वह उसके पास गई और पूछा कि आप ऐसे क्यो देख रहे हैं। तो वह बोला कि मैं भी जाना चाहता हूं अंदर पर ये लोग मुझे जाने ही नहीं दे रहे। तो उसने पूछा कि ये लोग आपको क्यो नही आने दे रहे। तो वह बड़ी मासूमियत से बोला कि मैं गरीब हूं इसलिए और ये लोग मुझसे कहते कि पहले मैं कुछ उपहार लाऊं तब आने देंगे। तो उसने प्यार से उसे अपनी गोद में उठाया और बोली, अच्छा आप बताओ आपका जन्मदिन कब होता। तो उसने कहा कि मुझे नहीं पता जब भी मां से पूछो तो वो डांट कर कहती कि गरीबों का कुछ नहीं होता। उस लड़के की बात ने गौरी को झकझोर दिया। फिर उसने उससे कहा कि आप मेरे साथ चलेंगे। उसने पहले मना किया पर बाद में मान गया। वह उसे अपने साथ घर ले आई तो पापा ने पूछा ये कौन है? गौरी ने उन्हें सारी बात बताई और कहा कि पापा आज मैं इसका जन्म दिन मनाना चाहती हूं। पापा उसकी बात से सहमत हुए। और सबने उसका जन्मदिन बहुत यादगार तरीके से मनाया और उसके साथ ही सब अनाथ आश्रम गए और वहां बच्चों के साथ आनंद लिया और उन्हें तोहफे भी दिए।आज गौरी के चेहरे पर मुस्कान बिखर रही थी। और शायद पहली बार बेटी होने पर गर्व भी था।

etishivhare7464@gmail.com

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें