articles

-सुरेश हिन्दुस्थानी(वरिष्ठ पत्रकार एवं स्तंभकार) हम बचपन में अपने दोस्तों के साथ खेल खेलते थे। जब किसी दोस्त को उस खेल का हिस्सा नहीं बनाया जाता तो वह खेल बिगाडऩे की जुगत में ही लगा रहता था। खेल बिगाडऩे वाला भले ही सफल नहीं हो पाए, लेकिन दूसरों लोगों को अवश्य ही असफल कर देता था। आजकल जिन राज्यों में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं, उनमें कमोवेश ऐसे ही हालात…
*हरियाणा की राजनीति में क्या रंग दिखाएगी चौटाला परिवार की जंग? - योगेश कुमार गोयल(राजनीतिक विश्लेषक एवं वरिष्ठ पत्रकार) 17 नवम्बर को जींद में इनेलो के पूर्व प्रधान महासचिव डा. अजय सिंह चौटाला द्वारा 9 दिसम्बर को नई पार्टी के गठन की घोषणा के साथ ही हरियाणा का मुख्य विपक्षी पार्टी इनेलो अंततः दोफाड़ हो गई है और दोनों भाईयों अजय तथा अभय चौटाला की राहें जुदा-जुदा हो गई हैं।…
- योगेश कुमार गोयल(राजनीतिक विश्लेषक एवं वरिष्ठ पत्रकार) तमाम राजनीतिक विश्लेषकों द्वारा राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, मिजोरम और तेलंगाना विधानसभा चुनावों को अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के सेमीफाइनल के रूप में देखा जा रहा है। दरअसल यह तय है कि इन पांचों राज्यों के चुनाव परिणाम न केवल 2019 के महासमर की दशा और दिशा तय करने में अहम भूमिका निभाएंगे बल्कि इन्हीं पांच राज्यों के चुनाव परिणामों…
-ओम प्रकाश उनियालशहरों के विकास का जिम्मा स्थानीय निकायों का होता है। जिसे छोटी सरकार भी कहा जाता है। शहरी जनता को मूलभूत सुविधाएं जैसे बिजली, पानी, सड़क, पार्क, साफ-सफाई, भवनों के नक्शे स्वीकृत करना आदि की व्यवस्था सुचारू रूप से करनी होती है। निकायों में शहर की जनता जन-प्रतिनिधियों को चुनकर भेजती है। जिनका काम अपने नगर की जन-सुविधाओं को अपने स्तर से हल करना होता है। लेकिन भारत…
-भुवन बिष्ट , रानीखेत (अल्मोड़ा) , उत्तराखण्ड..रानीखेत (उत्तराखण्ड) | देवभूमि उत्तराखण्ड अपने प्राकृतिक सौंदर्य के लिए विश्वविख्यात है वही इसके विभिन्न शहर, स्थान पर्यटन , आध्यात्म के गुणों को समेटे हुवे हैं | अल्मोड़ा जिले के रानीखेत शहर अपने प्राकृतिक सौंदर्य के लिए विश्वविख्यात है | रानीखेत विभिन्न प्रसिद्ध मंदिरों से भी चारों ओर से घिरा है | विभिन्न दर्शनिय स्थलों की धनी रानीखेत नगरी ब्रिटीशकाल से ही पसंदीदा रही…
-डॉ नीलम महेंद्र(Best editorial writing award winner) आज जब दिल्ली की हवा में प्रदूषण के स्तर ने विश्व के सभी रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिए तो इस बात को समझ लेने का समय आ गया है कि यह आज एक समस्या भर नहीं रह गई है। आज जब एयर प्यूरीफायर की मार्किट लगातार बढ़ती जा रही है तो यह संकेत है कि प्रदूषण किस कदर मानव जीवन के लिए ही एक…
-राहुल लाल (कूटनीतिक मामलों के विशेषज्ञ) हिंद महासागर का छोटा सा द्वीपीय देश मालदीव इस वर्ष गहरे सियासी और संवैधानिक संकट से जूझते रहा था।लेकिन लेकिन सितंबर में मालदीव की जनता ने अपने लोकतांत्रिक शक्तियों का प्रयोग करते हुए चीन समर्थक अब्दुल्ला यामीन को हराकर संयुक्त विपक्षी गठबंधन के नेता इब्राहिम मोहम्मद सोलिह को विजयी बनाया ।मालदीव चुनाव आयोग के अनुसार सालेह को 58.3% मत मिले थे।मालदिवियन डेमोक्रेटिक फ्रंट के…
-ओम प्रकाश उनियालमौसम का मिजाज न जाने कब करवट बदल डाले कुछ पता नहीं चलता। मौसम विभाग की भविष्यवाणी भी कई बार सटीक नहीं बैठती। मौसम परिवर्तन का सिलसिला भारत में ही नहीं बल्कि समूचे विश्व में चलता है। फर्क इतना है कि भारत ऋतुओं का देश कहा जाता है। यहां छह ऋतुओं का चक्र चलता आ रहा है। अन्य कई देशों में छह ऋतुएं नहीं आती। आज हर किसी…

सफलता...

-कुसुम (करौली,राजस्थान,भारत) सफलता है क्या?बस एक ऐसी जगह जहां आपने समय और श्रम सही दिशा में इनवैस्ट किया है।लोग सफलता के पीछे भागे जा रहे हैं।बिना ये जाँच किये कि उसके पीछे हमारा माइन्डसैट क्या है।हम एफर्ट की जगह रिजल्ट पर निगाहें टिकाये रहते हैं जबकि ध्यान देने की बात यह है कि अपना सौ फीसदी सिर्फ इनपुट पर दें तो आउटपुट अपने आप बेहतर हो जाएगा।कहते हैं जैसा हम…
- मुकेश कुमार ऋषि वर्मा फिल्म - जवानी को लेकर देश की संस्कृति की पैरोकार वाली एक संस्था के मुखिया ने अपने चेले-चपाटों को आदेश दिया |‘बॉलीवुड की फिल्म - जवानी का प्रदर्शन पूरे देश में रोकना है | अगर फिल्म रिलीज़ हुई तो हमारी पावन संस्कृति को खतरा हो जायेगा | इस अश्लील फिल्म से राष्ट्र का पतन हो जायेगा |’हाईकमान का आदेश... संस्कृति के रक्षक टूट पड़े विरोध…
Page 83 of 89

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें