गणतंत्र दिवस पर आतंकवादी दिल्ली को दहलाने की फिराक में हैं। सुरक्षा एजेंसियों को बड़ा हमला करने की साजिश का पता चला है। सुरक्षा एजेंसियों को इंटेलिजेंस इनपुट मिला है कि आतंकी वारदात को अंजाम देने की मंशा से 3 संदिग्ध आतंकवादी जामा मस्जिद इलाके में छिपे हो सकते हैं।सुरक्षा बलों को फिदायीन हमले के खतरे के मद्देनजर भी अलर्ट किया गया है।इंटेलिजेंस इनपुट में दिल्ली पुलिस को 26 जनवरी की सुरक्षा को लेकर आगाह किया गया है। इंटेलिजेंस एजेंसियों को इस आतंकी हमले की साजिश एक कॉल इंटरसेप्ट करने के बाद पता चली। साजिश का खुलासा होते ही इंटेलिजेंस एजेंसियों ने तुरंत दिल्ली पुलिस को पूरा इनपुट भेज दिया।इंटेलिजेंस इनपुट के मुताबिक, जामा मस्जिद इलाके में छिपे तीनों संदिग्ध आतंकवादी अफगान मूल के हैं और पश्तो भाषा में बात करते हैं। खुफिया एजेंसियों को यह भी पता चला है कि तीनों संदिग्ध आतंकवादियों को जम्मू कश्मीर के पुलवामा से दिशा-निर्देश मिल रहा है।इतना ही नहीं, यह भी पता चला है कि तीनों संदिग्ध आतंकवादी पाकिस्तान के आतंकी कैंप में ट्रेंड हैं। स्पेशल सिक्योरिटी मीटिंग के दौरान भी इस इंटेलिजेंस इनपुट पर चर्चा की गई। इस इनपुट पर लगातार दिल्ली पुलिस की स्पेशल की टीम के अलावा तमाम जांच ऐजेंसियां जांच पड़ताल में तेजी से जुट गई हैं।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें