Close

Recent Posts

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात की; जम्मू-कश्मीर में रहने वाले कश्मीरी पंडितों सहित सभी हिंदुओं और सिखों के लिए सुरक्षा की स्थिति के साथ-साथ शिक्षा और रोजगार के अवसरों पर चर्चा की

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात की; जम्मू-कश्मीर में रहने वाले कश्मीरी पंडितों सहित सभी हिंदुओं और सिखों के लिए सुरक्षा की स्थिति के साथ-साथ शिक्षा और रोजगार के अवसरों पर चर्चा की

प्रमुख खबरें

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर
  • PublishedNovember 12, 2022

महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण सम्बन्धी वर्कशॉप का किया आयोजन
चंडीगढ़, -मुख्यमंत्री भगवंत मान की महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण की प्रतिबद्धता के अंतर्गत काम करते हुए महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण सम्बन्धी विभिन्न योजनाओं को लागू करना सुनिश्चित बनाया जा रहा है।
पंजाब के सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास मंत्री डॉ. बलजीत कौर ने यह जानकारी साझा करते हुए बताया कि पंजाब सरकार राज्य की महिलाओं को आर्थिक रूप से मज़बूत करने सम्बन्धी पूरी तनदेही से काम कर रही है। उन्होंने बताया कि पंजाब सरकार महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण के लिए हर संभव कदम उठाएगी।
कैबिनेट मंत्री ने बताया कि इसी उद्देश्य के अंतर्गत आज महात्मा गांधी स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन (मगसीपा) में ‘महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण सम्बन्धी’ विषय पर वर्कशॉप करवाई गई।
कैबिनेट मंत्री ने बताया कि इस वर्कशॉप में महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए चल रही योजनाओं को सुचारू ढंग से लागू करने और इससे सम्बन्धित प्रक्रियाओं और प्रणालियों संबंधी विस्तार में विचार-विमर्श किया गया।
इस वर्कशॉप में विभिन्न क्षेत्रों के लगभग 35 प्रतिनिधियों द्वारा भाग लिया गया, जिनमें सामाजिक सुरक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग, ग्रामीण विकास विभाग, शिक्षा विभाग, श्रम विभाग, सामाजिक न्याय विभाग, कृषि विभाग के अधिकारियों के अलावा यूनिवर्सिटियों के खोजी विद्वानों, कानूनी माहिरों, स्व-सहायता ग्रुपों के सदस्यों, जि़ले और ब्लॉक स्तर के अधिकारियों और अन्य क्षेत्रों के माहिर शामिल हुए।
इस वर्कशॉप के दौरान सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास विभाग के अतिरिक्त सचिव विम्मी भुल्लर, अतिरिक्त निदेशक लिल्ली चौधरी और अलग-अलग विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Written By
bhangu