लंदनः पंजाब नेशनल बैंक में हजारों करोड़ रुपए के धन शोधन तथा धोखाधडी का मुख्य आरोपी नीरव मोदी राजनीतिक शरण की तलाश में भाग कर ब्रिटेन पहुंच गया है। मीडिया की रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है।फाइनेन्शियल टाइम्स ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि भारत और ब्रिटेन के अधिकारी कह रहे हैं कि वर्ह नीरव मोदी लंदन में है, जहां उसकी कंपनी का एक स्टोर है। यहां वह शरण पाने की कोशिश कर रहा है। ब्रिटेन के विदेश कार्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से रिपेार्ट में कहा गया हैं। हमेशा ऐसे जटिल मामले होते हैं, जो भारत के साथ हमारे संबंध में थोड़ा तनाव और मसाला जोड़ देते हैं, लेकिन दोनों पक्षों की ओर से हमेशा उत्साह बढ़ाने वाली बात यह है कि हमारे पास कानूनी प्रक्रिया है, जिसका पालन होना चाहिए।नीरव मोदी और उसके मामा पर पंजाब नेशलन बैंक के साथ हजारों करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का आरोप है और प्रवर्तन निदेशालय इसकी जांच कर रहा है। मामला सामने आने के बाद अन्य जांच एजेंसियां भी इन दोनों के अलाव अन्य लोगों की भी जांच कर रही है। इससे पहले कि दोनों पर आपराधिक मामले दर्ज हो पाते दोनों देश छोड़ कर फरार हो गए। नई दिल्ली में अधिकारियों ने कहा है कि सीबीआई ने इस मामले में मई में मुंबई की अदालत में दो आरोप पत्र दाखिल किए थे। प्रवर्तन निदेशालय ने भी इस मामले में अपना आरोप पत्र दाखिल किया है। भारत नौ हजार करोड़ रुपए के धन शोधन के मामले के आरोपी शराब माफिया विजय माल्या के भी प्रत्यर्पण का प्रयास कर रहा है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें