खेल

खेल (4275)

नई दिल्ली। कोहली एंड कंपनी को लॉर्ड्स टेस्ट में पारी और 159 रन की बड़ी हार का सामना करना पड़ा। इस जीत के साथ ही इंग्लैंड ने पांच टेस्ट की सीरीज़ में 2-0 की बढ़त बना ली है। क्रिकेट का मक्का कहे जाने वाले लॉर्ड्स के मैदान पर भारत को इस सदी में पहली बार पारी से हार का सामना करना पड़ा है।
लॉर्ड्स में 44 साल बाद पारी से हारा भारत:-बारिश के कारण मैच के पहले दिन का खेल पूरी तरह से से धुल गया था। दूसरे दिन का खेल भी बारिश से बुरी तरह प्रभावित रहा। मैच में भारतीय बल्लेेबाजों ने बेहद शर्मनाक प्रदर्शन किया। पहली पारी में टीम इंडिया 107 और दूसरी पारी में 130 रन बनाकर ऑलआउट हो गई। भारतीय बल्लेबाज़ इस मैच की किसी भी पारी में 50 ओवर तक भी बल्लेबाज़ी नहीं कर सके। भारत की पहली पारी 35.2 ओवर में सिमट गई तो दूसरी पारी में भारतीय बल्लेबाज़ 47 ओवर ही टिक सके और टीम इंडिया को लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर 44 साल के बाद पारी की हार झेलनी पड़ी। आपको बता दें कि इससे पहले क्रिकेट के मक्का कहे जाने वाले लॉर्ड्स के मैदान में भारत सन 1974 में पारी के अंतर से मैच हारी थी और उसके बाद ये पहला मौका है जब टीम इंडिया को इस मैदान पर पारी के अंतर से शिकस्त झेलनी पड़ी है।
लॉर्ड्स में 1974 में मिली सबसे बड़ी हार:-इस ऐतिहासिक मैदान पर भारतीय टीम को तीन बार पारी के अंतर से हार का सामना करना पड़ा है। सबसे पहली बार टीम इंडिया लॉर्ड्स में सन1967 में पारी और 124 रन से हारी थी। इसके बाद सन 1974 में भारत को लॉर्ड्स में अपनी सबसे बड़ी हार का सामना करना पड़ा था। उस मैच में इंग्लैंड ने पारी और 285 रन से भारत को धूल चटाई थी। इसके बाद अब 2018 में भारत को तीसरी बार लॉर्ड्स में पारी और 159 रन से शिकस्त झेसनी पड़ी।
ऐसा रहा है लॉर्ड्स में भारत का रिकॉर्ड:-लॉर्ड्स में मैदान पर भारत और इंग्लैंड के बीच 18 मुकाबले खेले गए हैं। इन 18 मैचों में से 12 बार भारत को हार का सामना करना पड़ा है। वहीं सिर्फ दो मैचों में ही भारतीय टीम जीत दर्ज़ करने में सफल रही थी। उसे जीत मिली है जबकि चार मैच ड्रॉ समाप्त हुए हैं। टीम इंडिया ने इस मैदान पर वर्ष 1986 और वर्ष 2014 में जीत हासिल की थी।

 

नई दिल्ली। बारिश से बाधित लॉर्ड्स टेस्ट मैच की पहली पारी जेम्स एंडरसन के लिए कमाल का रहा। भारत के खिलाफ एंडरसन ने कमाल की गेंदबाजी की और मेहमान टीम के बल्लेबाजों के पास उनकी गेंदबाजी का कोई जबाव नहीं था। एंडरसन ने लॉर्ड्स पर अब तक टेस्ट क्रिकेट में 99 विकेट लिए हैं और वो क्रिकेट के सबसे लंबे प्रारूप में ग्लेन मैक्ग्रा (563 विकेट) की विकेट के मामले में बराबरी करने से 14 विकेट दूर हैं। इस टेस्ट सीरीज में अब तक एंडरसन के बारे में सबसे अच्छी बात ये रही है कि उन्होंने काफी ओवर्स गेंदबाजी की है। 36 वर्ष की उम्र में हर सेशन में अपनी पूरी ताकत से लगभग एक घंटे गेंदबाजी करना आसान नहीं है लेकिन एंडरसन ऐसा कर रहे हैं। एंडरसन का कहना है कि वो अपनी उम्र के बारे में ज्यादा नहीं सोचते। मैं अपनी उम्र के बारे में ज्यादा नहीं सोचता। इस वक्त मेरा शरीर मेरा साथ दे रहा है और ये सबसे अच्छी बात है। एजबेस्टन में मैंने जितनी ओवर गेंदबाजी की उससे मैं काफी खुश हूं। इस उम्र में भी मेरा शरीर पूरी तरह से फिट है इसका मतलब है कि मैं मैदान के बाहर सही चीजें कर रहा हूं। एंडरसन ने कहा कि वो तब तक खेलते रहेंगे जब तक संभव है। मुझे लगता है कि मैं विकेट लेता रहूंगा और अपनी टीम की जीत में सहयोग करता रहूंगा। अब तक इस टेस्ट सीरीज में तेज गेंदबाजों के लिए सबकुछ काफी अच्छा रहा है लेकिन विराट और एंडरसन के बीच के मुकाबले पर सबका ध्यान सबसे ज्यादा है। एंडरसन ने इस सीरीज में अब तक काफी अच्छी गेंदबाजी की है लेकिन वो विराट का विकेट एक बार भी नहीं ले पाए। इस सीरीज में विराट ने अब तक उनका बखूबी सामना किया और एक दो मौके पर वो आउट भी हो सकते थे लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। एंडरसन ने कहा कि वो दूसरे बल्लेबाजों की तरह क्यों नहीं आउट हो पाए मैं उसके विषय में सोच रहा हूं लेकिन सच ये है कि मैं हम दोनों के बीच की प्रतिस्पर्धा का लुत्फ उठा रहा हूं।विराट के बारे में एंडरसन ने कहा कि विराट दुनिया के नंबर एक बल्लेबाज क्यों है ये मेरी समझ में आ गया है। मैं दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाजों के खिलाफ खेलना पसंद करता हूं लेकिन दुर्भाग्यवश मैं उन्हें इस सीरीज में आउट नहीं कर पाया हूं। मैं सीरीज के बाकी के मैचों में उन्हें आउट करने की कोशिश करता रहूंगा।

नई दिल्ली। भारत और इंग्लैंड के बीच दूसरे टेस्ट की दूसरे तीसरे दिन मेजबान टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो ने 93 रन बनाकर ना केवल अपनी टीम को मुश्किल से निकाला बल्कि विराट कोहली को भी पीछे छोड़ दिया।इस बल्लेबाज ने क्रिस वोक्स के साथ मिलकर 189 रन की साझेदारी की और भारत को हार के मुंह धकेल दिया। इसके साथ ही उन्होंने अपने टेस्ट करियर का 19वां अर्धशतक लगाते हुए इस साल सभी फॉर्मेट में सबसे ज्यादा रन बना लिए हैं। इस सीजन में बेयरस्टो क्रिकेट के सभी फॉर्मेट में 1482 रन बना चुके हैं। पहले इस लिस्ट में विराट कोहली नंबर वन थे जिन्होंने 1404 रन बनाए हैं। इस मैच से पहले बेयरस्टो के नाम 1389 रन थे और 93 रन की पारी के बाद वह कोहली से आगे हो गए, हालांकि विराट इसी मैच या सीरीज में दोबारा टॉप पर पहुंच सकते हैं। विराट ने साल 2018 में 21 मैचों में 66.85 की जबरदस्त की औसत से 1404 रन बनाए हैं। वहीं बेयरस्टो ने 30 मैचों में 43.58 की औसत से 1482 रन बनाए हैं। खास बात ये हैं कि दोनों ही खिलाड़ियों ने सभी फॉर्मेट को मिलाकर इस साल 5-5 शतक लगाए हैं।इस सूची में इंग्लैंड की कप्तान जो रूट है। रूट ने 50 से ज्यादा की औसत से 1357 रन बनाए हैं। इस साल रूट ने 3 शतक और 10 अर्धशतक लगाए हैं। वहीं पाकिस्तान के नए स्टार ओपनर फखर जमां चौथे स्थान पर मौजूद है। फखर ने 65.61 की औसत से 1181 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 2 शतक और 8 अर्धशतक लगाए हैं।

नई दिल्ली। इंग्लैंड के ऑलराउंडर क्रिस वोक्स ने भारत के खिलाफ लॉर्डस टेस्ट मैच की पहली में नाबाद 137 रन की पारी खेली। वोक्स की इस दमदार पारी की बदौलत इंग्लैंड को पहली पारी में भारत पर 289 रन की बड़ी बढ़त हासिल हुई। वोक्स ने लॉर्ड्स पर लगाए अपने शतक के बारे में कहा कि ये उनके बचपन का सपना था कि वो इस मैदान पर शतक लगाएं और अपना बल्ला उठाएं।क्रिस वोक्स को लॉर्ड्स टेस्ट में टीम के ऑल राउंडर बेन स्टोक्स की जगह टीम में शामिल किया गया था। वोक्स ने स्टोक्स की कमी महसूस नहीं होने दी और उन्होंने पहली पारी में विराट कोहली का विकेट लिया और फिर नाबाद शतकीय पारी खेली। वोक्स ने कहा कि ये मेरे बचपन का सपना था कि मैं लॉर्ड्स में शतक लगाऊं और दर्शक खड़े होकर मेरा अभिवादन करें।वोक्स हाल ही में पिता बने थे और उनके साथी खिलाड़ियों ने उन्हें पार्टी देने की बात कही थी। इस पर उन्होंने कहा कि मुझे मेरे साथी खिलाड़ियों ने पार्टी देने की बात कही थी। मेरे पास सचमुच कोई आइडिया नहीं था कि मैं किस तरह से इसे सेलिब्रेट करूं लेकिन मैं अब काफी खुश हूं। शतक लगाने के बाद 30 सेकेंड तक अपने बल्ले से दर्शकों का अभिवादन करना किसी सेलिब्रेशन से कम नहीं था। वोक्स ने कहा कि वो अपना शतक पूरा करने से पहले काफी नर्वस थे लेकिन जॉनी बेयरस्टो ने मेरा हौसला बढ़ाया। वोक्स ने कहा कि 90 का स्कोर पार करने के बाद में काफी नर्वस था। इसके बाद मैं अपने शतक के बारे में सोच रहा था और ऑफ स्टंप से बाहर जाती गेंदों का साथ छेड़छाड़ कर रहा था

नई दिल्ली। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली बीसीसीआइ के नए बॉस बन सकते हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक गांगुली बीसीसीआइ के अगले अध्यक्ष बन सकते हैं और उनके बीसीसीआइ प्रसिडेंट बनने का रास्ता भी साफ हो गया है। हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने लोढ़ा समिति की कुछ सिफारिशों को अलग करके और कुछ बदलावों के साथ नए संविधान को मंजूरी दी थी, उस वजह से गांगुली के अध्यक्ष बनने का रास्ता साफ हो गया है।सौरव गांगुली मौजूदा समय में बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन (कैब) के अध्यक्ष हैं और अगर वो वहां पर अपने पद से इस्तीफा दे देते हैं तो बीसीसीआइ के अध्यक्ष पद के लिए योग्य हो जाएंगे। बीसीसीआइ के एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि सौरव गांगुली इस पद के लिए एकदम योग्य हैं और वो सभी पैमानों पर खरे उतरते हैं।हालांकि सौरव गांगुली अगर बीसीसीआइ अध्यक्ष के पद पर विराजमान होते हैं, तो उन्हें दो साल के बाद ही इस पद को छोड़ना होगा। क्योंकि नए नियमों के मुताबिक कोई भी व्यक्ति बीसीसीआइ में लगातार छह साल तक ही किसी प्रशासनिक पद पर रह सकता है। वहीं सूत्रों के अनुसार ये खबर भी है कि गांगुली तभी अध्यक्ष का चुनाव लड़ेंगे जब उनके खिलाफ कोई उम्मीदवार नहीं खड़ा होगा।इससे पहले इस साल की शुरुआत में सौरव गांगुली ने एक इंटरव्यू में कहा था कि एक खिलाड़ी बेहतरीन प्रशासक साबित हो सकता है लेकिन ये निर्भर करता है कि वो कितना समय दे पाता है। इसके अलावा एक प्रशासक के तौर पर आप क्या करने वाले हैं ये भी काफी अहम हो जाता है।

नई दिल्ली। भारत और इंग्लैंड के बीच दूसरा टेस्ट मैच लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर खेला जा रहा है। इस मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए खेल के दूसरे दिन भारतीय टीम की पहली पारी 107 रन पर सिमट गई। बारिश से प्रभावित इस मैच की पहली पारी में इंग्लैंड के तेज गेंदबाजों का कोई तोड़ भारतीय बल्लेबाजों के पास नजर नहीं आया। बारिश की वजह से खेल के पहले दिन एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी थी। खेल के दूसरे दिन टॉस हुआ और इंग्लैंड की टीम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। इंग्लैंड के तेज गेंदबाजों जेम्स एंडरसन ने पांच, क्रिस वोक्स ने दो जबकि स्टुअर्ट ब्रॉड व सैम कुर्रन ने एक-एक विकेट लिए और विराट सेना को सिर्फ 35.2 ओवर में ही समेट दिया। दूसरे दिन का खेल भी बारिश की वजह से प्रभावित हुआ और कई बार रोकना पड़ा।
भारतीय बल्लेबाजों ने किया निराश:-भारत के लिए मैच की शुरुआत बहुत खराब रही, पहले ही ओवर में ओपनर बल्लेबाज मुरली विजय मेजबान टीम के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन का शिकार बन गए। एंडरसन की एक शानदार गेंद पर वह क्लीन बोल्ड हुए। इसके बाद एंडरसन ने भारत को दूसरा झटका देते हुए केएल राहुल को भी आउट किया। राहुल 8 रन बनाने के बाद विकेटकीपर को कैच देकर आउट हो गए। चेतेश्वर पुजारा सिर्फ एक रन बनाकर रन आउट हो गए। उन्हें पॉप ने रन आउट किया। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने 57 गेंदों का सामना करते हुए 23 रन बनाए। उन्हें क्रिस वोक्स ने जोस बटलर के हाथों कैच आउट करवा दिया। हार्दिक पांड्या ने 11 रन की पारी खेली और वो क्रिस वोक्स की गेंद पर जोस बटलर को अपना कैच थमा दिया।दिनेश कार्तिक सिर्फ एक रन बनाकर सैम कुर्रन की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। अजिंक्य रहाणे को जेम्स एंडरसन ने पवेलियन का रास्ता दिखा दिया। एंडरसन की गेंद पर रहाणे का कैच एलिएस्टर कुक ने लपका। उन्होंने 44 गेंदों पर 18 रन बनाए। कुलदीप यादव को जेम्स एंडरसन ने क्लीन बोल्ड कर दिया वो खाता भी नहीं खोल पाए। स्टुअर्ट ब्रॉड ने अश्विन को 29 रन पर LBW आउट कर दिया। एंडरसन ने इशांत शर्मा के तौर पर अपना पांचवां विकेट लिया और उन्हें एलबीडब्ल्यू आउट किया। मो. शमी 10 रन बनाकर नाबाद रहे।
भारतीय टीम में हुए दो बदलाव:-दूसरे टेस्ट में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। इस टेस्ट के लिए भारतीय टीम में दो बदलाव किए गए। उमेश यादव और शिखर धवन की जगह चेतेश्वर पुजारा और कुलदीप यादव को अंतिम ग्यारह में जगह मिली। वहीं इंग्लैंड की टीम में भी 2 बदलाव किए गए। बेन स्टोक्स की जगह क्रिस वोक्स टीम में शामिल किए गए वहीं 20 साल के ऑली पोप भी ने भी अपना टेस्ट डेब्यू किया। उनको डेविड मलान की जगह टीम में शामिल किया गया।
भारत की प्लेइंग इलेवन- मुरली विजय, लोकेश राहुल, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे, दिनेश कार्तिक, हार्दिक पांड्या, रविचंद्रन अश्विन, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा।
इंग्लैंड की प्लेइंग इलेवन- एलिस्टर कुक, कीटन जेनिंग्स, जो रूट, ऑली पोप, ऑली पोप, जॉनी बेयरस्टो, जोस बटलर, क्रिस वोक्स, सैम कुर्रन, आदिल राशिद, स्टुअर्ट ब्रॉड, जेम्स एंडरसन
1-0 से पीछे है भारत:-बर्मिंघम में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भारतीय टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन तो किया, लेकिन इस शानदार कोशिश के बावजूद भी कोहली एंड कंपनी को हार का मुंह देखना पड़ा। पहले टेस्ट मैच में विराट कोहली को छोड़ कर ज़्यादातर बल्लेबाज़ों ने अपने प्रदर्शन से फैंस को निराश ही किया। इस टेस्ट सीरीज़ में टीम इंडिया को पहले मुकाबले में 31 रन से हार का सामना करना पड़ा था। ये इंग्लैंड की धरती पर भारत की सबसे करीबी हार रही।
लॉर्ड्स में ऐसा रहा है भारत का रिकॉर्ड:-लॉर्ड्स के मदान पर टीम इंडिया का रिकॉर्ड बहुत खराब रहा है। यहां पर भारत और इंग्लैंड के बीच 17 टेस्ट मैच खेले गए हैं। इनमें से भारत को 11 मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा है। इंग्लैंड की टीम को सिर्फ 2 मैच में हार का सामना करना पड़ा है। वहीं 4 मुकाबले ड्रॉ रहे हैं।

नई दिल्ली। भारत और इंग्लैंड के बीच लॉर्डस के ऐतिहासिक मैदान पर दूसरे टेस्ट मैच खेला जा रहा है। सचिन तेंदुलकर भी लंदन में मौजूद हैं और उनका बेटा अर्जुन तेंदुलकर वहीं हैं। अर्जुन इस टेस्ट मैच के शुरू होने से पहले भारतीय खिलाड़ियों को अभ्यास सत्र के दौरान भी मौजूद थे। लेकिन जब लॉर्डस में टेस्ट मैच शुरू हुआ तो उन्होंने एक ऐसा काम किया कि लॉर्डस क्रिकेट ग्राउंड…
नई दिल्ली। वेस्टइंडीज में इन दिनों कैरेबियन प्रीमियर लीग खेली जा रही है और इस लीग के एक मैच में एक पाकिस्तानी खिलाड़ी ने कुछ ऐसा कर दिया, जिसे देख सभी दंग रह गए। गयाना अमेजन की तरफ से खेलने वाले पाकिस्तान के तेज गेंदबाज सोहेल तनवीर ने बेन कटिंग को आउट करने के बाद अश्लील इशारा किया।सेंट किट्स और गयाना अमेजन के बीच मैच खेला जा रहा था और…
नई दिल्ली। पाकिस्तान के होने वाले प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने शपथ-ग्रहण समारोह में भारत के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर सुनील गावस्कर, कपिल देव और नवजोत सिंह सिद्धू को भी आमंत्रित किया है। पाकिस्तान को 1992 में विश्व चैंपियन बनाने वाले इमरान खान 18 अगस्त को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। हालांकि गावस्कर ने इमरान के शपथ ग्रहण समारोह में जाने से मना कर दिया है। गावस्कर ने इसलिए…
नई दिल्ली। जब आसमान में बादल हों, लॉर्डस की पिच हो, पिच पर भारतीय बल्लेबाज हों और उनके सामने जेम्स एंडरसन हों, तो नतीजा क्या होगा? जी, नतीजा भारत के खिलाफ ही होगा और शुक्रवार को ऐसा हुआ भी। बारिश के कारण पहले दिन बचने वाली टीम इंडिया दूसरे दिन सिर्फ 35.2 ओवर के खेल में 107 रनों पर ऑलआउट हो गई। इस मैच के दूसरे दिन ढेर सारे रिकॉर्ड…
Page 2 of 306

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें