सैन फ्रांसिस्‍को - वैसे तो दुनिया भर की कंपनियों में महिलाओं के साथ भेदभाव के मामले सामने आते रहते हैं। मगर माइक्रोसॉफ्ट जैसी दुनिया की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनी में बड़े पैमाने पर इस तरह के मामले का सामने आना एक पल को चौंकाने वाला है। कंपनी पर सैलरी न बढ़ाए जाने से लेकर, प्रमोशन न देने, शारीरिक उत्पीड़न और लिंग के आधार पर होने वाले भेदभाव तक का आरोप लगाया गया है।
इस पूरे मामले को कोर्ट ने सार्वजनिक किया है। हालांकि माइक्रोसॉफ्ट ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों से इंकार किया है और कहा कि अभी इस तरह का सिर्फ एक मामला ही सामने आया है।
माइक्रोसॉफ्ट में काम करने वाली महिलाओं ने 2010 से 2016 के बीच लैंगिक भेदभाव की 118 शिकायतें दर्ज कराई हैं। वहीं कुल शिकायतों के 238 मामले सामने आए हैं, जो कोर्ट के दस्‍तावेजों से उजागर हुए हैं। माइक्रोसॉफ्ट के खिलाफ चल रहे मुकदमों में शिकायतकर्ताओं के दस्‍तावेजों के अनुसार महिला कर्मचारियों ने अपने साथ हो रहे पक्षपातपूर्ण व्‍यवहार से जुड़े कई मुद्दे उठाए हैं।
सिएटल स्थित डिस्ट्रिक्‍ट कोर्ट में मुकदमे दायर किए गए हैं। आगे चलकर 8,600 और अधिक महिलाएं भी इसमें शामिल हो सकती हैं। शिकायतकर्ताओं का कहना है कि एक ही पोस्‍ट पर समान परफॉर्मेंस के साथ काम करने वाले पुरुषों को महिलाओं की तुलना में तेजी से प्रमोशन मिला। महिलाओं की शिकायतों की सुनवाई कर रहे कोर्ट ने कहा कि कंपनी में महिलाओं के साथ हो रहा भेदभाव वाकई में चौंकाने वाला है।
उधर, माइक्रोसॉफ्ट के एक प्रवक्‍ता ने कहा कि सभी कर्मचारियों की शिकायतों को गंभीरता से लिया जा रहा है और जांच करने के लिए कंपनी एक निष्‍पक्ष एवं मजबूत प्रणाली स्‍थापित की है। मगर शिकायतकर्ताओं ने दावा कि कर्मचारियों को जांच प्रक्रिया में बिल्‍कुल ना के बराबर भरोसा है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें