दुनिया

दुनिया (4033)

कनाडाः टोरंटो के उपनगर मिसिसॉगा में भारतीय रेस्तरां पर बम से हमला करने वाले दो संदिग्धों में से एक महिला हो सकती है। क्षेत्रीय पुलिस अधीक्षक रॉब रायन ने यह बात कही। इस हमले में 15 लोग घायल हुए थे।इससे पहले पुलिस ने कहा था कि 24 मई को बॉम्बे भेल रेस्तरां में घर में बनाए गए बम को रखने वाले दोनों हमलावर पुरुष हैं, लेकिन रायन ने मंगलवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि जांचकर्ताओं का अब मानना है कि एक संदिग्ध महिला हो सकती है। उन्होंने कहा कि प्रत्यक्षदर्शियों के जरिए ऐसे सबूत सामने आए हैं और कुछ अन्य वीडियो को देखकर जांचकर्ताओं का मानना है कि यह सिर्फ किसी एक पुरुष का काम नहीं हो सकता है। रॉब ने कहा कि संदिग्धों ने अपनी पहचान छिपाने की पूरी कोशिश की जा रही हैं।पुलिस द्वारा जारी किए गए तस्वीरों में दोनों संदिग्धों ने कपड़े से चेहरे को ढक रखा है और जैकेट के हुड से उनके सिर ढके हुए हैं।रॉब ने कहा कि पुलिस एजेंसियां अभी भी संदिग्धों की तलाश कर रही हैं। यह एक जटिल मामला है और इसे सुलझाने में समय लगेगा। उन्होंने कहा कि हमले का कारण अभी भी पता नहीं चल पाया है।रॉब ने कहा कि जन्मदिन का जश्न मनाने के लिए रेस्तरां में हमले के समय करीब 30 लोग मौजूद थे। उन सबसे पूछताछ की गई है और रेस्तरां जांच में सहयोग कर रहा है।

 

मेक्सिकोः मेक्सिको में एक महिला पत्रकार काे अपने ही घर में मृत अवस्था में पाए जाने के बाद यहां एक और पत्रकार की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई हैं। पुलिस ने कहा कि उन्हाेंने मामले की जांच शुरू कर दी है।रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने बताया कि ‘डेली एक्सेलसर’ के संवाददाता हेक्टर गोजांलेज की मंगलवार को तमौलीपस में हत्या कर दी गई। हत्यारे की तलाश और हत्या के पीछे का कारण जानने के लिए जांच शुरू कर दी गई है।बता दें, इससे पहले 24 मई को एलिसिया डियाज (52) न्यूवो लियोन स्थित अपने घर में मृत पाई गई थीं। उनके सिर पर चोट के निशान थे।एक प्रेस स्वतंत्रता संगठन के अनुसार, 2012 में मैक्सिकी राष्ट्रपति एनरिक पीना नीटो प्रशासन की शुरुआत के बाद से करीब 42 पत्रकारों की हत्या हो चुकी है, जबकि पत्रकारों के खिलाफ लगभग 2,000 हमले दर्ज किए गए हैं।

काबुलः अफगानिस्तान के पूर्वी लोगार प्रांत में एक पुलिस चौकी पर आत्मघाती बम हमले में कम से कम 2 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई हैं। एक अफगान अधिकारी ने यह जानकारी दी हैं। प्रांतीय गवर्नर के प्रवक्ता खालिद सफी ने बताया कि मरने वालों में पुलिस थाने का कमांडर और लोगार की राजधानी पुली आलिम शहर के यातायात पुलिस के उपनिदेशक शामिल हैं।सफी ने कहा कि आज सुबह हुए हमले में मरने वालों की संख्या केवल शुरुआती रिपोर्ट है और यह बढ़ भी सकती है। शुरुआत में एक आत्मघाती कार बम हमलावर ने हमला किया। इसके बाद दो अन्य आत्मघाती बम हमलावरों ने पुलिस थाने को निशाना बनाया। उन्होंने बताया कि दोनों बम हमलावरों की पहचान कर ली गयी और सुरक्षा बलों ने उन्हें मार गिराया। हमले की जिम्मेदारी अब तक किसी ने नहीं ली है हालांकि लोगार प्रांत में तालिबान विद्रोही सक्रिय हैं।

कीवः विपक्षी मीडिया के लिए काम करने वाले एक रुसी पत्रकार की कीव में गोली मारकर आज हत्या कर दी हैं। यूव्रेन पुलिस ने बताया कि अरकाडी बाबचेंको को यूव्रेन की राजधानी कीव स्थित उनके अपार्टमेंट परिसर में गोली मारी गई हैं।पुलिस प्रवक्ता यारोस्लाव त्रकालो ने बताया कि गोली की आवाज सुनने के बाद अरकाडी की पत्नी जब वहां पहुंचीं, ताे उन्होंने अपने पति को खून से लथपथ देखा। पत्रकार की अस्पताल ले जाते हुए एम्बुलेंस में मौत हो गई। अरकाडी के साथ काम करने वाले एक अन्य पत्रकार उस्मान पाश्येव ने फेसबुक पर लिखा है, अरकाडी बाबचेंको दुकान से घर आ रहे थे। उसी दौरान अपार्टमेंट की सीढ़ियों पर उनकी पीठ पर तीन गोलियां मारी गई। रुस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन के मुखर आलोचक रहे 41 वर्षीय अरकाडी जान से मारने की धमकी मिलने के बाद पराग्वे चले गए थे। फिलहाल वह कीव में रह रहे थे।

 

वांशिगटनः अमेरिका की सेना ने पिछले सप्ताह दक्षिणी अफगानिस्तान में एकत्र हुए तालिबान नेताओं को निशाना बनाकर गोलाबारी की, जिसमे कम से कम 50 लोग मारे गए हैं।अमेरिका के एक सैन्य अधिकारी ने यह जानकारी दी हैं। लेफ्टिनेट कर्नल मार्टिन ओ ’ डोनेल ने बताया कि इन हमलों का प्रभाव हेलमंड प्रांत के बाहर भी महसूस किया जाएगा। हमले में 4 रॉकेटों ने तालिबान के एक कमान एवं नियंत्रण पोस्ट को नष्ट किया है।24 मई को हुए इस हमले की घोषणा पिछले सप्ताह की गई थी, लेकिन कितने लोग मारे गए थे। इसकी कोई जानकारी नहीं दी गई हैं। ओ ’ डोनेल ने बताया कि मुसा कला जिले मे तालिबान कमांडरों की उच्चस्तरीय बैठक को निशाना बनाया गया।

 

 


सियोल - अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन के बीच 12 जून को सिंगापुर में प्रस्तावित शिखर बैठक को लेकर तैयारियां तेज हो गई हैं। इस सिलसिले में उत्तर कोरिया के शीर्ष जनरल किम योंग चोल अमेरिका जा रहे हैं। ट्रंप-किम बैठक को लेकर उनकी अमेरिकी अधिकारियों के साथ चर्चा होगी।
चोल के अमेरिका दौरे की ट्रंप ने भी पुष्टि की है। उन्होंने मंगलवार को ट्वीट किया, 'हमने उत्तर कोरिया के साथ वार्ता के लिए अच्छी टीम बनाई है। इस वार्ता के संबंध में बैठक होने वाली है। उत्तर कोरिया के जनरल किम योंग चोल न्यूयॉर्क आ रहे हैं।' चोल उत्तर कोरिया की सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी की केंद्रीय समिति के उपाध्यक्ष भी हैं।
दक्षिण कोरिया की न्यूज एजेंसी योनहैप के अनुसार, बीजिंग में चीनी अधिकारियों से बातचीत के बाद चोल बुधवार को अमेरिका रवाना हो जाएंगे। उनके इस दौरे से जाहिर होता है कि ट्रंप-किम की 12 जून को होने वाली ऐतिहासिक वार्ता पटरी पर लौट आई है। ट्रंप ने पिछले हफ्ते इस वार्ता को रद कर दिया था। इसके बाद उत्तर कोरिया की संयमित प्रतिक्रिया और दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति के प्रयासों के चलते हालात बदले और ट्रंप-किम वार्ता की फिर संभावना बनी।
अमेरिका जाने वाले उत्तर कोरिया के वरिष्ठ अधिकारी
चोल के रूप में लंबे समय बाद कोई वरिष्ठ उत्तर कोरियाई अधिकारी अमेरिकी धरती पर कदम रखेगा। इससे पहले साल 2000 में उत्तर कोरिया के वाइस मार्शल जो म्योंग रॉक ने अमेरिका का दौरा किया था। उन्होंने ह्वाइट हाउस में तत्कालीन राष्ट्रपति बिल क्लिंटन से मुलाकात की थी।

कुआलालंपुर - मलेशिया सरकार ने चार साल पहले उड़ान के दौरान गायब हुए विमान की खोज मंगलवार को बंद कर दी। मलेशिया एयरलाइंस की फ्लाइट एमएच370 आठ मार्च, 2014 को कुआलालंपुर से बीजिंग जाते वक्त रडार से लापता हो गई थी। उस विमान में चीन और मलेशिया समेत करीब 13 देशों के 239 यात्री सवार थे।अमेरिका की एक निजी कंपनी ओशियन इनफिनिटी गत जनवरी से हिंद महासागर में विमान की…
जकार्ता - बोर्नियो द्वीप से उड़ान भरने की तैयारी कर रहे इंडोनेशिया के एक विमान में बम रखे होने की अफवाह सुनकर कई यात्री विमान से कूद गए। इस हादसे में दस लोग घायल हो गए। जकार्ता जाने की तैयारी कर रहे लॉयन एयर प्लेन के बोइंग 737 विमान में इस घटना के वक्त 189 यात्री सवार थे।पुलिस के अनुसार, लोगों ने 26 साल के यात्री फ्रांटीनुस निरगी को फ्लाइट…
बीजिंग - चीन ने मंगलवार को गुलाम कश्मीर में स्थित गिलगित-बाल्टिस्तान पर पाकिस्तान के हालिया फैसले को लेकर सीधे तौर पर कोई टिप्पणी करने से इन्कार कर दिया। उसने सिर्फ इतना कहा कि कश्मीर भारत और पाकिस्तान के बीच का मामला है। इसका दोनों देशों को हल निकालना चाहिए। इस विवादित क्षेत्र से गुजरने वाले चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) की वजह से इस मसले पर उसका रुख प्रभावित नहीं होगा।पाकिस्तान…
नई दिल्‍ली - पाकिस्‍तान का हाल बड़ा ही निराला है। यहां पर जो सच बोलने की हिमाकत करता है उस पर बंदिशें और आरोपों की झड़ी लग जाती है। हालांकि वहां पर ऐसा पहली नहीं हो रहा है। दरअसल हम बात कर रहे हैं पाकिस्‍तान की सियासत में आए नए उबाल की, जिसकी वजह बने हैं पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ के पूर्व प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) असद दुर्रानी। उन्‍होंने भारतीय…
Page 10 of 289

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें