नई दिल्ली - सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा है कि कश्मीर में सेना को मानवाधिकारों की परवाह है लेकिन घाटी के लोगों को गलत सूचनाएं दी जा रही हैं और उससे कुछ युवाओं को गुमराह किया जा रहा है। ताकि उनको हथियार उठाने के लिए मजबूर किया जा सके।
तेलंगाना स्थित एयर फोर्स अकेडमी में गार्ड ऑफ ऑनर के बाद सेना प्रमुख ने कहा कि दक्षिण कश्मीर के हालात खराब हैं। वहां पर स्थिति को जल्द ही सामान्य करने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।
उन्होंने कहा कि सेना को मानव जीवन की परवाह है, इस बात को सुनिश्चित किया जाएगा कि मानवाधिकारों का उल्लंघन न हो। हमें मानवाधिकारों में पूरा विश्वास है।
कश्मीर में होने वाले पथराव में बच्चों के शामिल होने के सवाल पर सेना प्रमुख ने कहा कि सेना ऐसी स्थितियों से निबटने में प्रतिक्षित है।
गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में शनिवार को फिर आतंकी हमला हुआ। इस बार हमला बिजबेहाड़ा में स्थित एसआईसीओपी कमप्लेक्स में हुआ। इस कमप्लेक्स में सीआरपीएफ और सेना के जवान तैनात किये गए थे। हमले के बाद जवानों ने भी मोर्चा संभाल लिया।
वहीं, लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर जुनैद मट्टू समेत तीन आतंकवादियों की लाशें शनिवार को बरामद कर ली गईं। सुरक्षा बलों ने शुक्रवार को दक्षिण कश्मीर में अनंतनाग जिले के अरवानी में इनका मुठभेड़ किया था। तीनों आतंकी एक घर में छिपे थे।
अनंतनाग जिले के अचाबल क्षेत्र में आतंकियों ने शुक्रवार को पुलिस दल पर घात लगाकर हमला किया था। आतंकियों ने सब इंस्पेक्टर समेत छह पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद शवों से बर्बरता की। सभी के चेहरे क्षत-विक्षत कर दिए। वारदात के बाद आतंकी पुलिसकर्मियों के हथियार भी लेकर भाग गए। पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन लश्कर-ए तैयबा ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें