Close

Recent Posts

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात की; जम्मू-कश्मीर में रहने वाले कश्मीरी पंडितों सहित सभी हिंदुओं और सिखों के लिए सुरक्षा की स्थिति के साथ-साथ शिक्षा और रोजगार के अवसरों पर चर्चा की

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात की; जम्मू-कश्मीर में रहने वाले कश्मीरी पंडितों सहित सभी हिंदुओं और सिखों के लिए सुरक्षा की स्थिति के साथ-साथ शिक्षा और रोजगार के अवसरों पर चर्चा की

कारोबार

भारी उद्योग मंत्रालय में विशेष अभियान 2.0 स्वच्छता और लंबित मामलों को कम करने पर केंद्रित

भारी उद्योग मंत्रालय में विशेष अभियान 2.0 स्वच्छता और लंबित मामलों को कम करने पर केंद्रित
  • PublishedNovember 1, 2022

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की परिकल्पना और अभियान से प्रेरणा लेते हुए स्वच्छता को संस्थागत बनाने और सरकार में लंबित मामलों को कम करने के लिए भारी उद्योग मंत्रालय ने 2 अक्टूबर से 31 अक्टूबर 2022 तक लंबित मामलों के निपटान, स्थान प्रबंधन के लक्ष्य को प्राप्त करने और पर्यावरण को स्वच्छ और हरा-भरा बनाने के लिए विशेष प्रोत्साहन के साथ एक विशेष अभियान 2.0 शुरू किया था।

मंत्रालय ने इस उद्देश्य को आगे बढ़ाते हुए अभियान के लिए निर्धारित लक्ष्यों को पहले ही प्राप्त कर लिया है और लाभकारी उपयोग और कबाड़ तथा अनावश्यक सामग्री की बिक्री से प्राप्त राजस्व और कबाड़ हटाने से खाली की गई जगह की दिशा में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त की है।

मंत्रालय देश भर में फैले अपने केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों-सीपीएसई और स्वायत्त निकायों के साथ कबाड़ और अपशिष्ट सामग्री के निपटान की दिशा में सक्रिय रूप से काम कर रहा है। इस प्रकार कार्यालय स्थान, व्यायामशाला, पुस्तकालय, कैंटीन इत्यादि जैसे लाभकारी उपयोग के लिए 20.32 लाख वर्ग फुट जगह बना रहा है और पर्यावरण को स्वस्थ बना रहा है।

मंत्रालय के सभी कार्यालयों में साफ-सफाई, फाइलों की समीक्षा/हटाना, जगह के लाभदायक उपयोग आदि से संबंधित गतिविधियां चलाई जा रही हैं। अभिलेख प्रबंधन, भौतिक अभिलेखों के डिजिटलीकरण में अधिकारियों को विशेष प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

अभियान के दौरान 84890 फाइलों की समीक्षा की गई, जिनमें से 52445 फाइलों को हटा दिया गया। कबाड़ को हटाने के लिए की गई बिक्री से प्राप्त आय से 5.71 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ है।

एक समर्पित टीम द्वारा दैनिक प्रगति की निगरानी की जा रही है और इसे प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग द्वारा आयोजित एससीपीडीएम पोर्टल पर अपलोड किया जा रहा है। मंत्रालय में स्वच्छता के प्रति उत्साह और उमंग चरम पर है।

महीने भर चलने वाले अभियान का समापन 31 अक्टूबर 2022 को हो गया है, लेकिन मंत्रालय में सभी अधिकारियों और कर्मचारियों ने स्वच्छता को जीवन का एक तरीका बना लिया है जो कभी समाप्त नहीं होगा और इसमें और अधिक वृद्धि आएगी।

 

Written By
bhangu