Close

Recent Posts

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात की; जम्मू-कश्मीर में रहने वाले कश्मीरी पंडितों सहित सभी हिंदुओं और सिखों के लिए सुरक्षा की स्थिति के साथ-साथ शिक्षा और रोजगार के अवसरों पर चर्चा की

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात की; जम्मू-कश्मीर में रहने वाले कश्मीरी पंडितों सहित सभी हिंदुओं और सिखों के लिए सुरक्षा की स्थिति के साथ-साथ शिक्षा और रोजगार के अवसरों पर चर्चा की

भारत

स्टॉप टीबी पार्टनरशिप के कार्यकारी निदेशक डॉ. लुसिका दितिउ ने वैश्विक टीबी उन्मूलन को लेकर अभूतपूर्व काम करने वाले भारत सरकार के नेतृत्व की सराहना की

स्टॉप टीबी पार्टनरशिप के कार्यकारी निदेशक डॉ. लुसिका दितिउ ने वैश्विक टीबी उन्मूलन को लेकर अभूतपूर्व काम करने वाले भारत सरकार के नेतृत्व की सराहना की
  • PublishedNovember 11, 2022

स्टॉप टीबी पार्टनरशिप के कार्यकारी निदेशक डॉ. लुसिका दितिउ और उनकी टीम ने केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ मनसुख मंडाविया से मुलाकात की और वैश्विक टीबी उन्मूलन कार्यक्रम का नेतृत्व करने में “भारत सरकार द्वारा अभूतपूर्व नेतृत्व” की सराहना की। डॉ. दितिउ ने एक मजबूत दृष्टि प्रदान करने के लिए भारत के प्रयासों की भी प्रशंसा की। इस कार्यक्रम के तहत प्रभावी प्रबंधन और महत्वपूर्ण प्रोग्रामेटिक और नीतिगत हस्तक्षेपों के त्वरित कार्यवाही की जाती है। इसमें नए डॉग्नोस्टिक टेस्ट, सोशल सपोर्ट इनिशियटिव और त्वरित प्रयास से टीबी का एक नया टीका विकसित करना शामिल है। चर्चा में टीबी को खत्म करने के लिए भारत की मजबूत नेतृत्व की भूमिका और भारत की आगामी जी20 प्रेसीडेंसी के माध्यम से विश्व स्तर पर टीबी की बात को आगे बढ़ाने पर भी ध्यान केंद्रित किया गया।

डॉ. मंडाविया स्टॉप टीबी पार्टनरशिप बोर्ड के अध्यक्ष के रूप में भी कार्य कर रहे हैं। उनका यह कार्यकाल 2024 तक है। इस बैठक के दौरान डॉ मंडाविया 25-26 मार्च, 2023 को वाराणसी में स्टॉप टीबी पार्टनरशिप की 36वीं बोर्ड बैठक की मेजबानी करने के लिए सहमत हुए। बोर्ड की बैठक 24 मार्च, 2023 को एक उच्च स्तरीय कार्यक्रम से पहले होगी, जिसे विश्व स्तर पर विश्व टीबी दिवस के रूप में भी मनाया जाता है।

समूह ने प्रधानमंत्री टीबी मुक्त भारत अभियान के शुभारंभ की भी सराहना की। इस पहल के माध्यम से 40,492 से अधिक दाता देश भर में 10,45,269 से अधिक रोगियों के लिए आगे आए हैं। इसमें टीबी रोगियों के उपचार के अतिरिक्त सोशल सपोर्ट मुहैया करना और टीबी को समाप्त करने के लिए एक समुदाय के नेतृत्व वाले आंदोलन को लाभकारी बनाना शामिल हैं। डॉ. दितिउ ने इस पहल के माध्यम से दस टीबी रोगियों को मदद देने की प्रतिबद्ध भी जताई।

स्टॉप टीबी पार्टनरशिप

‘स्टॉप टीबी पार्टनरशिप’ एक अंतरराष्ट्रीय संगठन है जो दुनिया भर के स्टेकहोल्डर्स को एक साथ एक मंच पर लाने के लिए काम कर रहा है, जिसका मिशन टीबी की चपेट में आने वाले हर व्यक्ति की सेवा करना है और यह सुनिश्चित करना है कि उच्च गुणवत्ता वाले निदान, उपचार और देखभाल उन सभी के लिए उपलब्ध है जिन्हें इसकी आवश्यकता है। इसकी स्थापना 2001 में हुई थी और इसके सचिवालय की मेजबानी स्विट्जरलैंड के जिनेवा में यूनाइटेड नेशंस ऑफिस फॉर प्रोजेक्ट सर्विसेज (यूएनओपीएस) द्वारा की जाती है।

अंतरराष्ट्रीय और तकनीकी संगठनों, सरकारी कार्यक्रमों, अनुसंधान और वित्त पोषण एजेंसियों, फाउंडेशनों, गैर सरकारी संगठनों, नागरिक समाज, सामुदायिक समूहों और निजी क्षेत्र सहित अपने 1700 से अधिक भागीदारों के माध्यम से, यह टीबी को खत्म करने के लिए चिकित्सा, सामाजिक और वित्तीय पहलुओं में विशेषज्ञता रखता है। ‘स्टॉप टीबी पार्टनरशिप’ कार्यक्रम एक सार्वजनिक-निजी भागीदारी बोर्ड द्वारा संचालित होता है। वर्तमान में, माननीय केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री 2024 तक तीन साल के कार्यकाल के लिए स्टॉप टीबी पार्टनरशिप के बोर्ड का नेतृत्व कर रहे हैं और टीबी उन्मूलन कार्यक्रम का समर्थन करने के लिए भारत की प्रतिबद्धता का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

 

Written By
bhangu