नई दिल्ली - बैन के दो वर्ष के बाद आइपीएल के 11वें संस्करण में वापसी कर रहे राजस्थान रॉयल्स ने मुंबई के पूर्व क्रिकेटर अमोल मजूमदार को अपनी टीम का बल्लेबाजी कोच नियुक्त किया है। अमोल मजूमदार भारत के बेहतरीन घरेलू क्रिकेटरों में से एक रहे हैं और 171 फर्स्ट क्लास मैचों में उनके नाम पर 11,167 रन है।
राजस्थान रॉयल्स के हेड जुबिन भारुचा ने कहा कि हमें इस बात का गर्व है कि अमोल मजूमदार हमारी टीम की वजह से जुड़े हैं। घरेलू क्रिकेट में उनका कमाल का रिकॉर्ड इस बात की गवाही देता है कि वो किस स्तर के साथ ही कितने महान क्रिकेटर हैं। हमारी टीम के युवा बल्लेबाजों को उनकी मदद से काफी कुछ सीखने को मिलेगा साथ ही उनकी बल्लेबाजी और बेहतर होगी। उन्होंने ये भी कहा कि अमोल और गेंदबाजी कोच सिराज बहूतुले दोनों टीम के खिलाड़ियों के स्किल को और बेहतर करेंगे। इसके अलावा दोनों के अनुभव की वजह से टीम के खिलाड़ियों को सही दिशा मिलेगी और वो अपनी ताकत टीम की जीत के लिए इस्तेमाल करेंगे।
राजस्थान का बल्लेबाजी कोच बनने के बाद अमोल ने कहा कि एक कोच के तौर पर आपका काम होता है कि नए और युवा बल्लेबाजों को आप बल्लेबाजी के सही स्केल के बारे में बताओ साथ ही टीम की बल्लेबाजी सही दिशा में जाए इसके उपर भी काम करना होता है। ये एक ऐसा रोल है जिसे लेकर मैं काफी उत्साहित हूं।
43 वर्षीय अमोल मजूमदार ने जयपुर के स्वाति मानसिंह स्टेडियम में मंगलवार से राजस्थान के घरेलू क्रिकेटरों के साथ काम करना शुरू कर दिया है। इस ट्रेनिंग कैंप का मुख्य मकसद खिलाड़ियों को अप्रैल में शुरू होने वाले आइपीएल के लिए तैयार करना है। इस ट्रेनिंग कैंप में अमोल फ्रेंचाइजी से जुड़े खिलाड़ियों को बल्लेबाजी की तकनीक सीखाते नजर आएंगे।
अमोल मजूमदार ऐसे घरेलू बल्लेबाज रहे हैं जिन्हें एक बार भी भारतीय क्रिकेट टीम के लिए खेलने का मौका नहीं मिला। जिस वक्त अमोल भारतीय टीम में अपनी एंट्री के लिए संघर्ष कर रहे थे उस वक्त टीम में काफी बड़े-बड़े खिलाड़ी थे जिसकी वजह से उन्हें कभी मौका ही नहीं मिल पाया।

 

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें