हमने अपना इतिहास भुला दिया

22 December 2017
Author 


ये जो सप्ताह अभी चल रहा है यानि 20 दिसम्बर से ले के 27 दिसम्बर तक इन्ही 7 दिनों में गुरु गोबिंद सिंह जी का पूरा परिवार शहीद हो गया था। इधर हिन्दुस्तान क्रिसमस के जश्न में डूबा एक-दूसरे को बधाइयां दे रहा है। एक जमाना था जब पंजाब में इस हफ्ते सब लोग जमीन पर सोते थे क्योंकि माता गुज्जरी ने यह सर्द रातें दोनों छोटे साहिबजादों के साथ नवाब वजीर खां की गिरफ्त में सरहिन्द के किले में ठंडी बुर्ज में गुजारी थीं। यह सप्ताह सिख इतिहास में शोक का सप्ताह होता है, पर आज देखता हंू कि पंजाब सहित पूरा हिन्दुस्तान जश्न में डूबा है। गुरु गोबिन्द ङ्क्षसह जी की कुर्बानियां को इस अहसान फरामोश देश ने सिर्फ 300 साल में भुला दिया। जो कौमें अपना इतिहास अपनी कुर्बानियां भूल जाती हैं वो खुद इतिहास बन जाती है। आज के हर बच्चे को इस जानकारी से अवगत कराओ। क्रिसमस नहीं हिन्द के सिख शहजादों की याद दिलाओ।
सतनाम् श्री वाहे गुरु जी
-आरीश साहनी

167 VIEWS
Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें