दुनिया

दुनिया (4053)

19 जून के तीसरे पहर भारत स्थित चीनी राजदूत ल्वो च्याओह्वेई भारतीय वाणिज्य व उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु से मिले और चीन-भारत संबंध और द्विपक्षीय आर्थिक व व्यापारिक यथार्थ सहयोग व विकास पर विचार-विमर्श किया।मुलाकात में ल्वो ने कहा कि हाल में चीन-भारत संबंधों के विकास में सक्रिय प्रवृत्ति दिखी है। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ ही वक्त में दो बार भेंटवार्ताएं कीं। दोनों नेताओं के नेतृत्व में द्विपक्षीय संबंधों का विकास निरंतर आगे बढ़ रहा है और आर्थिक व व्यापारिक यथार्थ सहयोग का निरंतर विस्तार हो रहा है। आशा है कि दोनों पक्ष एक ही दिशा में चल सकेंगे और द्विपक्षीय व्यापार व निवेश के लिए अच्छा माहौल की तैयारी कर सकेंगे। ताकि और संतुलित आर्थिक व व्यापारिक ढांचा की रचना कर सकें। चीन सरकार नवम्बर में शांगहाई में चीनी अंतर्राष्ट्रीय आयात एक्सपो का आयोजन करेगा। चीन भारतीय सरकार की सक्रिय भागीदारी का स्वागत करता है। दोनों पक्ष चीन-भारत आर्थिक व व्यापारिक सहयोग के ठोस मुद्दों पर गहन रूप से विचार विमर्श भी किया।मुलाकात में सुरेश प्रभु ने कहा कि भारत सरकार चीन के आयात एक्सपो में भाग लेने और श्रेष्ठ भारतीय उत्पादों का प्रदर्शन करने का समर्थन देती है। साथ ही भारत सरकार व्यापारिक माहौल को भी उन्नत करेगी, विदेशों के साथ खुलेपन को तेज़ करेगी, ताकि आपसी लाभ व समान उदार को पा सकें।

चीनी चिल्ड्रेन आर्ट थिएटर से मिली जानकारी के मुताबिक 8वाँ चीनी बाल रंगमंच महोत्सव 14 जुलाई से 25 अगस्त तक आयोजित होगा। 43 दिनों तक चलने वाले इस महोत्सव का विषय "पांच महाद्वीपों के बच्चों का दिल उजागर करना और बेहतर भविष्य का निर्माण करना" पर रहेगा। इस मौके पर चीन, ब्राजील, जापान, रूस, भारत, बेल्जियम, अमेरिका, रोमानिया, अर्जेंटीना, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया, इज़राइल, नॉर्वे, क्रोएशिया और पोलैंड आदि 16 देशों और चीन के थाईवान से आए बच्चों की 38 रंगमंच ग्रुप 61 नाटक शो प्रस्तुत करेंगे।बताया जाता है कि महोत्सव के दौरान चीनी और विदेशी बच्चों के उत्कृष्ट रंगमंच प्रदर्शन, कला संगोष्ठियों और समृद्ध नाटक गतिविधियों का आयोजन आयोजित होगा। यह पहली बार है कि पांच महाद्वीपों के बच्चों के उत्कृष्ट रंगमंच प्रदर्शन एक साथ महोत्सव में दिखाई देते हैं और ब्रिक्स देशों के युवा-बच्चों के नाटक लीग की स्थापना के बाद पहला संयुक्त शो होगा।

19 जून को संयुक्त राष्ट्र बाह्य अंतरिक्ष सम्मेलन के आयोजन की 50वीं जयंती के उपलक्ष्य में यूएन बाह्य अंतरिक्ष समिति के 61वें सम्मेलन के आयोजन के मौके पर“चीन का अंतरिक्ष सहयोग : साझे भाग्य समुदाय की स्थापना और मानव जाति को लाभ पहुंचाना”थीम वाली एक प्रसार सभा वियना में स्थित संयुक्त राष्ट्र कार्यालय में आयोजित हुई। चीनी राष्ट्रीय अंतरिक्ष ब्यूरो और यूएन अंतरिक्ष मामला कार्यालय ने“बेल्ट एंड रोड”के आधार पर अंतरिक्ष सूचना गलियारे से संबंधित सहयोग के ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।वियना में संयुक्त राष्ट्र और दूसरे अंतरराष्ट्रीय संगठनों में स्थित चीनी स्थाई प्रतिनिधि शी चोंगच्युन ने प्रसार सभा में भाषण देते हुए चीन के खुलेपन, समानता, आपसी लाभ और समावेश अंतरिक्ष अंतरराष्ट्रीय सहयोग वाली विचारधारा की व्याख्या की। उन्होंने बल देते हुए कहा कि बाह्य अंतरिक्ष मानव जाति को लाभ पहुंचाने वाला नया क्षेत्र है। चीन मानव जाति के साझे भाग्य समुदाय वाली विचारधारा के आधार पर दूसरे देशों के साथ मिलकर बाह्य अंतरिक्ष की खोज और समान विकास के लिए सहयोग करना चाहता है।उन्होंने कहा कि 60 सालों के प्रयास से चीन ने संपूर्ण, तांत्रिक और प्रगतिशील अंतरिक्ष वैज्ञानीक तकनीकी और प्रौद्योगिक व्यवस्था स्थापित की, जो मानव जाति के बाह्य अंतरिक्ष की खोज और प्रयोग करने की नवोदित शक्ति बन चुका है।

वर्ष 1993 में अपनी स्थापना के बाद से लेकर अब तक शांगहाई अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव दुनिया भर के फिल्मकारों के बीच आदान-प्रदान का मंच मुहैया करवाता है। दर्शक चीन और विभिन्न दूसरे देशों की फिल्मों का मज़ा लेते हैं। देसी-विदेशी फिल्मकारों और फिल्म प्रमियों को आपसी समझ का मौका भी मिला है। फिल्म महोत्सव में 108 देशों और क्षेत्रों से आई 3447 फिल्मों ने भाग लेने का आवेदन किया, इसी दौरान 500 से अधिक चीनी और विदेशी फिल्मों का प्रदर्शन किया गया या किया जाएगा, जिन्हें व्यापक दर्शकों की लोकप्रियता हासिल हुईं।मौजूदा शांगहाई अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के दौरान सार्वजनिक सांस्कृतिक सेवा पर जोर दिया जा रहा है। व्यापक शांगहाई वासियों के लिए कई फिल्मों का मुफ्त प्रदर्शन हुआ, जिसे स्थानीय लोगों का हार्दिक स्वागत मिला है।

चीनी जन प्रतिनिधि सभा की 13वीं राष्ट्रीय समिति की तीसरी बैठक 19 जून को पेइचिंग में आयोजित हुई। बैठक में ई-कॉमर्स कानून प्रारूप के संशोधन से संबंधित रिपोर्ट सुनाई गई। यह चीन में ई-कॉमर्स कानून पर तीसरी बार विचार विमर्श किया जाना है। बैठक में उपस्थित प्रतिनिधियों ने इस कानून में जल्द ही सुधार कर उपभोक्ताओं के हितों की रक्षा करने को मजबूत करने का सुझाव पेश किया।कुछ प्रतिनिधियों ने कहा कि इस प्रारूप में ई-कॉमर्स व्यापारियों, खास तौर पर ई-कॉर्मस प्लेटफार्म के ऑपरेटरों का कर्तव्य और मज़बूत किया गया और ई-कॉर्मस विवाद के निपटारा आदि मुद्दों में सुधार किया गया है। साथ ही प्रारूप में इधर के सालों में ई-कॉर्मस में गर्म मुद्दों पर भी ध्यान दिया गया। ई-कॉमर्स व्यापारी उपभोक्ताओं की निजी जानकारी एकत्र करते हैं और इस्तेमाल करते हैं। इसके मद्देनजर कुछ प्रतिनिधियों ने कहा कि ई-कॉमर्स व्यापारियों को संबंधित कानून व नियमों के मुताबिक उपभोक्ताओं की निजी जानकारी की रक्षा करनी चाहिए। साथ ही सरकार को संबंधित निगरानी प्रणाली को भी परिपूर्ण बनाना चाहिए। खास तौर पर नागरिकों के अधिकार संरक्षण करने, अभियोग लगाने और मुआवज़ा मांगने की सिस्टमों की दिजाइन में और स्पष्ट व ठोस नियम बनाये जाने की जरूरत है।

वांग यांग ने की केन्या की यात्रा

केन्या के नेशनल असेंबली के चीफ जस्टिन मुतुरी के निमंत्रण पर चीन के सीपीपीसीसी के अध्यक्ष वांग यांग ने 16 से 19 जून तक केन्या की औपचारिक यात्रा की। इस दौरान उन्होंने केन्या के राष्ट्रपति उहुरू केन्याट्टा, सीनेट अध्यक्ष केनेथ लुसाका और जस्टिन मुतुरी से मुलाकात कर चर्चा की।उहुरू केन्याट्टा के साथ मुलाकात के दौरान वांग यांग ने कहा कि वर्ष 2017 के मई में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और उहुरू केन्याट्टा ने एक साथ चीन-केन्या व्यापक रणनीतिक साझेदारी संबंध बनाये। अब चीन और केन्या के बीच सहयोग चीन-अफ्रीका सहयोग की आदर्श मिसाल बन चुका है। इस साल चीन-केन्या राजनयिक संबंध की स्थापना की 55वीं वर्षगांठ है, हमें दोनों के बीच राजनीतिक विश्वास और विकास रणनीति को मजबूत करना चाहिए। साथ ही आम हितों से संबंधित मुख्य मामलों पर एक-दूसरे को समर्थन देने की जरूरत है, ताकि उच्च स्तरीय व्यावहारिक सहयोग बढ़ाए जा सके। इस सितंबर में चीन-अफ्रीका सहयोग मंच का शिखर सम्मेलन पेइचिंग में आयोजित होगा। चीन केन्या के राष्ट्रपति उहुरू केन्याट्टा के सम्मेलन में उपस्थित होने का स्वागत करता है।उहुरू केन्याट्टा ने कहा कि हाल के वर्षों में केन्या और चीन के बीच राजनीतिक विश्वास बहुत घनिष्ठ रहा है। केन्या हमेशा एक पट्टी एक मार्ग का निर्माण को समर्थन करता है, क्योंकि चीन के साथ सहयोग करने से केन्या लाभ मिल सकता है। उन्हें उम्मीद है कि चीन के साथ उच्च स्तरीय आदान-प्रदान मजबूत करेगा। इसके अलावा, केन्या चीन के साथ निवेश, व्यापार और पर्यटन आदि क्षेत्रों में सहयोग विस्तार करेगा।केन्या के नेशनल असेंबली के चीफ जस्टिन मुतुरी ने कहा कि हर देश अपने राजनीतिक व्यवस्था और विकास पथ है। केन्या और चीन हमेशा एक दूसरे के राजनीतिक व्यवस्था का सम्मान करता है, हम असली दोस्त हैं। केन्या के नेशनल असेंबली चीन के एनपीसी और सीपीपीसीसी के साथ आदान-प्रदान बढ़ाएगा।सीनेट अध्यक्ष केनेथ लुसाका ने सीपीपीसीसी द्वारा केन्या-चीन संबंध और चीन-अफ्रीका सहयोग के विकास में की गई कोशिश पर प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि जुबली पार्टी चीन के सफल अनुभवों से सीखकर अपने शासन और नेतृत्व क्षमता में सुधार करेगी।

 

 

साल 2018 विश्व परिवहन सम्मेलन 18 से 20 जून तक पेइचिंग में आयोजित हो रहा है। 4500 से अधिक देसी-विदेशी प्रतिनिधि इसमें भाग लेकर परिवहन क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय आदान-प्रदान और सहयोग पर विचार-विमर्श कर रहे हैं। चीनी अधिकारी ने सम्मेलन में बल देते हुए कहा कि चीन विश्व के दूसरे देशों की जनता के साथ मिलकर परिवहन विकास के फल को साझा करना चाहता है और संबंधित खुलेपन का और…
लंदन: उत्तरी लंदन के ट्यूब ट्रेन स्टेशन पर हुए मामूली विस्फोट में पांच लोग घायल हो गए। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, दो लोगों को अस्पताल ले जाया गया है जबकि तीन को हल्की चोटें आई हैं। यह स्टेशन मध्य लंदन से लगभग आठ मील की दूरी पर है।पुलिस ने बताया कि यह घटना आतंकवाद से संबंधित नहीं है और हम विस्फोट के कारणों का पता लगाने की कोशिश कर…
अमेरिका के आरेगन शहर में 52 भारतीयों के एक समूह (ज्यादातर सिख) को आश्रय की मांग करने वाले अवैध प्रवासियों के एक बड़े दल का हिस्सा बनने के मामले में हिरासत में रखा गया है। अमेरिका सांसद ने बताया कि शेरिडन के हिरासत केंद्र में रखे 123 अवैध प्रवासियों में सबसे अधिक भारतीय हैं और इनमें से बहुत से लोग पंजाब से संबंधित हैं। बताया जा रहा है कि उन्हें…
वाशिंगटन : राष्ट्रीय सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए कनाडाई धातुओं पर शुल्क लगाने के बाद डोनाल्ड ट्रंप ने आज अमेरिका के उत्तरी पड़ोसी पर फिर से निशाना साधा है और दावा किया कि कनाडाई नागरिक सीमा पार जूतों की तस्करी कर रहे हैं।ट्रम्प ने अपने इस संरक्षणवादी कदम से कनाडा को नाराज कर दिया है। ट्रंप एक नए द्विपक्षीय व्यापार सौदे के पक्ष में उत्तरी अमेरिकी मुक्त व्यापार समझौते…
Page 2 of 290

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें