रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने सुंजवां आर्मी कैंप में 51 घंटे तक चले काउंटर टेररिस्ट आॅपरेशन के समाप्त होने की पुष्टि कर दी। उन्होंने आर्मी कैंप का हवाई सर्वेक्षण करने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस किया। रक्षा मंत्री ने कहा, 'सुंजवां आर्मी कैंप में सेना का काउंटर टेररिस्ट आॅपरेशन सोमवार सुबह 10:30 बजे समाप्त हो गया। इस आतंकी हमले में सेना के 5 जवान शहीद हुए और एक आम नागरिक की मौत हुई। सेना ने अपने आॅपरेशन में तीन आतंकवादियों को मार गिराया। उन्होंने क​हा कि चार आतंकवादियों के होने की रिपोर्ट्स थीं। चौथा आतंकी शायद गाइड हो और आर्मी कैंप में दाखिल ना हुआ हो।रक्षा मंत्री ने कहा, 'सुंजवां आर्मी कैंप पर हमला करने वाले आतंकी जैश-ए-मोहम्मद के थे। इन आतंकियों को पाकिस्तान से अजहर मसूद स्पॉन्सर कर रहा था। इस आतंकी हमले से जुड़े सबूत इकठ्ठे कर लिए गए हैं। हम इसे पाकिस्तान को सौंपेंगे। इससे पहले भी पाकिस्तान को सबूत दिए गए थे, लेकिन उसने कोई कार्रवाई नहीं की। पाकिस्तान को सबूत मुहैया कराना अब सतत प्रक्रिया बन गई है। हमें यह हर बार साबित करते रहना होगा कि इन हमलों के पीछे पाकिस्तान में रह रहे आतंकवादियों का हाथ है। पाकिस्तान को इस गुस्ताखी की कीमत चुकानी होगी।'रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि इंटेलिजेंस इन्पुट्स से स्पष्ट हो रहा है कि आतंकवादियों को सीमा पार से उनके आका ​दिशा निर्देश दे रहे थे। एनआईए ने सबूतों की शिनाख्त की है। पाकिस्तान पीर पांजाल के दक्षिण में आतंक को बढ़ावा देने की कोशिश में लगा है और घुसपैठ कराने के लिए सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है।सीआरपीएफ के प्रवक्ता ने बताया, ''शिविर के संतरी ने सुबह करीब साढ़े चार बजे दो संदिग्ध लोगों को पीठ पर बैग लटकाए और हाथों में हथियार लिये हुए देखा। उसने दोनों को ललकारा और उनपर गोलियां चलायीं।प्रवक्ता ने कहा कि आतंकवादी वहां से भाग गये। उन्होंने बताया कि आतंकवादी एक मकान में छुप गये हैं, जिसे सीआरपीएफ ने घेर लिया है। दोनों ओर से गोलीबारी हो रही है। सीआरपीएफ ने और सैनिकों को मौके पर भेजा है ताकि आतंकवादी वहां से फरार ना हो सकें।आतंकियों ने यह नाकाम कोशिश श्रीनगर के SMHS अस्पताल के पास बने आर्मी कैंप पर की थी। आपको बता दें कि अभी कुछ ही दिन पहले इसी अस्पताल पर आतंकी हमला हुआ था, जहां से आतंकी अपने एक साथी को भगा कर ले गए थे। अस्पताल के पास ही सीआरपीएफ की 23वीं बटालियन का हेडक्वार्टर है।बता दें कि श्रीनगर में बर्फबारी दोबारा शुरू हुई है, जिसका फायदा आतंकी उठाना चाहते हैं। इससे पहले रविवार रात को भी आतंकियों ने शोपियां में भी फायरिंग की। हालांकि यहां भी किसी बड़े नुकसान की खबर नहीं है। आपको बता दें कि शनिवार की सुबह आतंकियों ने जम्मू स्थित सुंजवां आर्मी कैंप पर हमला कर दिया था। जिसके बाद पिछले 52 घंटे से सेना का ऑपरेशन जारी है। इस हमले में सेना के 5 जवान शहीद हो गए और 1 नागरिक की भी मौत हो गई। वहीं हमले में 6 जवान समेत 12 लोग घायल हुए। सेना ने भी 4 आतंकियों को ढेर कर दिया। कॉम्बिंग ऑपरेशन अभी भी जारी है।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें