खेल

खेल (4013)

सिडनी। दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली गई टेस्ट सीरीज़ के दौरान ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने बॉल टेंपरिंग जैसी शर्मनाक हरकत की थी। इस घटना को काफी समय बीत चुका है, लेकिन इस घटना को लेकर अभी भी कोई न कोई बयान आता ही रहता है। ऑस्ट्रेलिया के तेज़ गेंदबाज़ मिचेल स्टार्क ने अब इस घटना को लेकर एक बयान दिया है। मिचेल स्टार्क जो कि उस टेस्ट मैच का हिस्सा थे, उन्होंने पहली बार इस मामले पर चुप्पी तोड़ते हुए अपनी नाराजगी ज़ाहिर की है। स्टार्क इस घटना में अपना नाम घसीटे जाने पर नाराज हैं।सिडनी में एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि जिस तरह प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस मुद्दे को मीडिया के सामने रखा गया वो सही नहीं था। स्टार्क ने कहा कि मीडिया के सामने पूरी सच्चाई नहीं बताई गई, इससे दूसरे खिलाड़ियों के सम्मान पर असर पड़ा।प्रेस कॉन्फ्रेंस में ये आरोप लगाया गया कि इसमें पूरा लीडरशिप ग्रुप भी शामिल था लेकिन उन्होंने बिल्कुल भी नहीं सोचा कि इस बयान का कितना बड़ा असर पड़ेगा। इससे दूसरे खिलाड़ियों की गरिमा पर फर्क पड़ा। हालांकि इन सबके बावजूद स्टार्क ने कहा कि उनके मन में अब भी स्टीव स्मिथ के लिए काफी इज्जत है।स्टार्क ने डेविड वॉर्नर और कैमरन बैनक्रोफ्ट के लिए भी यही बात कही। स्टार्क ने कहा कि इन तीनों खिलाड़ियों को मैदान पर एक बार फिर से देखना काफी अच्छा होगा। हालांकि लोगों का विश्वास जीतने में अभी समय लगेगा लेकिन अपने खेल और व्यवहार से हम सभी क्रिकेट फैंस का दिल जीत कर रहेंगे। अभी हमारा पूरा ध्यान क्रिकेट पर है।आपको बता दें कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच के दौरान ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी कैमरन बैनक्रोफ्ट को गेंद से छेड़छाड़ करते हुए पाया गया था। इसके बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कप्तान स्टीव स्मिथ ने कहा था कि इसकी जानकारी टीम के दिग्गज खिलाड़ियों को थी। इसके बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ पर 1-1 साल और कैमरन बैंक्रोफ्ट पर 9 महीने का प्रतिबंध लगाया था। इसके साथ ही साथ क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने ये भी साफ कर दिया था कि भविष्य में डेविड वॉर्नर को कभी भी ऑस्ट्रेलियाई टीम का कप्तान नहीं बनाया जाएगा।

 

 

चंडीगढ़ के राजनीतिक पिच पर कुछ नया ही होने वाला है। भारतीय क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाडी रहे कपिलदेव को लेकर इस वक़्त एक बड़ी खबर आ रही है। खबर है, कि बीजेपी उनके ऊपर दवाब डाल रही है कि वह 2019 में पार्टी की तरफ से चुनाव लड़ें।पिछले दिनों बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने “संपर्क से समर्थन” कार्यक्रम के तहत उनसे मुलाकात की, तभी से इस खबर को जैसे पंख लग गए हैं।मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कपिल देव चंडीगढ़ से बीजेपी का चेहरा हो सकते हैं।सूत्रों के मुताबिक कपिलदेव चुनाव लड़ने के पक्ष में नहीं है, लेकिन बीजेपी की तरफ से उनको लगातार रिझाने की कोशिश की जा रही है। चंडीगढ़ में बीजेपी कई गुटों में बंटी हुई है और एक्ट्रेस और सांसद किरण खेर से लोग अच्छे-खासे नाराज बताए जा रहे हैं, ऐसे में अमित शाह को एक ऐसे चेहरे की तलाश हैं, जो चंडीगढ़ वालों की पसंद बन सके। कपिलदेव चंडीगढ़ में ही पैदा हुए और यहीं पले बढे हैं।सूत्रों की माने तो कपिलदेव का नाम आते ही बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही पार्टियों के नेताओं ने चुप्पी साध ली।दैनिक सवेरा ने बीजेपी के कई नेताओं से इस खबर की पुष्टि करनी चाही लेकिन कोई भी इस मुद्दे पर खुलकर बोलने के लिए तैयार नहीं है।

 

 

 

वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम ने क्वींस पार्क ओवल मैदान पर बुधवार को श्रीलंका के साथ शुरू हुए पहले टेस्ट मैच के पहले दिन का खेल खत्म होने तक अपनी पहली पारी में छह विकेट पर 246 रन बना लिए। श्रीलंका की तरफ से ये दिन लाहिरू कुमारा के नाम रहा। उन्होंने इस टेस्ट मैच के शुरुआती दिन 3 कैरिबियाई बल्लेबाज़ों को पवेलियन की राह दिखाई।टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी मेजबान टीम ने कुल 84 ओवरों का सामना किया और 2.92 के औसत से रन जुटाए। क्रेग ब्राथवेट (3) और डेवन स्मिथ (7) ने निराश किया लेकिन इसके बाद आए बल्लेबाजों ने संयम के साथ खेलते हुए टीम को सम्मानजनक योग तक पहुंचाया।केरन पॉवेल ने 38, शाई होप ने 44, रोस्टन चेस ने 38, विकेटकीपर शेन डोवरिच ने नाबाद 46 और कप्तान जेसन होल्डर ने 40 रनों की पारी खेली। पावेल ने अपनी 68 गेंदों की पारी में छह चौके लगाए।इसके अलावा होप ने 70 गेंदों पर नौ चौके लगाए जबकि चेस ने 83 गेंदों की पारी में पांच बार गेंद को सीमा रेखा के पार पहुंचाया। डोवरिच ने 133 गेंदों की नाबाद पारी में पांच चौके लगाए हैं। कप्तान ने 88 गेंदों पर चार चौके लगाए।श्रीलंका की ओर से लाहिरू कुमारा ने सबसे अधिक तीन विकेट लिए जबकि रंगना हेराथ और सुरंगा लकमल को एक-एक सफलता मिली। डेवन स्मिथ रन आउट हुए।

 

 

नई दिल्ली। दुनियाभर की लोकप्रिय हस्तियों के बीच अब भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने भी अपनी जगह बना ली है। आपको बता दें कि विराट कोहली के मोम की प्रतिमा को दिल्ली के मैडम तुसाद संग्रहालय में जगह दी गई है। कोहली का यह पुतला उनकी विश्वविख्यात बल्लेबाजी के बारे कहानी बयां कर रहा है। बुधवार को देश की राजधानी दिल्ली के मैडम तुसाद म्यूजियम में कोहली के इस मोम के पुतले का अनावरण किया गया। कोहली के इस पुतले को भारतीय क्रिकेट टीम की जर्सी में दिखाया गया है।मर्लिन एंटरटेनमेंट्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के महाप्रबंधक अंशुल जैन ने कहा, 'क्रिकेट और क्रिकेट के खिलाड़ियों के प्रति लोगों में किस प्रकार का जुनून है यह बात हम सभी जानते हैं, दुनियाभर में विराट कोहली के प्रशंसकों की भरमार है, कोहली आज के दौर में क्रिकेट के बड़े स्टार हैं। कोहली के प्रति फैंस में बढ़ते हुए इस प्यार के कारण ही उनकी प्रतिमा दिल्ली के मैडम तुसाद संग्रहालय में शामिल करना एक जरूरी निर्णय हो गया।'अंशुल ने बताया कि, ‘विराट कोहली के इस मोम के पुतले का निर्माण 20 कुशल कारीगरों ने किया इस काम के लिए इन कारीगरों ने छह महीने का समय लिया, इसके निर्माण के लिए विराट कोहली के 200 बार नाप लिए गए और कई बार उनकी फोटो भी ली गई। विराट का यह पोज क्रिकेट के मैदान में उनकी उपलब्धियों को दर्शाता है।अंशुल ने बताया कि जब विराट का यह पुतला बनकर तैयार हो गया तो इसकी एक फोटो विराट कोहली को भेजी गयी जिसे देखकर भारतीय कप्तान खुश हो गए और कहा, ‘मैं इसके लिए किए गए काम और प्रयास की सराहना करता हूं। मैडम तुसाद का मुझे चुनना जीवन का एक अतुलनीय अनुभव है। मैं प्रशंसकों के प्यार और समर्थन का आभारी हूं।'

नई दिल्ली। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली को उनके बेहतरीन प्रदर्शन का इनाम मिलने वाला है। बीसीसीआइ ने ये एलान किया है कि 2016-17 और 2017-18 में कोहली के बेहतरीन प्रदर्शन के लिए उन्हें पॉली उमरीगर अवॉर्ड से नवाज़ा जाएगा। कोहली को ये अवॉर्ड 12 जून को बेंगलुरु में होने वाले बीसीसीआइ अवॉर्ड्स में दिया जाएगा। इसी दिन बीसीसीआइ इंटरनेशनल और डोमेस्टिक लेवल पर अवॉर्ड जीतने वाले अन्य विजेतओं को भी सम्मानित करेगा।ये चौथा मौका होगा जब विराट कोहली को ये अवॉर्ड दिया जाएगा। वो पहले ऐसे खिलाड़ी बनेंगे जो चार बार इस अवॉर्ड को अपने नाम करेंगे। इससे पहले वह 2011-12, 2014-15, 2015-16 में यह अवॉर्ड जीत चुके हैं। बता दें कि पॉली उमरीगर अवॉर्ड इंटरनेशनल लेवल पर शानदार प्रदर्शन करने वाले भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी को दिया जाता है। विराट ने पिछले साल क्रिकेट के सभी फॉर्मेट में उम्दा प्रदर्शन किया है।
कोहली के अलावा इन्हें भी मिलेगा अवॉर्ड:-विराट कोहली को यह अवॉर्ड पुरुष वर्ग में दिया गया है, जबकि महिला वर्ग में हरमनप्रीत कौर (2016-17) और स्मृति मंधाना (2017-18) को दिया जाएगा। इस बार अपने बेहतरीन प्रशासकों में से एक का सम्मान करने के लिए बीसीसीआइ ने जगमोहन डालमिया की याद में 4 पुरस्कारों का नामकरण किया है। जगमोहन डालमिया ट्रॉफी अंडर-16 क्रिकेट में सबसे अधिक रन और सबसे अधिक विकेट लेने वाले खिलाड़ी को दी जाएगी, जबकि विजय मर्चेंट ट्रॉफी बेस्ट जूनियर और सीनियर महिला क्रिकेटर को देकर सम्मानित किया जाएगा।यही नहीं, बोर्ड ने इस बार अवॉर्ड विनर को मिलने वाली एक लाख रुपये की राशि को बढ़ाने का फैसला किया है। सभी 9 वर्गों के विजेताओं को डेढ़ लाख रुपये मिलेंगे। 2016-17 सत्र में जबरदस्त प्रदर्शन करने के लिए क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल (CAB) को बेस्ट एसोसिएशन का अवॉर्ड दिया जाएगा, जबकि 2017-18 का अवॉर्ड दिल्ली क्रिकेट असोसिएशन (DDCA) के खाते में गया है

नई दिल्ली। भारतीय टीम को अफगानिस्तान के खिलाफ 14 जून से टेस्ट मैच खेलना है। बेंगलुरु में होने वाला ये मुकाबला अफगानिस्तान का पहला टेस्ट मैच होगा। इस टेस्ट से पहले टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी और जिम्बाब्वे के कोच लालचंद राजपूत ने टीम इंडिया को आगाह किया है कि वो इस टेस्ट मैच में स्पिन गेंदबाज़ के लिए मददगार पिच न तैयार करे। इसके अलावा उन्होंने राशिद खान के खिलाफ खेलने के कुछ मंत्र भी बताए हैं।लालचंद राजपूत ने कहा कि अफगानिस्तान के पास तीन शानदार स्पिनर हैं जो भारतीय बल्लेबाजों को परेशानी में डाल सकते हैं। बेंगलुरु में स्पिन पिच नहीं बनाकर तेज गेंदबाजों के लिए मददगार विकेट तैयार करना बेहतर चाहिए। अफगानिस्तान के पूर्व कोच ने आगे कहा कि टीम इंडिया के पास मेजबान टीम की तुलना में अच्छे तेज गेंदबाज हैं और वे 3 दिन में मैच खत्म करने की क्षमता रखते हैं।राशिद खान से निपटने के बार में उनका कहना था कि इस खिलाड़ी की गेंदों को मारने के प्रयास में विकेट गंवाना पड़ेगा। उन्हें हैंडल करने के लिए फ्रंटफुट पर जाकर खेलना सही है क्योंकि बैकफुट पर वे खतरनाक हो सकते हैं। आगे राजपूत ने कहा कि स्पिन पिच मिल गई तो राशिद खान के साथ दो अन्य स्पिनर भी भारत के लिए मुश्किलें पैदा कर सकते हैं।गौरतलब है कि अफगानिस्तान की टीम में राशिद खान के अलावा मुजीब उर रहमान और मोहम्मद नबी के रूप में दो ऑफ़ स्पिनर हैं। इसके अलावा चाइनामैन जहीर खान और लेफ्ट आर्म स्पिनर आमिर हमजा भी उनके पास है।। देखा जाए तो अफगान टीम में स्पिनरों की भरमार है। टीम इंडिया के पास भी आर अश्विन और रविन्द्र जडेजा के अलावा चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव हैं।राशिद खान का प्रदर्शन हाल ही में काफी अच्छा रहा है। बांग्लादेश के खिलाफ उन्होंने लगातार 2 टी20 मैच जितवाकर टीम को सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त दिलाई है। आइपीएल में भी उन्होंने 21 विकेट अपने नाम किये और अपनी टीम सनराइजर्स हैदराबाद को फाइनल तक का सफर तय कराने में अहम योगदान दिया।

दुबई। अफगानिस्तान से सीरीज़ गंवाने के बाद बांग्लादेश के तेज़ गेंदबाज़ रुबेल हुसैन को एक और बड़ा झटका लगा है। दूसरे मैच में हार के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आइसीसी) ने आचार संहिता का उल्लंघन करने के मामले में बांग्लादेश के तेज गेंदबाज रुबेल हुसैन को कड़ी फटकार लगाई है और उनके खाते में एक डिमेरिट अंक भी जोड़ दिया है।आइसीसी की ओर से जारी एक विज्ञप्ति के मुताबिक, रुबेल…
ऑकलैंड। न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के मुख्य कोच माइक हेसन ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। 6 साल तक न्यूजीलैंड के कोच रहने वाले हेसन ने अपने परिवार और बच्चों के साथ अधिक समय बिताने के लिए यह फैसला लिया है। वो 31 जुलाई के बाद से टीम के कोच नहीं रहेंगे।साल 2012 में हेसन को न्यूजीलैंड टीम का कोच बनाया गया था। उनकी कोचिंग के दौरान न्यूजीलैंड की…
नई दिल्ली। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली भले ही इन दिनों अपनी चोट की वजह से मैदान से दूर हो, लेकिन उनका जलवा अब भी कायम है। कोहली ने फोर्ब्स द्वारा जारी की गई दुनिया के सबसे ज्यादा कमाई करने वाले ‍100 खिलाड़‍ियों की सूची में स्थान बनाया। कोहली इस सूची में जगह बनाने वाले एकमात्र भारतीय खिलाड़ी हैं। इस सूची में पूर्व मुक्केबाजी चैंपियन फ्लॉयड मेयवेदर नंबर वन…
नई दिल्ली। वेस्टइंडीज़ के धुआंधार खिलाड़ी क्रिस गेल एक तेज़-तर्रार क्रिकेटर के साथ-साथ मौज मस्ती में रहने वाले शख्स भी हैं। गेल सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहते हैं। गेल के फैंस भी अपने इस चहेते खिलाड़ी को कॉपी करने की कोशिश करते हैं। इस बार ऐसे ही एक फैन ने गेल को कॉपी करते हुए एक डांस वीडियो पोस्ट किया और फिर गेल ने इस पर मजाकिया अंदाज़…
Page 7 of 287

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें