articles

आज पूरी दुनिया में बाल अपराधियों की संख्या में वृद्धि होना बेहद चिंताजनक है | बाल अपराधियों को जानना-पहचानना बहुत मुश्किल होता है | इन पर शक भी नहीं किया जा सकता इसलिए अधिकांश ये अपने मक़सद में कामयाब हो जाते हैं | आज भारत ही नहीं पूरी दुनिया बाल अपराधियों से पीडित है | लेकिन कहीं न कहीं बालकों का बाल अपराधी बनने का कारण हमारा सभ्य समाज ही…
-राहुल लाल (कूटनीतिक मामलों के विशेषज्ञ) भारतीय परिवहन का प्रमुख तंत्र रेलवे पुन:एक बड़े दुर्घटना के चपेट में आया।रायबरेली के हरचंदपुर में न्यू फरक्का एक्सप्रेस के 10 डिब्बे इंजन समेत पटरी से उतरे,जिसमें कम से कम 9 लोग मर गए तथा 50से ज्यादा घायल हुए।घायलों में कईयों की हालत गंभीर बनी हुई है।दुर्घटना के तस्वीरों से ही स्थिति के भयावहता को समझा जा सकता है। यह हादसा उस समय हुई,जब…
-राहुल लाल (कूटनीतिक मामलों के विशेषज्ञ) रूस और भारत की दोस्ती के इतिहास में शुक्रवार को एक नया अध्यया जुुु़ड़ गया,जब भारत ने अमेरिका के तमाम चेतावनियों को दरकिनार करते हुए,रूस से 5 अरब डॉलर में 400 एस वायु सुरक्षा प्रणाली खरीदने हेतु समझौते पर हस्ताक्षर किए।एस-400 एयर डिफेंस सिस्टम को दुनिया में सबसे एडवांस माना जाता है।अब एस-400 डिफेंस सिस्टम खरीदने से न केवल भारत की सैन्य शक्ति बढ़ेगी,बल्कि…
-इं. ललित शौर्य*हमारा देश बुद्धिजीवियों से अटा पड़ा है। हर गली-महोल्ले में आपको थोक के भाव बुद्धिजीवी मिल जाएंगे। यहां चारों तरफ बुद्धिजीवियों की फसल लहलहाती हुई देखी जा सकती है। यह देश बुद्धिजीवियों के बल पर ही चल रहा है, ऐसा हर एक बुद्धिजीवी को लगता है। बुद्धिजीवी ही एक ऐसा प्राणी है जो चौबीसों घंटे सोच-सोच कर मोटा हुवा जाता है। उसकी तोंद बाहर की ओर फूट पड़ती…
-तनवीर जाफ़री देश के अन्य राजनैतिक दलों की तुलना में भारतीय जनता पार्टी हमेशा से ही स्वयं को एक अलग पहचान रखने वाले राजनैतिक दल के रूप में प्रचारित करती रही है। भाजपा ने स्वयं भी अपने परिचय हेतु 'पार्टी विद् डि$फरेंस' का नारा भी गढ़ा था। स्वयं को अन्य राजनैतिक दलों की तुलना में सबसे अधिक राष्ट्रवादी,राष्ट्रभक्त,हिंदुत्ववादी,ईमानदार व अनुशासित बताते रहना भाजपा की प्रारंभ से ही मु य रणनीति…
--रमेश सर्राफ धमोरानवरात्री चल रहे हैं। हमारे देश में नवरात्री को मातृ शक्ति के पर्व के रूप में मनाया जाता है। नवरात्री के नो दिनो तक मातृ शक्ति के रूप में सर्वत्र मा दुर्गा की पूजा की जाती है। इस दौरान कन्याओं को भोजन करवाकर उनकी चरण वन्दना की जाती है। उनका पूजन, अभिनन्दन किया जाता है। वैसे भी हम साल भर प्रत्येक शुभ कार्य में कन्या पूजन करते हैं।…
-बाल मुकुन्द ओझा (वरिष्ठ लेखक एवं पत्रकार) विश्व दृष्टि दिवस इस वर्ष 11 अक्टूबर को मनाया जारहा है। आंखों की देखभाल बाल्यकाल से ही की जानी चाहिए। किसी भी बच्चे की आंखों की पहली बार जांच पांच साल के होने तक हो जानी चाहिए। इस उम्र में अगर बच्चे की आंखों में किसी प्रकार की कोई परेशानी रहती है तो वह इसी अवस्था में ठीक हो जाती हैं। आज का…
-बाल मुकुन्द ओझा (वरिष्ठ लेखक एवं पत्रकार) पिछले विधानसभा चुनाव में खबरिया चैनलों के सर्वे में भाजपा की बड़ी जीत बताने पर भाजपा नेता गद गद हुए और इसे जनतंत्र की भावना के अनुरूप बताया था। मगर इस बार उन्हीं चैनलों ने अपने सर्वे में भाजपा की हार बतानी शुरू की तो वे इसे किसी हालत में स्वीकार करने को तैयार नहीं है। इसे कहते है मीठा मीठा गप गप…
-ओम प्रकाश उनियालपशुधन ग्रामीण क्षेत्रों की आर्थिकी का संबल है। मगर ज्यादातर पशुपालक पशुओं की देखरेख में लापरवाही बरतते हैं। समय पर आहार न देना, बीमारी की दशा में समय पर इलाज न कराना, उनकी एवं उनके रहने के स्थान पर साफ-सफाई का ध्यान न रखना, क्षमता से अधिक काम लेना, प्रताड़ित करना, मौसमानुकूल हिफाजत न करना, पौष्टिक आहार न देना जैसी लापरवाही करते हैं। पशुओं के भीतर भी भावनाएं…
-निर्मल रानी 1947 में भारत-पाक विभाजन के समय जिस प्रकार शरणार्थियों के अनियंत्रित आवागमन के दृश्य दिल्ली से लेकर लाहौर तक के रेलवे स्टेशन पर दिखाई दे रहे थे कमोबेश कुछ वैसा ही नज़ारा इन दिनों गुजरात राज्य में देखने को मिल रहा है। उत्तर भारतीय कामगारों पर गुजरात में हमले हो रहे हैं और स्थानीय लोगों द्वारा हिंसा फैलाकर गुजरात छोड़कर जाने के लिए उन्हें मजबूर किया जा रहा…
Page 4 of 87

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें