खेल

खेल (3838)

B'DAY SPECIAL: ईशांत शर्मा के बारे में 5 INTERESTING FACTS

 

नई दिल्ली - टीम इंडिया के तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा अपना 28वां जन्मदिन मना रहे हैं। 2 सितंबर 1988 को दिल्ली में जन्मे इस तेज गेंदबाज ने क्रिकेट में बहुत शानदार आगाज किया। ईशांत को उनके लंबे कद के चलते लोग 'लंबू' भी बोलते हैं। ईशांत ने अपने शुरुआती दिनों में ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग को खूब परेशान किया था।

ईशांत शर्मा के बारे में 5 ऐसी बातें जो जानना जरूरी है-

1- ईशांत शर्मा टीम इंडिया के सबसे लंबे क्रिकेटरों में शुमार हैं। उनकी हाइट 6 फुट 4 इंच है। टीम इंडिया के सबसे लंबे क्रिकेटर अबय कुरुविला को माना जाता है। अबय की लंबाई 6 फुट 6 इंच है। टीम में ईशांत का निकनेम भी 'लंबू' है।

2- 2008 में जहीर खान चोटिल हुए और सिडनी टेस्ट के लिए ईशांत को टीम में शामिल किया गया। इस मैच में उन्होंने प्रभावी गेंदबाजी की और इसके चलते पर्थ टेस्ट के लिए वो टीम में बने रहे। पर्थ टेस्ट में ईशांत ने अपनी गेंदबाजी से सबको हैरान कर दिया था। पर्थ टेस्ट में शर्मा ने दोनों पारियों में कप्तान पोंटिंग को पवेलियन भेजा और टीम इंडिया की जीत में अहम भूमिका निभाई। इसके बाद एडिलेड टेस्ट में भी शर्मा ने तीन विकेट झटके।

3- 2008 में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के पहले सीजन में ईशांत को कोलकाता नाइट राइडर्स ने 950,000 अमेरिकी डॉलर में खरीदा था। आईपीएल का पहला सीजन हालांकि उनके लिए बहुत खराब रहा। ईशांत ने पूरे टूर्नामेंट में 253 गेंदे फेंकी। इस दौरान उनके नाम पर सात विकेट ही दर्ज हो पाए थे। इस तरह से एक विकेट की कीमत कोलकाता नाइट राइडर्स को काफी महंगी पड़ी। इसके चलते ईशांत को 2011 नीलामी में आधे दाम पर खरीदा गया।

4- ईशांत शर्मा के नाम पर एक शर्मनाक रिकॉर्ड भी दर्ज है। 21वीं सदी में टीम इंडिया के खिलाफ टेस्ट में बने तीन बड़े स्कोर बनाने वाले बल्लेबाजों का कैच उन्होंने ही ड्रॉप किया था। 2011 में इंग्लैंड के एलिस्टेयर कुक ने भारत के खिलाफ 294 रन बनाए थे, ईशांत ने उनका कैच ड्रॉप किया था। फिर 2012 में सिडनी टेस्ट में माइकल क्लार्क ने 329 रनों की नॉटआउट पारी खेली थी, इसमें भी ईशांत ने उनका कैच टपकाया था। 2014 में वेलिंग्टन टेस्ट में ईशांत को ब्रेंडन मैक्कलम का कैच टपकाना बहुत भारी पड़ा। मैक्कलम ने इस मैच में 302 रनों की पारी खेली थी।

5- शर्मा जब 18 साल के थे तब उन्हें टीम इंडिया में शामिल करने के लिए कॉल आया था। 2006-07 दक्षिण अफ्रीकी दौरे के लिए उन्हें टीम से बुलावा आया। उन्होंने दौरे पर जाने की सारी तैयारी कर ली लेकिन बाद में उन्हें इस दौरे पर नहीं ले जाया गया।

 

मेलबर्न - ऑस्ट्रेलिया के सबसे उम्रदराज टेस्ट खिलाड़ी पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज लेन मैडोक्स का निधन हो गया है। वह 90 वर्ष के थे। पिछले साल आर्थर मॉरिस के निधन के बाद मैडोक्स ऑस्ट्रेलिया के सबसे उम्रदराज जीवित टेस्ट क्रिकेटर थे।

उन्होंने 1950 के दशक में अपने छोटे करियर में पांच टेस्ट मैचों में हिस्सा लिया। मैडोक्स के निधन के बाद अब पूर्व ओपनिंग बल्लेबाज केन आर्चर देश के सबसे उम्रदराज क्रिकेटर बचे हैं। पूर्व ऑस्ट्रेलियाई विकेटकीपर को स्टम्प्स के पीछे उनके बेहतरीन प्रदर्शन के लिए जाना जाता था और एक बार इसी कारण से उनकी उंगली में फ्रैक्चर हो गया गया था।

साल 1950 के दशक में मैडोक्स अन्य विकेटकीपर गिल लेंग्ली के बाद दूसरे अहम खिलाड़ी थे। मैडोक्स ने ऑस्ट्रेलियाई टीम के साथ कई दौरे किए लेकिन उन्हें प्लेइंग इलेवन में बहुत कम ही मौके मिले। मैडोक्स ने इंग्लैंड में 1954-55 में एमसीजी ग्राउंड में अपना टेस्ट डेब्यू किया था। इस मैच में उन्होंने पहली पारी में सर्वाधिक 47 रन की पारी खेली।

इसी सीरीज में उन्होंने एडिलेड ओवल टेस्ट में भी 69 रन की पारी दूसरी बड़ी पारी खेली थी। घरेलू क्रिकेट में भी काफी लोकप्रिय मैडोक्स ने विक्टोरिया और तस्मानिया टीमों के लिए कप्तानी की थी और उनका घरेलू करियर करीब 20 सालों तक चला।

उन्होंने अपने फर्स्ट क्लास क्रिकेट करियर खत्म होने के बाद भी क्लब क्रिकेट खेलना जारी रखा और 46 वर्ष की उम्र तक क्रिकेट से जुड़े रहे। उनके बेटे इयान भी विकेटकीपर हैं जिन्होंने विक्टोरिया के लिये 25 मैच खेले। साल 1926 में जन्मे मैडिक्स ने बाद में एसीबी बोर्ड सदस्य के रूप में भी भूमिका अदा की। वह साल 1977 में एशेज सीरीज के लिये इंग्लैंड दौरे पर आस्ट्रेलियाई टीम के मैनेजर भी रहे थे।

 

सिडनी - ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज रेयान हैरिस को टीम का गेंदबाजी कोच बनाया गया है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए हैरिस को यह जिम्मेदारी सौंपी गई है। हैरिस ऑस्ट्रेलिया के हेड कोच डैरेन लेहमैन और असिस्टेंट कोच डेविड सेकर के साथ काम करेंगे।

36 वर्षीय हैरिस ने पिछले साल क्रिकेट के सभी फॉरमैट को अलविदा कह दिया था। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के लिये 27 टेस्ट, 21 वनडे और तीन टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं। दक्षिण अफ्रीका दौरे की शुरुआत 27 सितंबर से होगी जहां ऑस्ट्रेलिया की टीम आयरलैंड के खिलाफ एक वनडे खेलने के बाद दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांच मैचों की सीरीज खेलेगी।

टेस्ट में 113 और वनडे में 44 विकेट लेने वाले हैरिस ने अपनी नई भूमिका को लेकर कहा, 'डेविड और लेहमैन के साथ काम करने का अच्छा अनुभव रहा है। मैं अब बैठूंगा और सीखूंगा।' उन्होंने कहा, 'पहले मैं अपने काम पर ध्यान दूंगा और एक दिन ऑस्ट्रेलिया का बेहतरीन गेंदबाजी कोच बनूंगा। जैसे आप खेलते हैं उसी तरह से आप कोचिंग भी समय के साथ ही सीखते हैं।'

टीम से बाहर स्टार्क और हेजलवुड

ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क और जोश हेजलवुड को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ इस महीने होने वाली वनडे सीरीज से आराम दिया जाएगा। मुख्य चयनकर्ता रॉड मार्श ने कहा, 'ऑस्ट्रेलिया को इस सीजन में 10 टेस्ट मैच खेलने हैं ऐसे में मिशेल और जोश पर काफी जिम्मेदारी होगी।' क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने कहा कि हेजलवुड श्रीलंका के दौरे से तुरंत लौटेंगे जबकि स्टार्क वनडे और टी-20 मैचों के लिए रहेंगे।

 

जोहांसबर्ग - दक्षिण अफ्रीका के स्टार बल्लेबाज ए बी डीविलियर्स अपनी ऑटोबायोग्राफी के अगले सप्ताह रिलीज होने से पहले ही उसे भारत में मिली शानदार प्रतिक्रिया से उत्साहित हैं। अपनी आत्मकथा के रिलीज को लेकर बल्लेबाज ने कहा कि वह जब भी भारत में खेलते हैं लोगों से उन्हें बेहतरीन प्रतिक्रिया मिलती है।

डिविलियर्स का भारत से खास 'कनेक्शन'

उन्होंने कहा, 'मैं जब भी भारत में खेलने जाता हूं स्टेडियम में एबी... एबी... की आवाज ही सुनाई देती है और मैं खुद की ही आवाज नहीं सुन पाता हूं। मेरे लिए यह उम्मीद से परे है।' दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज ने साथ ही बताया कि पिछले साल भारत में फाइनल वनडे के दौरान वानखेड़े स्टेडियम में लोगों की प्रतिक्रिया बेहद खास थी और वह उसे कभी नहीं भूल सकते हैं।

उन्होंने कहा, 'ऐसा पूरी ही सीरीज में हो रहा था कि लोग मेरा नाम पुकार रहे थे। लेकिन बाद में मुझे एहसास हुआ कि मैं अपने घर से बहुत दूर हूं लेकिन लोग मेरा किस तरह से समर्थन कर रहे हैं जैसे कि मैं उन्हीं के देश का खिलाड़ी हूं जबकि मैं उनकी टीम के खिलाफ खेल रहा था।'

किताब का रिलीज अगले सप्ताह होनी है लेकिन प्रकाशन से पूर्व ही इसे लेकर भारत में काफी ऑर्डर आ रहे हैं। 'डीविलियर्स को भारत में किस कदर लोकप्रियता हासिल है उसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि उन्होंने अपनी किताब में एक अध्याय‘इन्सपायर्ड बाए इंडिया’भी लिखा है जिसमें उन्होंने लिखा है कि भारत में उन्हें बहुत मौके मिले हैं जो उनके करियर में बहुत अहम हैं।

'...तब आईपीएल में खेलकर हुई थी शर्मिंदगी'

आईपीएल में खेलने को लेकर उन्होंने लिखा है कि इस टूर्नामेंट ने खिलाड़ियों के खेल को ही बदल कर रख दिया क्योंकि जो खिलाड़ी कभी प्रतिद्वंद्वी होते थे वही एक दूसरे के दोस्त बन गए और एक साथ टीमों में खेलने लगे। हालांकि उन्होंने जनवरी 2011 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू के लिए खेलने के लिए 11 लाख रुपये की मामूली कीमत का प्रस्ताव दिए जाने पर निराशा जताई।

स्टार बल्लेबाज ने लिखा, 'मेरे प्रदर्शन के बाद मेरी कीमत काफी बढ़ गई लेकिन मैं सच कहूं तो जब नीलामी में मेरे नाम के सामने 11 लाख रुपये की कीमत लिखी गई थी तो मुझे काफी शर्मिंदगी हुई थी।' डिविलियर्स ने साथ ही कहा, 'मुझे यकीन है कि आईपीएल लगातार बढ़ता रहेगा और मैं उम्मीद करता हूं कि कुछ और वर्ष मैं इस लीग के साथ जुड़ा रह सकूं। भारतीय प्रशंसक, स्टेडियम का शोर और माहौल क्रिकेट खेलने के लिहाज से बेहतरीन है।' दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज की आत्मकथा को इसी महीने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में भी रिलीज किया जाएगा।

दुनिया के महान क्रिकेटरों में शुमार दक्षिण अफ्रीकी स्टार एबी डिविलियर्यस की आत्मकथा अगले महीने मार्केट में आ जाएगी। 'एबी: द ऑटोबायोग्राफी' में डिविलियर्स के बचपन, स्कूल के दिनों, क्रिकेट में डेब्यू, करियर के उतार चढावों और बतौर कप्तान अनुभव और विवादों के बारे में लिखा गया है।क्रिकेट के 'सुपरमैन' कहे जाने वाले डिविलियर्स खुद भी इन दिनों अपनी ऑटोबायोग्राफी पर सिग्नेचर करने में व्यस्त हैं। उन्होंने ट्वीट किया, 'किताबों पर साइन करने में व्यस्त। आने वाले कुछ दिन रोचक होंगे। @PanMacmillanSA #ABbook'इसमें संगीत के डिविलियर्स के शौक और बिजनेस में उनकी रुचि के बारे में भी बताया गया है। यह ऑटोबायोग्राफी अंग्रेजी और अफ्रीकान में दक्षिण अफ्रीका में 8 सितंबर को और उसी दिन अंग्रेजी में पेन मैकमिलन द्वारा ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और भारत में लॉन्च होगी।

भारतीय टेनसी खिलाड़ी लिएंडर पेस, रोहन बोपन्ना और महिला युगल की दुनिया की नंबर वन खिलाड़ी सानिया मिर्ज़ा ने इस साल के आखिरी ग्रैंड स्लैम 'यूएस ओपन टेनिस टूर्नामेंट' के दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया है। इन खिलाड़ियों ने अपने-अपने युगल मैच में जीत दर्ज कर दूसरे दौर में प्रवेश हासिल किया है।सानिया मिर्ज़ा का चेक गणराज्य की बारबोरा स्ट्राइकोवा के साथ यह पहला ग्रैंड स्लेम है। इनकी जोड़ी ने अमेरिका की जाडा मी हार्ट और एना शिबारा को एक घंटे नौ मिनट तक चले मैच में 6-3, 6-2 से हराया है।सानिया और बारबोर को अपने दूसरे दौर में स्विजरलैंड की विक्टोरिजा गोलुबिक और अमेरिका की निकोल मेलिचार तथा अमेरिका की मैडिसन ब्रेनगले और जर्मनी की तात्जाना मारिया की जोड़ी में विजेता जोड़ी के साथ मुकाबला होगा।वही पेस और स्विजरलैंड की मार्टिर्ना हंगिस ने अमेरिका की साशिया विर्की और फ्रांसिस टियाफोए की जोड़ी को मात्र 51 मिनट में 6-3, 6-2 से हराकर दूसरे दौर में अपनी जगह बनाई है।इस जोड़ी को अगले मुकाबले में अनास्तासिया रोडिनोवा तथा जुआन सेबेस्टियन काबल और अमेरिका की कोको वेंडेवेगे तथा राजीव राम के बीच की विजेता जोड़ी का सामना करना पड़ेगा। पुरूष युगल के मैच में रोहन बोपन्ना और डेनमार्क के फ्रेडरिक नीलसन की जोड़ी ने अपने शानदार प्रदर्शन के साथ 16वीं सीड चेक गणराज्य के रादेक स्तेपानेक और सर्बिया के नेनाद जिमोनजिच को 6-3, 6-7, 6-3 से हराया। इनका अगला मुकाबला अमेरिका के ब्रायन बेकर और न्यूजीलैंड के मार्कस डेनिएल के साथ होगा।

बांग्लादेश क्रिकेट टीम को नया गेंदबाजी कोच मिल गया है। वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज कर्टनी वाल्श अब बांग्लादेश की गेंदबाजी धार को और पैना करेंगे। इस सप्ताह से वो अगले तीन साल के लिए यह पद संभालेंगे। वाल्श की देख-रेख में बांग्लादेशी तेज गेंदबाज मुस्तफिजुर रहीम पहले से और खतरनाक गेंदबाजी कर सकते हैं।बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी। 53 वर्षीय वाल्श वेस्टइंडीज के सबसे सफल…
सुप्रीम कोर्ट की जस्टिस आर. एम. लोढा समिति ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के सामने सर्वोच्च परिषद के गठन और आम सालाना बैठक (एजीएम) आयोजित करने के लिए 15 दिसंबर की समयसीमा तय की है जबकि आईपीएल की नई संचालन परिषद गठित करने के लिए 30 दिसंबर की समयसीमा तय की गई है। बीसीसीआई में होगा बड़ा बदलाव!:-बीसीसीआई को सर्वोच्च परिषद का गठन तय समयसीमा तक करना होगा जो…
भारत में क्रिकेट का जिक्र होते ही बाकी खेल बैकफुट पर चले जाते हैं। भारत में क्रिकेट खेल से ज्यादा धर्म बन चुका है और लोग इसके दीवाने हो चुके हैं। लेकिन रियो ओलम्पिक खेलों में गोल्ड मेडल के लिए हुए महिला सिंगल्स मैच में भारतीय शटलर पी.वी. सिंधु और स्पेन की कैरोलिना मारिन के बीच हुए मैच ने एक नया इतिहास रच डाला।स्पोर्ट्सकीड़ा वेबसाइट की खबर के मुताबिक बेंगलुरु…
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने कहा है कि मिनी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की योजना को फिलहाल होल्ड पर डाल दिया गया है। बीसीसीआई सितंबर में अमेरिका में मिनी आईपीएल कराने के बारे में सोच रहा था। अमेरिका में इन दिनों इंटरनेशनल टी-20 क्रिकेट का क्रेज काफी बढ़ा है।क्रिकइंफो में छपी खबर के मुताबिक बीसीसीआई अध्यक्ष की माने तो टाइम जोन में फर्क मिनी आईपीएल के…

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें