मॉस्‍को - अमेरिका और उसके सहयोगियों ने सीरियाई सेना और केमिकल रिसर्च सेंटर को निशाना बनाते हुए 100 मिसाइलें दागी हैं। इस बीच रूस, सीरिया के समर्थन में उतर आया है। रूसी कर्नल-जनरल सर्गेई रुडस्कोई ने शनिवार को बताया कि रूस सीरिया और अन्‍य देशों को एस-300 मिसाइल सिस्‍टम की आपूर्ति करा सकता है।
रुडस्‍कोई ने साथ ही कहा कि अमेरिका और उसके सहयोगियों ने सीरिया पर जो मिसाइल दागी हैं, उनसे वहां की स्थिति और खराब हो जाएगी। उन्‍होंने बताया कि सीरिया के ज्‍यादातर शहरों में अब स्थिति शांत है।
सीरिया के पूर्वी गोता के डौमा में हुए रासायनिक हमले का अमेरिका ने बदला लिया है। अमेरिका ने अपने सहयोगी फ्रांस और ब्रिटेन के साथ मिलकर सीरिया पर सैन्य कार्रवाई की है। अमेरिका और उसके सहयोगियों ने सीरियाइ सेना और 'केमिकल रिसर्च सेंटर' को निशाना बनाया। पेंटागन के एक अधिकारी के मुताबिक, सीरिया के ऊपर 100 से अधिक मिसाइलें दागी गईं। अमेरिकी रक्षा सचिव जेम्स मैटीज और मरीन जनरल जोसेफ डनफोर्ड ने कहा कि रासायनिक हथियारों पर मिसाइल हमला दोनों समुद्र और विमान (हवाई हमला) से किया गया।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें