दुनिया

दुनिया (2208)


नई दिल्ली - पाकिस्तान के मशहूर नेता और पूर्व क्रिकेटर इमरान खान पर उन्हीं की पार्टी की एक महिला ने अश्लील मेसेज भेजने का आरोप लगाया हैं। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के चीफ इमरान पर आरोप लगाने के बाद महिला नेता आयशा गुलालई ने पार्टी और नेशनल असेंबली, दोनों की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। आयशा ने इमरान खान पर पार्टी की महिला नेताओं के उत्पीड़न का आरोप लगाया है। हालांक, पीटीआई ने इन आरोपों को खारिज करते हुआ कहा है कि आयशा ने पैसे के लिए पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएलएन) को अपनी 'आत्मा' बेच दी है।
प्रेस कॉन्फ्रेंस में किया खुलासा...
साउथ वजीरिस्तान के आदिवासी इलाके से आने वाली आयशा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में आरोप लगाया कि पीटीआई से जुड़ी महिलाओं की इज्जत सुरक्षित नहीं है। पार्टी छोड़ने की घोषणा करते हुए आयशा ने कहा, 'मेरी ईमानदारी मेरे लिए सबसे अधिक मायने रखती है और जब बात सम्मान और इज्जत की हो मैं समझौता नहीं कर सकती।'
इमरान को कहा दो नंबर का पठान
आयशा ने इमरान पर पार्टी की महिला नेताओं को अश्लील मेसेज भेजने का भी आरोप लगाया। हालांकि उन्होंने मैसेज की जानकारी देने से इनकार करते हुए कहा कि 'वे इतने घटिया हैं कि कोई भी उन्हें बर्दाश्त नहीं कर सकता।' खान पर निशाना साधते हुए आयशा ने कहा कि वह 'मानसिक समस्या' से जूझ रहे हैं और अपने से बेहतर लोगों से उन्हें जलन होती है। आयशा ने खैबर-पख्तूनख्वा की पीटीआई सरकार और चीफ मिनिस्टर परवेज खट्टक पर भी भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं। आयशा ने इमरान खान को चरित्रहीन बताते हुए दो नंबर का पठान कहा है।
नवाज भ्रष्ट हो सकते हैं चरित्रहीन नहीं...
आयशा ने इमरान पर आरोप लगाया कि उन्होंने पाकिस्तान को इंग्लैंड समझ रखा है। हालांकि, पार्टी को छोड़ते हुए आयशा ने पीएमएलएन में शामिल होने से इनकार किया, लेकिन नवाज की तारीफ भी कर दी। आयशा ने कहा कि नवाज शरीफ भ्रष्ट हो सकते हैं लेकिन महिलाओं की इज्जत नहीं करने का आरोप आप उन पर नहीं लगा सकते। आयशा ने नवाज को खानदानी आदमी बताया।


हेरात - अफगानिस्तान के पश्चिमी शहर हेरात में एक शिया मस्जिद में हुए जबरदस्त विस्फोट में 29 से अधिक लोगों की मौत हो गयी और 64 से अधिक लोग घायल हो गये हैं।
पुलिस प्रवक्ता अब्दुलहाई वलीजादा ने बताया कि कल हुए हमले के प्रारंभिक जांच से लग रहा है कि हमलवार एक से अधिक की संख्या में थे। इनमें से एक फिदायीन हमलावर रहा होगा जिसने मस्जिद के भीतर विस्फोट करके खुद को उड़ा लिया और अन्य हमलावरों ने नमाजियों पर ग्रेनेड दागे।
इस हमले में घायल एक नमाजी मोहम्मद आदी ने बताया कि दो हमलावर मस्जिद के अंदर आकर गोलियां चलानी शुरू कर दी तथा नमाजियों पर ग्रेनेड दागे। हेरात के गवर्नर मोहम्मद आसिफ रहिमी ने कहा कि इस हमले में कम से कम 29 लोगों की मौत हो गयी तथा 64 अन्य घायल हो गये हैं। उन्होंने कहा कि किसी भी आतंकवादी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।


काबुल - अफगानिस्तान में अल्पसंख्यक शिया मस्जिद के अंदर हुए एक विस्फोट में कम से कम 20 लोगों की मौत हो गई है। यह धमाका ईरान की सीमा के साथ लगे पश्चिमी हेरात में स्थित मस्जिद में हुआ है।
आधिकारिक डॉ मोहम्मद रफीक शिरजाद ने कहा, पश्चिमी हेरात प्रांत की राजधानी हेराट शहर से 20 शवों को मुख्य अस्पताल में लाया गया था। ये धमाका देर शाम को हुआ है।
अफ़ग़ानिस्तान में शिया अल्पसंख्यक हैं और देश के पूर्व से चलने वाला इस्लामिक स्टेट (IS) उन्हें धमकी देता रहता है।
हालांकि अभी किसी ने भी हेरात की जवाडिया मस्जिद पर हमले की जिम्मेदारी नहीं ली।


लॉस एंजिलिस - अमेरिका के लॉस एंजिलिस शहर में स्थित चीनी वाणिज्य दूतावास पर मंगलवार सुबह फायरिंग की गई। फायरिंग में दूतावास से संबंधित किसी व्यक्ति को नुकसान नहीं पहुंचा लेकिन इमारत पर गोलियां लगी हैं। फायरिंग के बाद हमलावर ने अपनी कार में बैठकर खुद को गोली मार ली। घटना में हमलावर की जान चली गई है। पुलिस घटना की जांच में जुट गई है। चीनी दूतावास ने सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम की प्रशासन से अपेक्षा की है।
लॉस एंजिलिस पुलिस के प्रवक्ता माइकेल लॉपेज के अनुसार फायरिंग वाणिज्य दूतावास खुलने से पहले हुई। दूतावास की दीवार पर गोलियों के निशान पाए गए। इसके बाद हमलावर अपनी कार में मृत अवस्था में पाया गया। गन उसकी लाश के पास पड़ी थी। हमलावर के बारे में जानकारियां एकत्रित की जा रही हैं।
चीनी समाचार एजेंसी शिन्हुआ के अनुसार हमलावर करीब 60 साल का था और देखने में वह एशियाई मूल का लग रहा था। यह जानकारी दूतावास के अधिकारी ने दी है जिसने हमले के बाद पुलिस बुलाई। दूतावास के सुरक्षाकर्मियों के अनुसार हमलावर ने बिल्डिंग की ओर 17 फायर किये।
इसके चलते कई गोलियां खिड़कियों और दीवारों पर लगी हैं। इससे पहले 2011 में भी चीनी मूल का एक अमेरिकी नागरिक ने इसी इमारत पर फायरिंग की थी। पुलिस ने उसे मौके पर ही गिरफ्तार कर लिया था। चीनी दूतावास ने एक बयान जारी करके अमेरिकी प्रशासन से घटना पर चिंता जताई है। साथ ही दूतावास और राजनयिकों की सुरक्षा के लिए पर्याप्त इंतजाम करने को कहा है।


मॉस्को - मॉस्को की एक स्थानीय कोर्ट में हुई गोलीबारी में तीन आरोपियों की मौत हो गई है। ये आरोपी मुकदमे की सुनवाई के लिए अदालत लाए गए थे। तभी इन्होंने कोर्ट के सुरक्षा अधिकारियों के हथियार छीनकर भागने की कोशिश की। इस दौरान पुलिस की ओर से की गई गोलीबारी में तीन आरोपी मारे गए, जबकि दो घायल हो गए। घटना में तीन कानून प्रवर्तन अधिकारी भी घायल हुए हैं। पेशी के लिए कुल नौ आरोपी कोर्ट लाए गए थे।
रशियन इंवेस्टीगेटिव कमेटी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि आरोपियों को दो सुरक्षा गार्ड अपने घेरे में लिए थे। इस दौरान एक ने गार्ड का गला दबाने की कोशिश की और अन्य आरोपी सुरक्षाकर्मियों के हथियार छीनकर भागने लगे। तभी अदालत परिसर में उपस्थित अन्य सुरक्षा कर्मियों ने उनका पीछा किया और तीन आरोपियों को मार गिराया। घटना में दो सुरक्षा कर्मी भी घायल हुए हैं।
प्रशासन ने बताया कि यह घटना तब हुई, जब नौ लोगों के एक गैंग को सुनवाई के लिए अदालत लाया गया था। वे सभी एक दर्जन से अधिक मोटरसाइकिल सवारों की हत्या के मामले में संदिग्ध हैं।रूसी नेशनल गार्ड के प्रवक्ता येवेग्ने कुबयशकिन ने बताया कि तीन कानून प्रवर्तन अधिकारी भी घायल हुए हैं। इससे पहले आरोपियों की वकील ने मामले में मुख्य जांचकर्ता का हवाला देते हुए कहा था कि गोलीबारी में चार आरोपियों की मौत हो गई है।
अभियोजन पक्ष के वकील ने बताया कि गैंग के सदस्य सड़कों पर कांटे फैला देते थे, जिस कारण मोटरसाइकिल सवारों को अपने वाहन को रोकना या धीमे करना पड़ता था। तभी गैंग के लोग उनकी गोली मारकर हत्या कर देते थे। सभी नौ आरोपी मध्य एशिया से हैं। उन पर 17 हत्याएं और दो हत्या की कोशिश के आरोप हैं।

इस्लामाबाद - पाकिस्तान में राजनीतिक संकट थमता नजर नहीं आ रहा। अंतरिम प्रधानमंत्री के तौर पर नामित शाहिद अब्बासी के खिलाफ भी भ्रष्टाचार की जांच चल रही है। इसी तरह भावी प्रधानमंत्री माने जा रहे नवाज के भाई शाहबाज शरीफ भी ऐसे कई मामलों में घिरे हैं। ऐसे में दोषी पाए जाने पर दोनों को जेल जाना पड़ सकता है।
नवाज शरीफ के इस्तीफे के बाद शाहिद अब्बासी को सत्ताधारी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) की ओर से अंतरिम प्रधानमंत्री चुना जा चुका है, फिर भी सियासी गलियारों में अनिश्चितता भरा माहौल रहेगा। अब्बासी 22 हजार करोड़ रुपये के एलपीजी आयात घोटाले में आरोपित हैं। उन पर साल 2013 में एक कंपनी को ठेका देने में पद का दुरुपयोग करने का आरोप है। इस मामले में साल 2015 में राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) ने उनके खिलाफ केस दर्ज किया था।
एनएबी के सूत्रों का कहना है कि इस मामले में सार्वजनिक खरीद विनियामक प्राधिकरण के कायदों को ताक पर रखा गया। एनएबी इस मामले की जांच काफी आगे बढ़ा चुकी है। गौरतलब है कि पनामालीक मामले में नवाज के भ्रष्टाचार की जांच भी एनएबी ने की थी। इसी तरह भावी प्रधानमंत्री और नवाज के भाई शाहबाज शरीफ पर भी भ्रष्टाचार को लेकर उंगलियां उठती रही हैं। वह साल 2014 के मॉडलटाउन केस में भी आरोपी हैं। तब पुलिस की गोलियों से 14 लोगों की मौत हो गई थी और 90 से अधिक घायल हुए थे। इस मामले में दोषसिद्ध होने पर शाहबाज को जेल जाना पड़ सकता है।
कलसुम नवाज हो सकती हैं विकल्प
नवाज शरीफ की बेटी मरियम को उनका राजनैतिक वारिस माना जा रहा। लेकिन पनामा पेपरलीक में उन्हें भी दोषी करार दिए जाने के बाद स्थिति बदल गई। इसके बाद ही शाहबाज और अब्बासी का नाम आगे आया। भविष्य में अगर इन दोनों को भी अयोग्य ठहराया गया तो नवाज की पत्नी कलसुम पीएमएल-एन की ओर से विकल्प हो सकती हैं। बेदाग छवि की कलसुम को अगर सत्ता सौंपी जाती है तो वह बेनजीर भुट्टो के बाद पाकिस्तान की दूसरी महिला प्रधानमंत्री होंगी।
कौन हैं कुलसुम
-67 साल की कलसुम चर्चित रेसलर रहे गामा पहलवान की पोती हैं
-3 बार प्रधानमंत्री की पत्नी के तौर पर पाकिस्तान की प्रथम महिला रहीं
-1999 में नवाज शरीफ के तख्तापलट के दौरान कलसुम गिरफ्तार हुईं
-उसी साल नवाज ने उन्हें पीएमएल-एन का अध्यक्ष घोषित किया था
-2002 तक अध्यक्ष रहीं और पार्टी को एकजुट रखने में भूमिका निभा

वॉशिंगटन - अमेरिका में एक महिला ने अपने तलाक के लिए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ सेल्फ को जिम्मेदार ठहराया है। फ्लोरिडा के पाम बीच काउंटी में रहने वाली लिन का पिछले हफ्ते जाने-माने वकील डेव ऐरनबर्ग से तलाक हो गया। पूर्व चीयरलीडर लिन ने कहा कि ट्रंप के साथ सेल्फी लेने और रिपब्लकिन पार्टी का समर्थन करना ही तलाक की बड़ी वजह बनी। लिन ने एक बयान जारी कहा,…
वाशिंगटन - अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने मीडिया चीफ (कम्युनिकेशन डायरेक्टर) एंथनी स्कारामूची को बर्खास्त कर दिया है। उन्हें सिर्फ 10 दिन पहले ही इस पद के लिए नियुक्त किया गया था।एंथनी की बर्खास्तगी को लेकर व्हाइट हाउस ने कहा है कि एक मैगजीन को दिए साक्षात्कार में उन्होंने अभद्र टिप्पणी की थी, जिसके बाद यह एक्शन लिया गया। बता दें कि कुछ दिनों पहले रेइंस प्राइबस व सीन…
लाहौर - पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के अधिकारियों ने मुंबई आतंकी हमलों के मास्टरमाइंड हाफिज सईद की नजरबंदी की अवधि को दो और माह के लिए बढ़ा दिया है। जमात-उद-दावा प्रमुख सईद 31 जनवरी से नजरबंद है। अप्रैल में उसकी हिरासत अवधि को तीन और माह के लिए बढ़ा दिया गया था।पंजाब सरकार ने 31 जनवरी को सईद और उसके चार करीबी सहयोगियों अब्दुल्ला उबैद, मलिक जफर इकबाल, अब्दुल रहमान…
बीजिंग - चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने आज कहा कि चीन अपनी संप्रभुता और सुरक्षा से कभी समझौता नहीं करेगा और उसकी सेना हर हमले को विफल करने के लिए आश्वस्त है। शी ने 23 लाख जवानों वाली पीपल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की 90वीं वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित विशेष आयोजन में अपने संबोधन में ये बातें कही। शी जिनपिंग ने कहा है कि हम किसी भी व्यक्ति, संगठन…
Page 7 of 158

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें