articles

-प्रदीप श्रीवास्तव/निजामाबाद,तेलंगाना 17वीं लोकसभा चुनाव के लिए पहले चरण के मतदान में तेलंगाना की निजामाबाद जिले में लगभग 60% से अधिक लोगों ने मतदान किया। निजामाबाद जिले का यह मतदान अपने आप में इस लिए महत्व रखता है कि इस संसदीय क्षेत्र से 1,2,3 या 10 नहीं पूरे 185 प्रत्याशी के भाग्य आजमा रहे हैं। जिसमें मुख्य टक्कर तेलंगाना राष्ट्र समिति की प्रत्याशी पूर्व सांसद के कविता एवं भाजपा के…
-डॉ प्रदीप उपाध्यायलोकतांत्रिक व्यवस्था में जनप्रतिनिधियों को चुनना एक अनिवार्य प्रक्रिया है।चुनाव निष्पक्ष तरीक़े से सम्पन्न हो, यह लोकतंत्र को जीवित रखने के लिए जरूरी है।संवैधानिक प्रावधानों के अन्तर्गत संवैधानिक संस्थाएँ अपने दायित्वों का बिना किसी दबाव, प्रभाव एवं पक्षपात के निर्वाह करें,यह स्वस्थ्य लोकतंत्र की अनिवार्य शर्त है लेकिन हाल ही के वर्षों में संवैधानिक संस्थाओं पर भी ऊंगली उठने लगी है और उनकी निष्पक्षता पर भी संदेह किया…
-नवेन्दु उन्मेष, सीनियर पत्रकारआधी रात के वक्त मेरी गली में किसी ने जोर-जोर से चिल्लाया चोर-चोर। आवाजसुनते ही पूरा मुहल्ला जाग गया। किसी के हाथ में डंडा था तो किसी के हाथमें तलवार और भाला। कई लोग यह पूछने के लिए आये कि आखिर चोर किस ओर भागाऔर भाग तो आपने पकड़ा क्यों नहीं। कई लोगों ने कहा कि अगर चोर पकड़ा जातातो उसकी जमकर धुनाई की जाती। इसके बाद…
-अब्दुल रशीदलखनऊ से 367.1 किलोमीटर और दिल्ली से 867.1 किलोमीटर दूरी पर बसा रॉबर्ट्सगंज, उत्तर प्रदेश का एक लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र है,जिसका जिला मुख्यालय सोनभद्र है।रॉबर्ट्सगंज लोकसभा,अपने गर्भ में प्रकृतिक धनसंपदा को संजोए रखने के बावजूद आज जनप्रतिनिधियों और परियोजनाओं के उदासीनता के कारण प्रदूषण के प्रकोप से अभिशापित और विकास के किरण को मोहताज हैं। इस शहर का नामकरण ब्रिटिश-राज में अंग्रेजी सेना के फिल्ड मार्शल फ्रेडरिक रॉबर्ट के…
- योगेश कुमार गोयल विगत दिनों जब सुप्रीम कोर्ट ने ईवीएम के मतों की वीवीपैट पर्चियों से मिलान की संख्या पांच करने का निर्णय सुनाया था तो उम्मीद जगी थी कि इस निर्णय के बाद ईवीएम राग शांत हो जाएगा किन्तु प्रथम चरण के मतदान के बाद जिस प्रकार 21 विपक्षी दलों ने एकजुट होकर एक बार फिर ईवीएम में गड़बडि़यों के आरोप लगाकर सारा ठीकरा चुनाव आयोग पर फोड़ते…
-सुरेश हिन्दुस्थानीपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर यह आरोप कई बार लगते रहे हैं कि उनके दिल में बांग्लादेशियों के प्रति प्रेम उमड़ता है। बांग्लादेशी घुसपैठ के विरोध में मौन साधने वाली ममता बनर्जी के लिए बांग्लादेश के नेता और अभिनेता भी समर्थन की मुद्रा में खड़े दिखाई देते हैं। अभी हाल ही में पश्चिम बंगाल में कुछ इसी प्रकार का दृश्य दिखाई दिया। जिसमें एक बांग्लादेशी अभिनेता फिरदौस…
-सुरेश हिन्दुस्थानीलोकसभा चुनाव के लिए अभी केवल पहले चरण का ही मतदान हुआ है, लेकिन इस प्रथम चरण के मतदान के बाद विपक्ष ने फिर से ईवीएम पर भड़ास निकालने का उपक्रम प्रारंभ कर दिया है। पिछले कई चुनावों में प्राय: यही दिखाई दिया कि जो भी राजनीतिक दल चुनावों में विजयश्री का वरण करता है, उसके लिए ईवीएम सत्यवादी हरिशचंद्र की तरह सौ प्रतिशत खरी होती हैं, लेकिन यदि…
-ओम प्रकाश उनियाल बच्चों में बढ़ती आत्महत्या की प्रवृत्ति वास्तव में चिंताजनक विषय है। फांसी लगाकर, नदी में कूदकर, विषाक्त पदार्थ खाकर, रेल के आगे कूदकर आत्महत्या करना भी बच्चों में आम बात हो गयी है। आखिर बच्चों में यह मनोवृत्ति क्यों पनप रही है। इस पर समाज के साथ-साथ हरेक माता-पिता को गंभीरता से विचार करने की आवश्यकता है? बच्चों का मन बहुत ही संवेदनशील होता है, कल्पनाओं की…
Vibhooti Mani Tripathiदेश में इस समय चुनाव का माहौल अपने चरम पर पहुंच चुका है, हर एक राजनीतिक दल अपने अपने चुनावी घोषणा पत्र को देश की आम जनता के सामने रख रहा है । घोषणा पत्र का चुनाव में बहुत ही अहम स्थान होता है क्यूंकि घोषणा पत्र के जरिये ही राजनीतिक दल अपनी बात देश की आम जनता के सामने रखते हैं और घोषणा पत्र का आकलन करके…
जावेद अनीस देश में 17वें लोकसभा चुनाव के लिये वोटिंग शुरू हो चुकी है कुल 7 चरणों में वोटिंग के बाद 23 मई को इसके नतीजे घोषित किये जाने है. माना जा रहा कि 23 मई स्वतंत्र भारत के इतिहास में वह तारीख है जब यह निर्णायक फैसला हो जायेगा कि भारत किस रास्ते पर आगे बढ़ेगा? आजादी के आन्दोलन के गर्भ से निकले बहुलतावादी, उदार लोकतंत्र के रास्ते पर…
Page 1 of 68

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें