वॉशिंगटन - वैज्ञानिकों ने एक ऐसी सामग्री ढूंढी है जिसके बाद सुपरसोनिक विमान से बेहतर तकनीक वाले हाइपरसोनिक विमान बनाने में मदद मिलेगी। यह सामग्री बेहद हल्की है जो बहुत अधिक तामपान और दबाव को झेल सकती है।
माना जा रहा है कि यह खोज ध्वनि की गति से पांच से दस गुणा अधिक रफ्तार से चलने वाले सुपरसोनिक विमान के विकास की दिशा में एक अहम कदम है। नासा और अमेरिका के बिंमटन विश्वविद्यालय के रिचर्सरों के इस अध्ययन से उड़ानों के समय में खासी कमी आ सकती है।
बिंमटन विश्वविद्यालय के एसोसिएट प्रोफेसर चांघोंग के ने बताया कि फिलहाल जब सुपर विमान बनाने की बात उठती है तब उसमें कुछ रकावटें नजर आती हैं। पहली रुकावट है ऐसी सामग्री ढूंढना जो हाइपरसोनिक यात्रा को झेल सके।
के ने कहा, 'हमारे अध्ययन में उस सामग्री का उपयोग किया गया जिसे हम बोरोन नाइट्राइड नैनोटयूब (BNNT) कहा जाता है। ऐसी उत्तम बीएनएनटी बनाने में सक्षम कुछ संयंत्रों में एक नासा के पास भी है।'
रिसर्च में जुटे लोगों ने बताया कि ऐसे विमानों में कार्बन नैनोटयूब उसकी ताकत की वजह से इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि वह स्टील से अधिक मजबूत है और गर्मी को बदार्श्त कर सकता है। उन्होंने कहा कि जब विमान यात्रा की बात आती है बीएनएनटी का भविष्य नजर आता है।
के ने कहा, 'कार्बन नैनोटयूब 400 डिग्री सेल्सियस तक तापमान झेल सकता है। हमारी खोज में पाया गया कि बीएनएनटी 900 डिग्री तक तापमान बदार्श्त कर सकता है। वह बिल्कुल ही उच्च दबाव को भी झेल सकता है और बहुत ही हल्का है।'
साइंटिफिक रिपोर्ट जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार दुनिया के अगले सुपर विमानों के निमार्ण के लिए किसी भी सामग्री के लिए अधिक से अधिक तापमान को सहना एक महत्वपूर्ण जरूरत है।

 

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें