गोल्ड कोस्ट - राष्ट्रमंडल खेलों की 'नो नीडल पॉलिसी' का उल्लंघन करने की वजह से खेलों से बाहर हुए दोनों भारतीय एथलीटों पर एएफआई भी जांच के बाद प्रतिबंध लगाएगा। रेसवॉकर केटी इरफान और त्रिकूद खिलाड़ी वी राकेश बाबू को खेलों से बाहर करके स्वदेश लौटने को कहा गया, क्योंकि ये दोनों खेलगांव में बेडरूम से सुइयां मिलने का कारण स्पष्ट नहीं कर सके। दोनों ने पूछताछ के दौरान खूद को बेकसूर बताया लेकिन राष्ट्रमंडल खेल महासंघ अदालत ने उनकी दलील को अविश्वसनीय और कपटपूर्ण बताया।
भारतीय एथलेटिक्स महासंघ के सचिव सी के वाल्सन ने कहा,'एएफआई भी उन्हें सजा देगा। यह हमारे लिए शर्मिंदगी की बात है। खेल समाप्त होने के बाद मामले की जांच की जाएगी और एक समिति का गठन किया जाएगा। वाल्सन ने कहा कि खिलाड़ियों का कहना है कि वे बेकसूर हैं और उन्होंने पटियाला में खेलों के लिए रवाना होने से पहले शायद अपने बैग अच्छी तरह से चेक नहीं किये थे।
उन्होंने कहा,'खिलाड़ियों का कहना है कि गलती से सुई उनके बैग में रह गई, जब उन्होंने खेलों के लिये रवाना होने से पहले पैकिंग की थी। यहां आने पर बैग में सुई मिलने के बाद उन्होंने उसे कप में रख दिया क्योंकि उसे फेंका नहीं जा सकता। उन्होंने कहा,'हम जांच करेंगे कि इन दावों में कितनी सच्चाई है।' वाल्सन ने कहा ,'डोपिंग का कोई मसला नहीं है। दोनों के टेस्ट निगेटिव थे। लेकिन यह गलती तो है ही, क्योंकि भारतीय खिलाड़ियों को बार बार इसके बारे में जानकारी दी गई थी। वे खेलगांव से चले गए हैं और जल्दी ही भारत रवाना होंगे।'

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें