ज्यूरिक - अगर पूछा जाए कि हमारे शहर के नालों में क्या बहता है, तो जाहिर है आप गंदा सा चेहरा बना लेंगे! लेकिन दुनिया में एक देश ऐसा भी है जहां नालियों में सिर्फ गंदगी ही नहीं सोना-चांदी भी बहता है।
आपको ये जानकर हैरानी होगी दुनिया के सबसे रहीस देशों में शुमार स्विजरलैंड के वेस्ट सिस्टम (कचरे के पाइप) में सोना और चांदी पाया जाता है। इतना ही नहीं अगर इन दोनों तत्वों की मात्रा को इकट्ठा किया जाए तो इनकी कीमत करोड़ों रुपये होगी।
इस तरह कचरे में मिलता है सोना-चांदी
पिछले साल स्विजरलैंड के रिसर्चरों ने वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट (जल उपचार संयंत्र) में कचरे में से 3 टन चांदी और 43 किलो सोना बरामद किया। अगर इनकी कीमत जोड़ी जाए तो ये लगभग दो करोड़ रुपये के आसपास होगी।
यहां से आता है इतना सोना-चांदी
स्विजरलैंड सरकार के अनुसार कचरे में मिलने वाले साने और चांदी के छोटे टुकड़े घड़ी बनाने वाली कंपनियों, दवाई निर्माता कंपनियों और अन्य रसायनिक कारखानों से निकलते हैं। इन सभी जगहों पर विभिन्न उतपात के निर्माण के लिए इन धातुओं का प्रयोग किया जाता है।
एक लेखक ने कहा, 'यहां किसी महिला द्वारा टॉयलेट में अंगूठी फेंके जाने जैसे किस्से सुनने में आते हैं, लेकिन ये सही नहीं है। सोने-चांदी के जो कण मिलते हैं वो काफी छोटी मात्रा में होते हैं, लेकिन जब इसे जोड़ा जाता है तो इसकी मात्रा अच्छी-खासी हो जाती है।'

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें