Close

Recent Posts

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात की; जम्मू-कश्मीर में रहने वाले कश्मीरी पंडितों सहित सभी हिंदुओं और सिखों के लिए सुरक्षा की स्थिति के साथ-साथ शिक्षा और रोजगार के अवसरों पर चर्चा की

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात की; जम्मू-कश्मीर में रहने वाले कश्मीरी पंडितों सहित सभी हिंदुओं और सिखों के लिए सुरक्षा की स्थिति के साथ-साथ शिक्षा और रोजगार के अवसरों पर चर्चा की

भारत

सी.बी.आई.सी द्वारा हिन्दी पखवाड़ा समापन समारोह का आयोजन

सी.बी.आई.सी द्वारा हिन्दी पखवाड़ा समापन समारोह का आयोजन
  • PublishedSeptember 30, 2022

सरकारी कार्य में हिन्दी के प्रगामी प्रयोग को बढ़ावा देने के लिए केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड (सी.बी.आई.सी.) द्वारा दिनांक 14 से 29 सितम्बर,2022 तक हिन्दी पखवाड़ा, 2022 मनाया गया। सी.बी.आई.सी. के संबद्ध एवं अधीनस्थ सभी कार्यालयों में कार्मिकों को हिन्दी में कार्य करने के लिए प्रोत्साहित करने हेतु विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताएँ जैसे निबंध लेखन, प्रश्नोत्तरी,वाद-विवाद आदि आयोजित की गई।

सी.बी.आई.सी. के अध्यक्ष श्री विवेक जौहरी, मुख्य अतिथि की अध्यक्षता में पखवाड़े के अंतिम दिन दिनांक 29-09-2022 को एक समारोह का आयोजन नई दिल्ली में किया गया। इस आयोजन में सी.बी.आई.सी. के वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया ।

इस अवसर पर बोलते हुए अध्यक्ष सी.बी.आई.सी. ने कहा कि सभी अधिकारी यह सुनिश्चित करने के लिए सामूहिक प्रयास करें कि सभी कार्यालयों के कार्य में अधिकाधिक हिंदी का उपयोग किया जाए।

सदस्य प्रशासन, सी.बी.आई.सी. सुश्री संगीता शर्मा ने अपने संबोधन में कहा कि प्रत्येक अधिकारी को राजभाषा नीति के कार्यान्वयन में योगदान देना चाहिए और सभी आधिकारिक संचार के साथ-साथ दिन-प्रतिदिन के कार्यों में हिंदी का उपयोग करने का प्रयास करना चाहिए।

निष्पादन प्रबंधन महानिदेशालय (डी.जी.पी.एम.) सी.बी.आई.सी. में राजभाषा कार्यान्वयन के लिए नोडल कार्यालय है। उप निदेशक (राजभाषा), डी.जी.पी.एम. द्वारा राजभाषा नीति के विभिन्न प्रावधानों और आधिकारिक कार्यों के लिए हिंदी के उपयोग के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए एक प्रस्तुति दी गई। यह भी बताया गया कि वर्ष 2020-21 के लिए राजभाषा विभाग द्वारा दिए गए क्षेत्रीय राजभाषा पुरस्कारों के लिए सी.बी.आई.सी. के 5 अधीनस्थ कार्यालयों को विभिन्न श्रेणियों के तहत चुना गया है।

हिन्दी पखवाड़ा समापन समारोह के दौरान एक हिन्दी नाटक का प्रस्तुतीकरण हुआ जिसमें भारत में अप्रत्यक्ष कर प्रणाली के इतिहास को दर्शाया गया। सी.बी.आई.सी. अध्यक्ष द्वारा निष्पादन प्रबंधन महानिदेशालय (डी.जी.पी.एम.) के विभिन्न अधिकारियों की लेखों और कविताओं से संकलित हिन्दी पत्रिका “इंद्रप्रस्थ” का विमोचन किया गया। श्री कुन्दन यादव, अपर आयुक्त, चंडीगढ़ सीजीएसटी जोन को भी सी.बी.आई.सी. अध्यक्ष द्वारा, हिंदी लेखक के रूप में उनकी उपलब्धियों के लिए सम्मानित किया गया, जिनकी हाल ही में पुस्तक (गंडासा गुरु की शपथ) प्रकाशित हुई है।

Written By
bhangu