articles

-आशीष वशिष्ठ (स्वतंत्र पत्रकार) वर्ष 2019 में राम, राहुल और राफेल तीन ग्रह एक साथ प्रधाानमंत्री नरेंद्र मोदी की राजनीतिक कुण्डली में बैठे दिखाई दे रहे हैं। चुनावी वर्ष में इन तीन ग्रहों का एक साथ एक घर में बैठना मोदी के राजनैतिक भविष्य के लिए अशुभ एवं अप्रिय स्थितियां पैदा कर सकता है। राम मंदिर, राफेल डील और राहुल गांधी तीनों परस्पर विरोधी ग्रह हैं। तीन शत्रु ग्रह अगर…
-राजेश माहेश्वरी (स्वतंत्र पत्रकार)* मोदी सरकार के साढ़े चार भले ही आराम से बीते है, लेकिन वर्ष 2019 भारतीय जनता पार्टी को आम चुनाव की परीक्षा देनी है। नतीजे बीजेपी के पक्ष में आएंगे या नहीं ये तो आने वाला वक्त बताएगा, लेकिन फिलवक्त बीजेपी अग्निपरीक्षा के दौर से गुजर रही है। हिन्दी पट्टी के तीन राज्यों में बीजेपी को सत्ता से बेदखल करने के बाद कांग्रेस का आत्मविश्वास सातवें…
-रमेश सर्राफ धमोरा (स्वतंत्र पत्रकार) हाल ही में सम्पन्न हुये पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस हिन्दी भाषी क्षेत्र के तीन महत्वपूर्ण राज्य मध्यप्रदेश, राजस्थान व छत्तीसगढ़ में अपनी सरकार बनाने में कामयाब रही है। कांग्रेस की कामयाबी का मुख्य कारण कांग्रेस द्वारा किसानो के कर्ज माफ करने की घोषणा को माना जा रहा है। देश में किसान आये दिन आत्महत्या कर अपनी जान गवां रहा है। जिसका मुख्य…
*विश्व पुस्तक मेला 2019 नई दिल्ली मुंबई (हम हिंदुस्तानी)- इंद्रप्रस्थ साहित्य भारती, दिल्ली ( पंजी.)सम्बद्ध अखिल भारतीय साहित्य परिषद द्वारा विश्व पुस्तक मेला 2019, प्रगति मैदान नई दिल्ली के हॉल न. 12 A के लेखक मंच सभागार में संगोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का विषय था *मानवता का उन्नायक- प्रयागराज महाकुम्भ*। प्रसिद्ध कवयित्री डॉ पूनम माटिया के सुदृढ़ संचालन में कार्यक्रम का आरम्भ रामलोचन जी की सरस्वती वंदना से…
-घनश्याम भारतीय * सामाजिक गतिविधियों का प्रतिबिंब दिखाने और उसमें व्यापक परिवर्तन का दम रखने के लिए समाज का दर्पण कहे गए साहित्य की अनेकानेक विधाओं में हास्य व्यंग्य एक प्रमुख विधा है। इसके माध्यम से पाठकों और श्रोताओं के मन को गुदगुदाते हुए उनके दिल में उतर कर व्यवस्था पर की जाने वाली चोट वास्तव में बहुत ही गहरी और परिवर्तन में कारगर सिद्ध होती है। महत्वपूर्ण तथ्य यह…
*उत्तर प्रदेश में किस करवट बैठेगा ऊंट? - योगेश कुमार गोयल लोकसभा को करीब 15 फीसदी सीटें देने वाले देश के बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में ‘बुआ-बबुआ’ का 38-38 सीटों पर गठबंधन हो जाने और देशभर में महागठबंधन बनाने की कोशिशों में जुटी कांग्रेस के इस सूबे में अलग-थलग पड़ जाने के बाद एक बार फिर यह बात आईने की तरह साफ हो गई है कि भारतीय राजनीति में न…
आगरा (हम हिंदुस्तानी)- बृजलोक साहित्य -कला- संस्कृति अकादमी व भारतीयम् साहित्य सभा-आगरा के संयुक्त तत्वावधान में वरिष्ठ साहित्यकार रवीन्द्र वर्मा जी के निवास वैभव रेजीडैंसी (आगरा) में काव्य गोष्ठी व सम्मान समारोह का आयोजन पावन पर्व मकर संक्रांति के अवसर पर किया गया | रवीन्द्र वर्मा जी द्वारा रचित काव्य पुस्तक - ‘खोज लें हम सत्य’ के लिए उन्हें बृजलोक अकादमी के सौजन्य से मुकेश कुमार ऋषि वर्मा द्वारा ‘श्रेष्ठ…
-सुरेश हिन्दुस्थानी (वरिष्ठ पत्रकार एवं स्तंभकार) लोकसभा चुनाव के लिए राजनीतिक दल अपनी संभावनाओं को तलाशते हुए दिखाई देने लगे हैं। खासकर केन्द्रीय भूमिका में विपक्षी दलों की इस बात के लिए कवायद की जाने लगी है कि कैसे भी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन यानी भाजपा नीत सरकार बनने से इस बार रोका जाए। मात्र इसीलिए उत्तरप्रदेश में पिछली बार लगभग मात खा चुके बसपा, सपा और कांग्रेस नए सिरे से…
-अब्दुल रशीद (लेखक,पत्रकार व स्तंभकार) देश की सियासत में उत्तर प्रदेश इसलिए अहम है क्योंकि केंद्र सरकार बनाने के लिए सबसे ज्यादा 80 लोकसभा सीट उत्तर प्रदेश में है। 2019 का चुनाव नजदीक है ऐसे में 25 वर्ष बाद सपा और बसपा के गठबंधन का एलान यकीनन बहुत महत्वपूर्ण है।मुलायम और काशीराम की ही तरह मायावती और अखिलेश यादव भी मिले। 25 वर्ष पहले सपा-बसपा की दोस्ती की नींव 1993…
-तनवीर जाफ़री दिल्ली के ऐतिहासिक रामलीला मैदान में पिछले दिनों भारतीय जनता पार्टी का दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन आयोजित किया गया। भाजपा सूत्रों के मुताबिक इस अधिवेशन में देशभर से लगभग 12 हज़ार प्रतिनिधियों ने भाग लिया। इन में पार्टी के मंत्री,सांसद,विधायक,पदाधिकारी तथा कार्यकर्ता आदि सभी शामिल थे। इस अधिवेशन में जहां पार्टी ने राजनैतिक व आर्थिक मुद्दों पर पार्टी के रुख को स्पष्ट करते हुए प्रस्ताव पारित किए वहीं…
Page 4 of 117

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें