कैबिनेट ने केंद्रीय मंत्रियों की लाल बत्ती वाली गाड़ियों पर पाबंदी लगा दी है। ये फैसला एक मई से लागू हो जाएगी। आज वित्त मंत्री अरुण जेटली ने संवाददाता सम्मेलन करके इसकी घोषणा की। उन्होंने कहा, लाल बत्ती के इस्तेमाल पर एक मई से रोक लग जाएगी। एक मई से सड़कों चलने वाली मंत्रियों की गाड़ियों पर लाल बत्ती नहीं दिखेगी।वहीं ये फैसला राज्य सरकारों पर छोड़ दिया गया है। हालांकि राष्ट्रपति, उप-राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, चीफ जस्टिस और लोकसभा स्पीकर को इसके दायरे से बाहर रखा गया है। दरअसल, वीवीआईपी कल्चर खत्म करने के लिए ये कदम उठाया गया है।नियमों के मुताबिक 32 केंद्रीय मंत्रियों को लाल बत्ती इस्तेमाल की अनुमति दी जाती है, लेकिन राज्य में मंत्रियों के पास अधिक से अधिक लाल बत्ती की गाड़ियां हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है। पीएमओ से बातचीत के बाद ही सड़क परिवहन की ओर से ये कदम उठाया गया है।कैबिनेट के फैसले के बाद इस नियम का पालन करते केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी देखे गए। उनकी कार पर लाल बत्ती नहीं थी।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें