Close

Recent Posts

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात की; जम्मू-कश्मीर में रहने वाले कश्मीरी पंडितों सहित सभी हिंदुओं और सिखों के लिए सुरक्षा की स्थिति के साथ-साथ शिक्षा और रोजगार के अवसरों पर चर्चा की

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात की; जम्मू-कश्मीर में रहने वाले कश्मीरी पंडितों सहित सभी हिंदुओं और सिखों के लिए सुरक्षा की स्थिति के साथ-साथ शिक्षा और रोजगार के अवसरों पर चर्चा की

Uncategorized

उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (डीपीआईआईटी) ने बी20 इंडोनेशिया ग्लोबल डायलॉग पर सम्मेलन की मेजबानी की

उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (डीपीआईआईटी) ने बी20 इंडोनेशिया ग्लोबल डायलॉग पर सम्मेलन की मेजबानी की
  • PublishedOctober 11, 2022

उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (डीपीआईआईटी) ने आज नई दिल्ली में भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के साथ साझेदारी में बी20 इंडोनेशिया ग्लोबल डायलॉग पर सम्मेलन की मेजबानी की। इसका उद्देश्य भारतीय उद्योग के दृष्टिकोण को बी20 इंडोनेशिया की नीतिगत सिफारिशों के समरूप बनाना है। यह समारोह बी20 इडोनेशिया की नीतिगत सिफोरिशों में भारतीय उद्योग के दृष्टिकोण का सही प्रतिनिधित्व सुनिश्चित करने के लिए एक संवाद का मंच प्रदान करेगा।

बिजनेस 20 (बी20), 2010 में गठित, वैश्विक व्यापार समुदाय के साथ आधिकारिक जी20 संवाद का मंच है। बी20 का उद्देश्य आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए प्रत्येक रोटेटिंग अध्यक्ष द्वारा प्राथमिकताओं पर ठोस कार्रवाई योग्य नीतिगत सिफारिशें देना है।

इंडोनेशिया के 20 से अधिक व्यापार प्रतिनिधियों ने सम्मेलन में भाग लिया जिसमें इंडोनेशियाई चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (काडिन) के अध्यक्ष श्री एम अरस्जाद रासजीद पी.एम, बी20 इंडोनेशिया की अध्यक्ष सुश्री शिंटा विद्जाजाकामदानी के साथ-साथ भारत में इंडोनेशियाई राजदूत महामहिम इना एच.कृष्णामूर्ति भी शामिल थीं।

भारत सरकार का प्रतिनिधित्व जी20 में भारत के शेरपा श्री अमिताभ कांत, उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग के सचिव श्री अनुराग जैन और डीपीआईआईटी और अन्य संबंधित मंत्रालयों के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने किया।

वहीं भारतीय उद्योग का प्रतिनिधित्व कई बिजनेस लीडर्स ने किया जिनमें श्री चंद्रजीत बनर्जी, महानिदेशक, सीआईआई; डॉ. नौशाद फोर्ब्स, पूर्व अध्यक्ष, भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) और श्री दीपक बागला, एमडी और सीईओ, इन्वेस्ट इंडिया शामिल हैं।

उद्घाटन और परिचयात्मक संबोधन के बाद (i) व्यापार और निवेश (ii) ऊर्जा, स्थिरता और जलवायु (iii) डिजिटलीकरण और (iv) वित्त और बुनियादी ढांचे पर चर्चा आयोजित की गई, जहां बी20 इंडोनेशिया के दृष्टिकोण के बाद भारतीय उद्योग और भारत सरकार के दृष्टिकोण पर बात हुई।

जी20 19 देशों+ यूरोपीय संघ का एक समूह है, जो एक साथ वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद का लगभग 85 प्रतिशत, वैश्विक व्यापार का 75 प्रतिशत और दुनिया की 60 प्रतिशत आबादी का प्रतिनिधित्व करता है। G20 के सदस्य अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, कोरिया गणराज्य, मैक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्की, यूनाइटेड किंगडम, संयुक्त राज्य अमेरिका, और यूरोपीय संघ हैं। इंडोनेशिया वर्तमान में जी20 की अध्यक्षता कर रहा है।

वार्ता 13-14 नवंबर 2022 को इंडोनेशिया में होने वाले बी20 फाइनल शिखर सम्मेलन का भी मार्ग प्रशस्त करेगी।

Written By
bhangu