नई दिल्ली - चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के हाथों चैंपियंस ट्राफी के फाइनल में बड़ी हार के साथ खिताब गंवाने वाली भारतीय क्रिकेट टीम को सोमवार को आईसीसी की ताजा जारी वनडे रैंकिंग में एक स्थान का नुकसान उठाना पड़ा है और वह खिसककर तीसरे नंबर पर जबकि पहली बार चैंपियन बनी पाकिस्तान आठवें स्थान से उठकर छठे नंबर पर पहुंची है।
दो अंकों का हुआ नुकसान
आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में गत चैंपियन की हैसियत से उतरी विराट कोहली की टीम इंडिया टूनार्मेंट से पूर्व 118 अंकों के साथ वनडे रैंकिंग में दूसरे नंबर पर थी लेकिन लंदन में रविवार को हुये फाइनल में 180 रनों की बड़ी हार झेलने के बाद वह रैंकिंग में एक स्थान गिर गयी है। भारत को साथ ही दो अंकों का नुकसान भी हुआ है और अब उसके 116 रेटिंग अंक हो गये हैं।
लीग चरण में ही बाहर हो गयी आस्ट्रेलियाई टीम का भारत से एक अंक अधिक 117 अंक हैं और वह एक पायदान के सुधार के साथ वापिस अपने दूसरे पायदान पर पहुंच गयी है। दक्षिण अफ्रीका ने भी चैंपियंस ट्राफी में निराशाजनक प्रदर्शन किया था लेकिन वह अभी भी सवार्िधक 119 अंकों के साथ वनडे में शीर्ष स्थान पर बनी हुई है।
क्वालीफाई करके पहुंचा था पाक
चैंपियंस ट्राफी के लिये आठवें स्थान पर रहकर किनारे से क्वालीफाई करने वाली पाकिस्तानी टीम ने न सिर्फ टूनार्मेंट में पहली बार फाइनल तक का सफर तय किया बल्कि सरफराज अहमद की टीम खिताब तक हासिल करने में सफल रही जो उसकी आईसीसी टूनार्मेंटों में तीसरी सबसे बड़ी जीत है। इसकी बदौलत पाकिस्तान रैंकिंग में दो स्थान उठकर आठवें से छठे पायदान पर पहुंच गया है।
अभी भी 6वें पोजिशन पर
पाकिस्तान के पास अब 95 रेटिंग अंक हैं। उससे आगे चैंपियंस ट्राफी की मेजबान इंग्लैंड 113 अंकों के साथ चौथे और न्यूजीलैंड 111 अंकों के साथ पांचवें पायदान पर है। टूनार्मेंट में पहली बार सेमीफाइनल तक पहुंची बंगलादेशी टीम सातवें स्थान पर है और उसके 94 रेटिंग अंक हैं जबकि श्रीलंका खिसककर आठवें नंबर पर पहुंच गयी है जिसके पास 93 रेटिंग अंक हैं। वेस्टइंडीज(77) और अफगानिस्तान(54) नौवें और क्रमश: दसवें नंबर पर हैं।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें