articles

-संध्या चतुर्वेदी धर्म के विषय में एक श्लोक है :स्वधर्मे निधनं श्रेयः परधर्मो भयावहः अर्थात अपने धर्म के लिए मरना बी श्रेष्ठ है दूसरे धर्म के लिए मरना भयानक यानी की पीड़ा पहुंचाने वाला है हिंदू धर्म मैं कहा गया है की अपने धर्म के लिए अगर जान भी देनी पड़े तो व्यक्ति को संकोच नहीं करना चाहिए क्योंकि सब धर्म के लिए मरने पर गति की प्राप्ति होती है…
-नीरज त्यागीआज के खराब मौसम,आँधी और तूफान के बीच घर बैठे बैठे चाय की चुस्कियो के बीच अचानक तीन चार साल पुरानी घटना याद आ गयी है।सोचा अपने दोस्तों के साथ अपने उस बारिश और तूफान के बीच हुई घटना को सांझा किया जाए। ऐसे तूफान भरे मौसम मे दिल्ली से अपने घर गाजियाबाद अपनी कार से वापसी कर रहा था।हमेशा की तरह मैं हाईवे पर कार को 60-70 की…
-नीरज त्यागीजीवन में अत्यधिक झुकना भी उचित नही है,अहंकार मैं डूबे व्यक्तियों से सावधान रहें,जब दुध फट जाता है और पीने योग्य नही होता,आप उसमे कितना भी मीठा मिला लो उसमे कभी स्वाद नही आएगा,यहाँ फटे दुध से मेरा तात्पर्य उन लोगो से है जिनके मन में आपके लिए सम्मान नही हैं,अर्थार्थ आपके प्रति सम्मान ना रखने वाले व्यक्तियों के सामने हर समय मीठा बोलने का कोई फायदा नही है,इस…
-अब्दुल रशीदपाटीदारों के लिए सरकारी नौकरियों और उच्च शिक्षण संस्थानों में आरक्षण और किसानों की कर्जमाफी की मांग करते हुए हार्दिक पटेल 25अगस्त 2018 महाक्रांति रैली की तीसरी सालगिरह पर अनशन पर बैठे थे। इस अनशन के टूटने के साथ उनका तिलिस्म भी ढह गया, मांगो को मानना तो दूर सरकार का कोई नुमाइंदा उनसे मिलने तक नहीं पहुंचा,और न ही उनके अनशन को उनके अपनों का पूरा समर्थन मिला।18…
-निर्मल रानी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी ने पिछले दिनों मध्य प्रदेश विधानसभा के निकट भविष्य में होने वाले चुनावों के मद्देनज़र राजधानी भोपाल में एक विशाल रोड शो में हिस्सा लिया। इस रोड शो को जहां कांग्रेस जनों द्वारा राहुल गांधी के अब तक के सबसे सफल शक्ति प्रदर्शनों में एक के रूप में देखा गया वहीं कांग्रेस से सबसे अधिक भयभीत दिखाई देने वाली सत्तारूढ़ भाजपा…
- राजेश कुमार शर्मा"पुरोहित" (कवि,साहित्यकार)मनुष्य की इच्छाएं अनंत होती है। वह भोग विलासिता के साधन जुटाने के लिए इच्छा करता ही रहता है। दिन रात काम कर एक इच्छा पूर्ण कर लेता है फिर दूसरी इच्छा फिर तीसरी। ऐसे क्रम चलता ही रहता है। जिस वस्तु का घर मे अभाव रहता है हम उसकी इच्छा करते हैं।कोई महंगे साधन जुटाने की इच्छा रखता है तो कोई बड़ी बड़ी कलात्मक इमारतें…
Apurv Bajpai उत्तर प्रदेश में पिछले डेढ़ साल में जिस तरह से हर भर्ती पेपर लीक या कोर्ट के चक्कर में लंबित पड़ी है, उससे साफ़ है कि सरकार में बैठे अधिकारी इन भर्तियो को लेकर संवेदनशील नही है. देश का सबसे बड़ा राज्य होने के कारण उत्तर प्रदेश में बेरोजगारों की संख्या भी सबसे ज्यादा है, हर साल लाखो की संख्या में इंटर, ग्रेजुएशन पास करने वाले बच्चे जब…
-राहुल लाल (कूटनीतिक मामलों के विशेषज्ञ) केंद्र सरकार ने बैंक ऑफ बड़ौदा,विजया बैंक और देना बैंक के विलय का फैसला लिया है।तीनों को मिलाकर बनने वाला नया बैंक देश का तीसरा सबसे बड़ा बैंक होगा।विलय के प्रस्ताव पर अब तीनों बैंकों के बोर्ड विचार करेंगे।परंतु अब वह केवल औपचारिकता भर है।सरकार का यह कदम उसकी इस सोच का ताजा नमूना है कि उसे लगता है कि सरकारी बैंकों को सुदृढ़…
-डॉ प्रदीप उपाध्याय ट्रेन, वह भी एक्सप्रेस गाड़ी और उसके कोच में सांप निकल आए तो यात्रियों में दहशत होना स्वभाविक है लेकिन सांप ने भी अपने छुपने की जगह बेड रोल में बना ली!क्या उसे मालुम नहीं कि बेड रोल उसका बिल नहीं है।वहाँ से तो वह कभी भी पकड़ में आ सकता है।रेल्वे प्रशासन इस बात की जाँच करवा रहा है कि सांप आखिर ट्रेन में कैसे घुस…
*जानकारियां सुरक्षित होने के दावे कितने खरे? - योगेश कुमार गोयल(राजनीतिक विश्लेषक एवं वरिष्ठ पत्रकार) आधार कार्ड के डाटाबेस की सुरक्षा में सेंध को लेकर आए दिन नए-नए दावे सामने आ रहे हैं और विड़म्बना यह है कि आधार प्राधिकरण इस तरह के दावों को खारिज करने से ज्यादा कुछ नहीं कर पा रहा है। अब हाफिंगटन पोस्ट की तीन माह की पड़ताल के बाद एक रिपोर्ट में दावा किया…
Page 1 of 76

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें