articles

-सुरेश हिन्दुस्थानीचुनाव आयोग और मतदान के प्रति जागरुकता लाने वाले प्रेरक संगठनों के तमाम प्रयासों के बाद भी मतदान के प्रति वैसा उत्साह अभी तक देखने में नहीं आ सका है, जैसी उम्मीद की जा रही थी। वास्तव में मतदान का प्रतिशत नहीं बढऩा कहीं न कहीं मतदाताओं की उदासीनता को ही प्रदर्शित कर रही हैं। सवाल यह है कि अपना जनप्रतिनिधि चुनने में मतदाता उदासीन क्यों होता जा रहा…
-डॉ नीलम महेंद्र*(Best editorial writing award winner) हाल ही में आइआइटी में पढने वाली एक लड़की के आत्महत्या करने की खबर आई कारण कि वो मोटी थी उसे अपने मोटा होना इतना शर्मिंदा करता था की वो अवसाद में चली गयी उसका अपनी परीक्षाओं में अव्वल आना भी उसे इस दुःख से बहार नहीं कर पाया यानी उसकी बौधिक क्षमता शारीरक आकर्षण से हार गयी दरअसल। आज हम जिस युग…
-मनोज ज्वाला कांग्रेस के नेतागण जब चुनाव हार जाते हैं या हारने की सम्भावनादेख लेते हैं तब वे ईवीएम में गडबडी का राग अलापने लगते हैं । हॉलाकिचुनाव में मतदान के लिए ईवीएम का इस्तेमाल ही हो रहा है पहले की व्यवस्थामें होती रही गडबडियों को रोकने के लिए । ईवीएम पर सवाल उठाते रहने वालेआज के कांग्रेसी नेताओं को यह जान लेना चाहिए कि चुनावी हेरा-फेरी काआविष्कार कांग्रेस के…
-रमेश सर्राफ धमोरा (स्वतंत्र पत्रकार) देश में लाकसभा चुनाव की प्रक्रिया चल रही है। देश में तीसरे चरण के मतदान के लिये वोट डाले जा चुके हैं। हर जगह चुनाव को शोर हो रहा है। ऐसे में देश की राजनीति में कभी प्रमुख भूमिका निभाने वाले वामपंथी दलो की नगण्य उपस्थिति लोगों को चौंका रही है। देश की राजनीति में आजादी पूर्व से अपनी महत्वपूर्ण उपस्थिति दर्ज कराते आ रहे…
-अब्दुल रशीद (लेखक,पत्रकार व स्तंभकार)मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव 2018 में कांग्रेस के वापसी की चर्चा के बाद सबसे ज्यादा चर्चा अजय सिंह 'राहुल भईया' के चुरहट विधानसभा से हारने की रही, क्योंकि मध्यप्रदेश की राजनीति में चाणक्य कहे जाने वाले पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय अर्जुन सिंह के परिवार का इस क्षेत्र में राजनितिक वर्चस्व रहा है, लेकिन कहते हैं न राजनीति में परिस्थिति कब करवट बदल ले कुछ तय नहीं होता। मध्यप्रदेश…
R. K.Purohit लोकसभा चुनाव 2019 में शत प्रतिशत मतदान के लिए चुनाव आयोग के निर्देशानुसार जहां एक ओर निर्धारित कार्यक्रमों का आयोजन हो रहा हैं वहीं राजस्थान प्रान्त के झालावाड जिले में भवानीमंडी शहर के शिक्षक राजेश कुमार शर्मा ने अपनी लेखनी के दम पर मतदाता जागरूकता की घर घर अलख जगाने की ठान ली है। वे राष्ट्रीय स्तर की पत्र पत्रिकाओं में सतत लेखन करते हैं मतदान गीत उनका…

महागठबंधन

-नीरज त्यागी राम और रवि बचपन के बहुत ही घनिष्ठ मित्र है।बचपन से बड़े होने तक दोनों ने हर छोटी बड़ी बात एक दूसरे से शेयर की है। युवावस्था में आकर जब से दोनों को अपने वोट डालने का अधिकार प्राप्त हुआ। दोनों एक साथ हमेशा से एक ही पार्टी को मतदान करते रहे। दोनों की दोस्ती ऐसी है कि हमेशा एक ही पार्टी को वोट डालते है।कभी दोनों में…
-ब्लॉगर आकांक्षा सक्सेना akaksha11@gmail.com दोस्तों, दुनियां में एक और भारत का योग, कला, अध्यात्म और अनुसंधान के क्षेत्र में डंका बज रहा है। पूरी दुनिया आज भारत का लोहा मान गयी है वो चाहे चांद पर पानी खोजने की बात हो या लार्ड हैड्रल कोलाइड्रल महामशीन से बृह्माण्ड़ का सबसे शूक्ष्म कंण (गॉड पाॉटिकिल) की खोजने की चल रही हो। यह देख और सुन कर हमारा सिर गर्व से ऊँचा…
- बाल मुकुन्द ओझा, वरिष्ठ लेखक एवं पत्रकार मलेरिया से होने वाली मौतों के मामले में भारत का विश्व में चैथा स्थान है। छत्तीसगढ़, झारखंड, मध्य प्रदेश और उड़ीसा राज्यों में मलेरिया के अधिक मामलों की सूचना मिली है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट के मुताबिक पूरी दुनिया में सामने आए मलेरिया के कुल मामलों में से 80 प्रतिशत मामले भारत और 15 उप-सहारा अफ्रीकी देशों से थे। डब्ल्यूएचओ…

ब्लैक ईस्टर

... सुरेन्द्र कुमार ( लेखक विचारक और शिक्षक) हिमाचल प्रदेश ईस्टर संडे को प्रभु ईसा मसीह पुनर्जीवित हुए थे। इसलिए ईसाई धर्म के अनुयायी इस दिवस को ईस्टर त्योहार के रूप में मनाते हैं। इस दिन लोग अमन-चैन की दुआ के लिए गिरिजाघरों में एकत्रित होते हैं तथा सामूहिक प्रार्थना करते हैं। लेकिन गत रविवार श्रीलंका के अलग अलग शहरों के गिरिजाघरों में मानवता के दूश्मनों ने जो तांडव दिखाया,…
Page 10 of 80

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें