हांगकांग विशेष प्रशासन क्षेत्र की सरकार के वित्तीय विभाग के प्रधान चेन माओ पो ने 9 जुलाई को कहा कि अमेरिका को अधिक परेशानी मत करना चाहिये, पर वार्ता के जरिये व्यापारिक मुठभेड़ का समाधान करने के ट्रैक पर वापस पहुंचना चाहिये।चेन ने कहा कि विश्व व्यापार संगठन की स्थापना से अभी तक के बीसेक सालों में वैश्विक व्यापार उदारीकरण बढ़ाने और व्यापार बाधाओं को खत्म करने की कोशिश की जा रही है। आज अमेरिका ने चीन के प्रति व्यापार युद्ध छेड़ा और यूरोपीय संघ ने भी इसमें भाग लिया। व्यापार युद्ध का कोई विजेता नहीं होता है। हांगकांग विश्व में सातवां बड़ा कमोडिटी ट्रेडिंग सेंटर है। व्यापार युद्ध से हांगकांग के पारगमन व्यापार पर बुरा प्रभाव पड़ेगा।चेन का मानना है कि व्यापार युद्ध का विस्तार होने से चीन और यहां तक सारी दुनिया के व्यापार व पूंजीनिवेश पर प्रभाव पड़ेगा और वित्तीय बाजार में भी उतार-चढ़ाव पैदा होगा। हांगकांग को इस की पूरी तैयारियां करनी पड़ेगी। लेकिन हांगकांग की आम आर्थिक स्थितियां सही बनती है। इस वर्ष की आर्थिक वृद्धि दर तीन से चार प्रतिशत तक पहुंचेगी।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें