articles

--प्रकाश दर्पेइस दफ़ा भी हिंदी दिवस पर उत्सव का वही तामझाम था। बढ़चढ़कर भाग लेने वाले वही चेहरे और पुरुस्कार पाने वाले भी वही चिरपरिचित चेहरे । हमेशा की तरह कार्यालय में अंग्रेज़ी टाइपिस्ट हिंदी टाइपिंग में अतिरिक्त उत्साह दिखा रहे थे। हिंदी में ज़्यादा से ज़्यादा काम करने की कठोर हिदायतें प्रधान कार्यालय से आ रही थी । ऑफ़िस में हिंदी टाइपिस्ट की कमी होने की वजह से कई…
-ओम प्रकाश उनियालदुनिया में भांति-भांति के लोग हैं। सबकी विचारधारा अलग-अलग। दयालु भी हैं तो निर्दयी भी। दूसरों की मदद को हाथ बढ़ाने वाले भी हैं तो दूसरे का हक छीनने वाले भी।पापी भी हैं तो पुण्य करने वाले भी। किस के मन-मस्तिक में क्या चल रहा है कोई नहीं बता सकता। अक्सर सुनने में आता है कि लोग हर तरफ से जागरूक हो रहे हैं। या जागरूक किया जा…
जींद (हम हिंदुस्तानी)- सामाजिक संस्था विलक्षणा एक सार्थक पहल समिति ने 43 बच्चों का अलग अलग स्कूलों में दाखिला करवाया। संस्था ने जींद के आसपास के भट्ठों पर काम करने वाले मजदूरों को शिक्षा के प्रति जागरूक करके उनके बच्चों का आसपास के स्कूलों में दाखिला करवाया। संस्था की संस्थापक एवं अध्यक्ष डॉ सुलक्षणा ने बताया कि संस्था के कानूनी सलाहकार सुरेश कुमार के नेतृत्व में भट्ठों पर काम करने…
-संध्या चतुर्वेदी "रिया जो कि मायके में छोटी होने के कारण पापा की लाडली बेटा थी।शादी एक संयुक्त परिवार में हुई।रिया सबसे छोटी बहू थी।ससुराल में चार जेठ और चार जेठानियाँ, फिर बड़े सास-ससुर के बीच सबसे छोटी बहू। जहाँ मायके में खुद को बेटे की तरह लाड़ और आजादी मिली,वही ससुराल में सब का घूँघट करना और किसी की बात का जबाब ना देना। इन कठिन नियमो के बीच…
-रमेश सर्राफ धमोरा (स्वतंत्र पत्रकार) राजस्थान में आगामी सात दिसम्बर को होने जा रहे 15 वीं विधानसभा के चुनाव में भाजपा व कांग्रेस दोनो पार्टियों को लगता है कि यदि किसी कारणवश पूर्ण बहुमत नहीं मिलने पर टिकट नहीं मिलने से नाराज होकर बागी चुनाव लड़ रहे नेताओं के जीतने पर उनकी आसानी से घर वापसी करवाकर सरकार बनायी जा सकती है। 2008 में अशोक गहलोत ने इसी तरह जोड़-तोड़…
-डॉ प्रदीप उपाध्याय खाना भले ही चटपटा पसन्द किया जाता हो लेकिन मिर्ची के प्रयोग में सावधानी रखने की दरकार है क्योंकि लोगों को बहुत मिर्ची लगती है!यदि आप कहेंगे कि मैं रास्ते से जा रहा था,भेलपुरी खा रहा था,किसी को घुमा रहा था तो मिर्ची किसी न किसी को तो लग ही सकती है! मिर्च में तीखापन होता ही है।जब मिर्च स्वाद और तासीर में तीखी और चरपराहट युक्त…
-डॉ नीलम महेंद्र (Best editorial writing award winner) अंग्रेजी में एक कहावत है "नो योरसेल्फ एंड बी योरसेल्फ" यानी खुद को जानो और फिर वैसा ही आचरण करो। शायद इसी वाक्य से प्रेरित होकर, लगता है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी खुद को जानने की एक अनंत यात्रा पर निकले हैं। वे अपनी स्वयं की ही खोज में निकले हैं। चूंकि यह कोई छोटा विषय तो है नहीं, इसलिए…
-बाल मुकुन्द ओझा (वरिष्ठ लेखक एवं पत्रकार) राजस्थान मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ सहित पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के चलते नेताओं के बीच विवादित बयानबाजी का दौर जारी है। जिस तरह से एक के बाद एक नेता विवादित बयान दे रहे हैं, उसकी वजह से चुनावी माहौल में सरगर्मी बढ़ गई है। विवादित बयान देने में कांग्रेस और भाजपा सहित कोई भी नेता पीछे नहीं है। सब एक दूसरे पर…
महिला क्रिकेट में इतिहास रचती मिताली राज - योगेश कुमार गोयल (राजनीतिक विश्लेषक एवं वरिष्ठ पत्रकार) खेल एक और कप्तान दो, एक पुरूष क्रिकेट टीम का तो दूसरी महिला क्रिकेट टीम की और अगर बात उपलब्धियों की करें तो दोनों का खेल बेमिसाल हैं और दोनों के ही खाते में ढ़ेरों रिकॉर्ड दर्ज हैं लेकिन इसे पितृसत्तात्मक सोच कहें या कुछ और कि पुरूष टीम के कप्तान सदैव सुर्खियों में…
-रमेश सर्राफ धमोरा (स्वतंत्र पत्रकार) संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 1992 में अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांग दिवस के रूप में 3 दिसम्बर की घोषणा की गयी। इसका उद्देश्य समाज और विकास के सभी क्षेत्रों में दिव्यांग व्यक्तियों के अधिकारों और कल्याण को बढ़ावा देना और राजनीतिक, सामाजिक, आर्थिक और सांस्कृतिक जीवन के हर पहलू में दिव्यांग लोगों की स्थिति के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए मनाया जाता है। दिसम्बर 2015 में प्रधानमंत्री…
Page 79 of 89

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें