कोच्चि - प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोच्चि मेट्रो के प्रथम चरण को शनिवार को राष्ट्र को समपर्ति किया। प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए जोर दिया कि शहरी योजना तैयार करने की पहल में आमूलचूल बदलाव की जरूरत है और इसे लोकोन्मुखी बनाया जाना चाहिए, साथ ही इससे भूमि के उपयोग एचं परिवहन व्यवस्था को जोड़ा जाना चाहिए।
मोदी ने कहा, पिछले तीन सालों के दौरान मेरी सरकार ने देश के आधारभूत ढांचे के सम्पूर्ण विकास पर विशेष ध्यान दिया है। उन्होंने कहा, प्रगति बैठकों में मैंने स्वयं करीब 175 परियोजनाओं की समीक्षा की जो करीब 8 लाख करोड़ रुपये से अधिक की है और इस बारे में रूकावटों को दूर करने का काम किया।
प्रधानमंत्री महत्वाकांक्षी बहुउद्देश्यीय एवं बहुविध प्लेटफार्म प्रगतिे का जिक्र कर रहे थे। मोदी ने कहा कि सरकार अगली पीढी के अधारभूत संरचना पर ध्यान दे रही है जिसमें लाजिस्टिक्स, डिजिटल और गैस क्षेत्रा शामिल है।
प्रधानमंत्री ने अपना भाषण मलयाली में शुरू किया और कहा कि वे कोच्चि मेट्रो के उद्धाटन का हिस्सा बनकर काफी खुश हैं। मोदी ने के मैं कोच्चि के लोगों को इस गौरवपूर्ण क्षण के लिए बधाई देता हूं ।
प्रधानमंत्री ने कहा कि अरब सागर क्षेत्र की रानी के रूप में जाना जाता है और एक समय में यह महत्पपूर्ण व्यापारिक केंद्र रहा है। आज इसे केरल की व्यावसायिक राजधानी के रूप में जाना जाता है। कोच्चि मेट्रो रेल लिमिटेड केंद्र और राज्य के बीच 50/50 हिस्सेदारी की परियोजना है। केंद्र सरकार इस परियोजना के लिए अब तक 2000 करोड़ रुपये जारी कर चुकी है। इसके कोच मेक इन इंडिया की सोच को दर्शाते हैं। इनका निर्माण चेन्नई के पास एल्स्टम में हुआ है।
बता दें कि कोच्चि मेट्रो देश में संचालित आठवीं मेट्रो सेवा है जिस पर 5181.79 करोड़ की लागत आई है। कोच्चि मेट्रो रेल की कुल लंबाई अलुवा से तिरिपुनितुरा तक 25.612 किलोमीटर है तथा इस लाइन पर कुल 22 स्टेशन होंगे। हालांकि पहले चरण में अलुवा से पलारिवत्तोम तक 13 किलोमीटर लंबे ट्रैक पर ही मेट्रो चलाई जाएगी।
बता दें कि कोच्चि केरल का व्यावसायिक केंद्र है। अधिकारियों ने बताया कि उद्घाटन के लिए स्टेडियम जाने से पहले वह उसी ट्रेन से पलारीवत्तोम लौटेंगे। उद्घाटन के दौरान केंद्रीय शहरी विकास मंत्री एम. वेंकैया नायडू, केरल के राज्यपाल पी. सदाशिवम, मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन, केरल विधानसभा में विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला, एरनाकुलम के सांसद के वी थॉमस और मेट्रो मैन ई. श्रीधरन प्रधानमंत्री के साथ मंच साझा किया।
कोच्चि मेट्रो के अधिकारियों ने बताया कि कोच्चि में विश्व स्तरीय मेट्रो प्रणाली से ग्रेटर कोच्चि में क्षेत्रीय संपर्क में सुधार होने से जीवन की गुणवत्ता में सुधार आएगा और इससे भीड़भाड़, यातायात अव्यवस्था, आने-जाने में लगने वाले समय, वायु और ध्वनि प्रदूषण में कमी आएगी।
उदघाट्न समारोह के दौरान बोलते हुए शहरी विकास मंत्री एम वेंकैया नायडू ने कहा कि, "कोच्ची मेट्रो प्रोजेक्ट केरल सरकार और भारत सरकार का एक ज्वाइंट वेंचर है। इसके लिए भारत सरकार ने 2032.91 करोड़ रुपए रिलीज किए हैं। कोच्ची मेट्रो रेल से ये गुजारिश होगी कि काम को तेजी से आगे बढ़ाएं।"
इसके बाद समारोह के दौरान बोलते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने मेट्रो कोचों को "मेक इन इंडिया" का सैंपल बताया। उन्होंने कहा, "इसकी कोच चेन्नई के पास एल्सटॉम कंपनी ने बनाई हैं और इनमें 70% भारतीय सामानों का इस्तेमाल किया गया है।" इसके अलावे उन्होंने मेट्रो में नौकरी के लिए 1000 महिलाओं और 23 ट्रांसजेंडर्स को चुने जाने का भी जिक्र किया।
पठन दिवस समारोह का भी फीता काटेंगे मोदी
इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी कोच्चि के सेंट टेरेसा कॉलेज में आयोजित होने वाले एक कार्यक्रम में राष्ट्रीय पी एन पनिकर स्मृति पठन दिवस समारोह का उद्घाटन करेंगे। पनिकर फाउंडेशन ने कहा कि राज्य में महीने भर तक चलने वाले पठन दिवस समारोह का विस्तार कर इसे राष्ट्रीय बनाया जा रहा है।
समारोह 19 जून से 18 जुलाई तक चलेगा। फाउंडेशन के अनुसार कोच्चि मेट्रो के उद्घाटन के लिए केरल आ रहे मोदी दोपहर सवा 12 बजे पठन समारोह का उद्घाटन करेंगे।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें