गोवा सरकार ने उन मीडिया रिपोर्टों के बीच कर्नाटक सीमा के नजदीक बसे एक गांव में अधिकारियों की एक टीम भेजी है, जिनमें कहा गया है कि पड़ोसी राज्य महादयी नदी के जल के मार्ग में परिवर्तन कर रहा है। गोवा के जल संसाधन मंत्री विनोद पालेकर ने शुक्रवार को कहा कि, यह रिपोर्ट आई थी कि कर्नाटक ने सीमा पर कणकुंबी गांव पर महादयी नदी का जल रोकने के लिए बांध बनाने पर काम फिर से शुरू कर दिया है। इसका संज्ञान लेने के बाद टीम को भेजा गया है।"महादयी नदी का तट कर्नाटक और गोवा के साथ-साथ महाराष्ट्र में है और यह जल बंटवारे को लेकर विवादों में रही है। पालेकर ने कहा कि, 'कर्नाटक ने महादयी नदी की सहायक नदी के मार्ग को अवरुद्ध करने और कणकुंबी पर एक परियोजना पर फिर से काम शुरू कर दिया है। इसके बाद मैंने मुख्य इंजीनियर को स्थल का निरीक्षण करने के लिए तुरंत इंजीनियरों की एक टीम भेजने का निर्देश दिया।" केंद्र सरकार ने गोवा और कर्नाटक के बीच नदी के जल बंटवारे के मुद्दे को देखने के लिए अधिकरण का गठन किया है। गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने बुधवार को कहा था कि, कर्नाटक के साथ चल रहे विवाद को महादयी जल विवाद अधिकरण में लड़ा जाएगा।

 

 

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें