बेंगलुरुः कर्नाटक विधानसभा चुनावों के नतीजे आने के बाद राज्य में सरकार बनाने को लेकर सियासी घमासान जारी है। एक ओर जहां नतीजों में सबसे ज्यादा सीटें लेने वाली बीजेपी बहूमत के आंकड़े को नहीं छू पाई, तो वहीं दूसरी ओर कांग्रेस ने जेडीएस का हाथ थाम लिया है। कांग्रेस और जेडीएस की मिलकर 117 सीटें हो जाती हैं, तो वहीं बीजेपी को 104 सीटें मिली हैं। दोनो पक्षों की ओर से अब सरकार बनाने के दावे किए जा रहे हैं। अब सबकी निगाहें गवर्नर वजुभाई के फैसले पर टिकी हैं कि वह किसे सरकार बनाने के लिए पहले आमंत्रित करते हैं।इस बीच, कांग्रेस ने बीजेपी पर उनके विधायकों से संपर्क साधने का आरोप लगाया है। इसके साथ ही कांग्रेस ने किसी भी तरह की फूट से साफ इनकार किया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने बुधवार को कहा, 'सबसे बड़ी पार्टी के पास पर्याप्त संख्या नहीं है। BJP के पास 104 विधायक हैं और हमारे (कांग्रेस और JDS) के पास 117 हैं। गवर्नर पक्ष नहीं ले सकते हैं। क्या ऐसा व्यक्ति, जो संविधान को बचाने के लिए हैं वह खुद उसपर चोट करेगा। गवर्नर को अपने सभी पुराने संबंधों को अलग रखना चाहिए, जो उनके बीजेपी या आरएसएस के साथ रहे हैं।' आजाद ने साफ कहा कि 'जेडीएस को अपने विधायकों पर पूरा भरोसा है। कोई भी नहीं जाएगा, बीजेपी जो भी चाहती है उसे कोशिश करने दीजिए।' खबरें ये भी हैं कि कुमारस्वामी को सीएम पद दिए जाने से कांग्रेस के कुछ लिंगायत विधायक नाराज हैं। इस पर सिद्धारमैया ने कहा, 'कांग्रेस के सभी विधायक एकसाथ है। कोई भी मिसिंग नहीं है। हम सरकार बनाने को लेकर पूरी तरह से आश्वस्त हैं।'इस बीच बड़ा सवाल यह है कि 104 सीटें जीतने वाली बीजेपी 112 के जादुई आंकड़े को कैसे हासिल करेगी? इस पर पार्टी नेता बसवराज बोमई ने कहा, 'राजनीतिक तस्वीर अगले 2-3 दिनों में साफ होगी। यह राजनीतिक पार्टियों के फैसले पर निर्भर करेगी।'

 

 

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें