मनीला - फिलीपींस की राजधानी मनीला में सोमवार से 31वें आसियान शिखर सम्मेलन का आगाज हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप समेत दुनियाभर के कई नेता इस सम्मेलन के उद्घाटन पर पहुंच चुके हैं। सोमवार को उद्घाटन के समय सभी देशों के नेता एक ग्रुप फोटोग्राफ के लिए साथ आए। तीन दिनों तक यह सम्मेलन चलेगा और इस सम्मेलन में कई अहम मुद्दों पर चर्चा होगी।
राइस रिसर्च इंस्टीट्यूट का दौरा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को फिलीपींस के लॉस बनोस के इंटरनेशनल राइस रिसर्च इंस्टीट्यूट का दौरा किया। आपको बता दें कि इसका एक सेंटर जल्द ही वाराणसी में खुलेगा। प्रधानमंत्री ने यहां पर एक फोटो प्रदर्शनी को भी देखा। जिसमें धान की खेती, वाराणसी में खुलने वाले सेंटर आदि के बारे में विस्तार से बताया गया था। पीएम ने इस दौरान आईआरआरआई में कार्यरत कई भारतीय विज्ञानिकों से भी बातचीत की। सोमवार को ही वीएम मोदी, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से भी मुलाकात करेंगे।
31वां आसियान सम्मेलन
इस वर्ष मनीला में 15वें आसियान शिखर सम्मेलन का आयोजन हो रहा है। सोमवार को आसियान गान के साथ इस सम्मेलन की औपचारिक शुरुआत हो गई। यहां सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ओपनिंग सेरेमनी में पहुंचे, फिलीपींस के राष्ट्रपति रॉबर्ट दुतेर्ते ने किया स्वागत किया। पीएम मोदी के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी समारोह में पहुंचे और उनके आने के कुछ देर बाद मंच पर सभी नेताओं का एक ग्रुप फोटो सेशन भी हुआ। इसके बाद रंगारंग कार्यक्रम के साथ आसियान शिखर सम्मेलन का आगाज हुआ है। पीएम मोदी मंगलवार को आसियान सम्मेलन को संबोधित करेंगे।
होगी कई नेताओं से मुलाकात
पीएम मोदी सम्मेलन से अलग दुनियाभर के कई नेताओं से द्विपक्षीय मुलाकात कर सकते हैं। पीएम मोदी इस सम्मेलन में जिन नेताओं के वार्ता कर सकते हैं उनमें डोनाल्ड ट्रंप, जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे और ऑस्ट्रेलियाई पीएम मैल्कम टर्नबुल शामिल हैं। रविवार को सम्मेलन से अलग डिनर पर पीएम मोदी ने ट्रंप समेत कई नेताओं से मुलाकात भी की। इंदिरा गांधी के बाद मोदी पहले ऐसे पीएम हैं जो मनीला गए हैं और ऐसे में कोई भारतीय पीएम का 36 वर्षों बाद मनीला पहुंचा है। आसियान यानी एसोसिएशन ऑफ साउथ ईस्ट एशियन नेशंस, 10 देशों का वह संगठन है जिसे आपसी व्यापार और रक्षा संबंधों को बढ़ावा देने के मकसद से शुरू किया गया था। रविवार को हुए डिनर से पहले पीएम मोदी ने ट्रंप और चीन के प्रधानमंत्री ली कियांग से मुलाकात भी की थी।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें