Close

Recent Posts

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर

महिला सशक्तिकरण ‘आप’ सरकार की मुख्य प्राथमिकता, हम मुख्यमंत्री भगवंत मान के योग्य नेतृत्व अधीन महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को सुनिश्चित बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: बलजीत कौर

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात की; जम्मू-कश्मीर में रहने वाले कश्मीरी पंडितों सहित सभी हिंदुओं और सिखों के लिए सुरक्षा की स्थिति के साथ-साथ शिक्षा और रोजगार के अवसरों पर चर्चा की

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष इकबाल सिंह लालपुरा ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात की; जम्मू-कश्मीर में रहने वाले कश्मीरी पंडितों सहित सभी हिंदुओं और सिखों के लिए सुरक्षा की स्थिति के साथ-साथ शिक्षा और रोजगार के अवसरों पर चर्चा की

प्रमुख खबरें भारत

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बेंगलुरु में दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन ‘मंथन’ का उद्घाटन किया

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बेंगलुरु में दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन ‘मंथन’ का उद्घाटन किया
  • PublishedSeptember 16, 2022

09-09-2022-केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने आज बेंगलुरु में दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन ‘मंथन’ का उद्घाटन किया। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जल, विद्युत, परिवहन और संचार, चार क्षेत्र हमारे देश को आर्थिक महाशक्ति बना सकते हैं।

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने आज बेंगलुरु में दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन ‘मंथन’ का उद्घाटन किया। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जल, विद्युत, परिवहन और संचार, चार क्षेत्र हमारे देश को आर्थिक महाशक्ति बना सकते हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री के भारत को आत्मनिर्भर बनाने की परिकल्पना पर बल देकर कहा कि इन चार क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर विकास से पांच ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था परिकल्पना को साकार किया जा सकता है।

केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि विदर्भ में अमृत सरोवर कार्यक्रम के कार्यान्वयन से राष्ट्रीय राजमार्ग के विकास के साथ-साथ जल संरक्षण, बेहतर भूजल, सतत कृषि और किसानों की आय में वृद्धि हुई है। साथ ही उन्होंने ज़ोर दिया कि केंद्र सरकार के गति-शक्ति कार्यक्रम से बंदरगाह संपर्क में सुधार होगा और माल परिवहन के लिए सड़कों पर निर्भरता कम होगी और इससे परिवहन की लागत कम होगी और निर्यात में भी मदद मिलेगी।

Written By
bhangu