-डॉ. वंदना सुरेशवर्तमान में विश्व में जितनी भी ज्ञान और विज्ञान की बातें की जाती हैं, वह भारत में युगों पूर्व की जा चुकी हैं। इससे कहा जा सकता है कि भारत में ज्ञान और विज्ञान की पराकाष्ठा थी, लेकिन यह हमारा दुर्भाग्य ही कहा जाएगा कि हम विदेशी चमक के मोहजाल में फंसकर अपने ज्ञान को संरक्षण प्रदान नहीं कर सके। जिसके कारण हम स्वयं ही यह भुला बैठे…
-सुरेश हिन्दुस्थानीsureshhindustani1@gmail.com भौतिक जीवन में काम आने वाले संसाधनों के प्रयोग करने के लिए जिस प्रकार की सावधानी की आवश्यकता होती है, आज उसमें कमी होती दिखाई देने लगी है। उसका दुष्परिणाम भी सामने आता जा रहा है। जिससे मानव जीवन विनाश की ओर कदम बढ़ाने को मजबूर हुआ है। यह बात सही है कि समय की बचत के लिए भौतिक संसाधनों का उपयोग वर्तमान में मानव जीवन का महत्वपूर्ण…
- राजकुमार झांझरीrajkumarjhanjhari1961@gmail.com (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); विगत 20 सालों से लोगों को नि:शुल्क वास्तु सलाह देने के दौरान मेरा एक से बढ़कर एक दुखी, तबाह, पीडि़त, हताश, दिग्भ्रमित लोगों से पाला पड़ा है, लेकिन अपने एकमात्र पुत्र की हत्या के चंद महीनों बाद ही अपने पति की सड़क दुर्घटना में अकाल मृत्यु की वज्रपात सरीखी घटना से रु-ब-रू होने वाली कामरुप जिले के ऊपरहाली गांव की एक महिला…
DR NEELAM MAHENDRA(Best editorial writing award winner) क्या मनुष्य केवल देह है या फिर उस देह में छिपा व्यक्तित्व?यह व्यक्तित्व क्या है और कैसे बनता है? (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); भारत सरकार के आयुष मन्त्रालय द्वारा हाल ही में गर्भवती महिलाओं के लिए कुछ सुझाव दिए गए हैं जिसमें कहा गया है कि गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिलाओं को माँस के सेवन एवं सेक्स से दूर रहना चाहिए।इस विषय…
-राहुल लाल (कूटनीतिक मामलोंं के विशेषज्ञ) भारत-अमेरिकी संबंधों में जब कई कारणों से अनिश्चितता के बादल मंडरा रहे हैं, तो ऐसे में प्रधानमंत्री मोदी की अमेरिका यात्रा और ट्रंप से प्रथम मुलाकात पर संपूर्ण दुनिया की नजर है।प्रधानमंत्री मोदी जी 25 जून को तीन दिवसीय यात्रा पर अमेरिका जाएंगे और 26 जून को मोदी-ट्रंप की प्रथम चिरप्रतीक्षित मुलाकात होगी।प्रधानमंत्री मोदी की ट्रंपकालीन प्रथम अमेरिका यात्रा पेरिस जलवायु संधि से अमेरिका…
-राहुल लाल (कूटनीतिक मामलोंं के विशेषज्ञ) पश्चिम बंगाल का अद्भभुत प्राकृतिक सौदर्य से परिपूर्ण पर्वतीय क्षेत्र दार्जिलिंग एक बार पुन: जबरदस्त हिंसा की आग में झुलस रहा है।गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के दार्जिलिंग बंद के आह्वान ने इस पूरे क्षेत्र को युद्ध के अखाड़े में बदल दिया है।प्रदर्शनकारियों ने काफी संख्या में सरकारी कार्यालयों एवं गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया है।पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच भीडंत खतरनाक रुप लेती…
-अनीता वर्मा (अंतर्राष्ट्रीय मामलों की जानकर) वर्तमान के भूमंडलीकरण के दौर में विश्व महाशक्ति बनने की चाह रखने वाला चीन अपनी महत्तवाकांक्षी परियोजना न्यू सिल्क रोड ( वन बेल्ट वन रोड)को अमली जामा पहनाने हेतु आतुर है क्योंकि इसके माध्यम से एशिया, अफ्रीका और यूरोप को जोड़ने की बात की जा रही है।इसी संदर्भ में चीन ने बीजिंग में 14-15 मई 2017 दो दिवसीय सम्मेलन बुलाया था।इस सम्मेलन में 29…
-अनीता वर्मा (अंतर्राष्ट्रीय मामलों की जानकर) भारत में ब्रहमपुत्र नदी की सहायक लोहित नदी पर 2011 से बनाए जा रहे सेतु भारत ही नहीं अपितु एशिया की सबसे लंबी ढोला सदिया सेतु को 26 मई 2017 को भारतीय प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्र को समर्पित कर दिया।दरअसल ढोला सदिया सेतु उत्तर पूर्व के दो राज्यों अरुणाचल और असम को जोड़ने वाला भारत सबसे लंबा सेतु है।इसकी कुल लंबाई 9.15 किलोमीटर है…
Page 2 of 60

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें