खेल

खेल (2823)


नई दिल्ली - टीम इंडिया के तेज गेंदबाज आशीष नेहरा ने बुधवार रात को अपने करियर का आखिरी इंटरनेशनल मैच खेला। न्यूजीलैंड के खिलाफ ट्वंटी20 सीरीज का पहला मैच शानदार तरीके से जीतकर टीम इंडिया ने उन्हें यादगार विदाई भी दी। 18 साल के लंबे इंटरनेशनल करियर में नेहरा ने 12 सर्जरी कराई लेकिन कभी हार नहीं मानी और हमेशा जोरदार वापसी की।
अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच खेलने के बाद नेहरा ने कहा, 'मुझे इन सबकी कमी महसूस होगी। आपको इसी के लिए ट्रेन किया जाता है। एक चीज जिसे अब निश्चित रूप से आराम मिलेगा वो है मेरा शरीर। मैंने इससे पहले कहा था कि मैं और कुछ साल खेल सकता हूं लेकिन संन्यास लेने के लिए इससे बेहतर वक्त नहीं हो सकता था।'
नेहरा ने अपने करियर में 17 टेस्ट, 120 वनडे और 27 ट्वंटी20 मैच में कुल 235 विकेट झटके हैं। नेहरा का करियर इंजरी से भरा रहा है। उन्होंने कई मैचों में अपनी गेंदबाजी से टीम इंडिया को जीत दिलाई है।
नेहरा को कप्तान विराट कोहली ने पहले टी20 मैच का आखिरी ओवर डालने को कहा था। इस मैच में भारत को 53 रन से जीत मिली। नेहरा ने कहा कि उन्होंने जब खेलना शुरू किया था तब से अब तक क्रिकेट बहुत बदल गया है। नेहरा ने कई साल पहले टेस्ट मैच खेलना छोड़ दिया था लेकिन उन्हें इस बात का कोई पछतावा नहीं है। उन्होंने कहा, '18 साल तक खेलना और यहां नीले कपड़ों में खड़ा रहना और अपना आखिरी मैच खेलने से ज्यादा वो और कुछ नहीं चाहते थे।'
पूरी टीम ने नेहरा को शानदार विदाई दी। उन्हें कंधे पर बैठाकर मैदान पर घुमाया भी गया। मैच दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेला गया था, जो कि उनका होमग्राउंड भी है। नेहरा का पूरा परिवार ये मैच देखने के लिए पहुंचा था।


नई दिल्ली - वेस्टइंडीज के धुंआधार बल्लेबाज क्रिेस गेल टी-20 के सबसे विध्वंसक बल्लेबाज माने जाते हैं। उनके नाम आईपीएल में सबसे बड़ी पारी खेलने का रिकॉर्ड है। उन्होंने पुणे वॉरियर्स के खिलाफ 175 रनों की पारी खेली थी। क्रिस गेल को क्रिकेट की दुनिया में उनके धमाकेदार अंदाज के लिए जाना जाता है। जब गेल का बल्ला चलता है तो पता नहीं रहता कि वह क्या कर बैठेंगे। क्रिस गेल की बैटिंग जैसा नजारा मुंबई में खेले गए एक राष्ट्रीय स्तर के टी-20 टूर्नामेंट में देखने को मिला।
गेल और इस बल्लेबाज में यह अंतर था कि गेल जहां गेंदों को देखकर सीमारेखा के पार पहुंचाते हैं, वहीं, यह बल्लेबाज बिना देखे गेंदों को दाएं-बाएं मार रहे थे। जी हां, मुंबई में हो रहे नेशनल ब्लाइंड टूर्नामेंट में आंध्र प्रदेश के बल्लेबाज वेंकेटेश राव ने आतिशी बल्लेबाजी का नजारा पेश कर सिर्फ 82 गेंदों में 279 रन ठोक डाले। टी-20 मैच में यह स्कोर दुनिया के किसी भी स्तर के क्रिकेटर के लिए बड़ी चुनौती होगा।
यह रिकॉर्ड किसी भी खिलाड़ी के लिए एक बड़ा मुकाम है। वेंकटेश नेशनल ब्लाइंड टूर्नामेंट में खेल रहे थे और अब उनके इस प्रदर्शन की सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ हो रही है। वेंकटेश ने अपनी पारी में 40 चौके और 18 छक्के मारे। इस ताबड़तोड़ पारी की बदौलत ही आंध्र प्रदेश ने मुंबई पर 292 रनों की विशाल जीत दर्ज की।
वेंकटेश ने अपनी पारी के 279 रनों में से 268 रन तो सिर्फ चौकों-छक्कों से ही बना दिए। बता दें कि जिस ग्राउंड में यह मैच खेला गया वह अंतरराष्ट्रीय मैदान की तरह सरपट नहीं था। इसके बावजूद वेंकटेश ने शारीरिक अक्षमता और तमाम विषम परिस्थितियों को मात देकर ऐसी पारी खेली। इसलिए वह इस मामले में गेल के भी गुरु साबित होते हैं।

 


नई दिल्ली - अपने जमाने के दिग्गज सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने फिरोजशाह कोटला के गेट नंबर 2 का नामकरण उनके नाम पर किये जाने को सकारात्मक कदम करार देते हुए उम्मीद जतायी कि दिल्ली में भविष्य में अन्य खिलाड़ियों के नाम पर भी स्टैंड का नामकरण किया जाएगा।
सहवाग दिल्ली के पहले क्रिकेटर हैं जिनके नाम पर कोटला के किसी गेट का नामकरण किया गया है। अब गेट नंबर दो उनके नाम से जाना जाएगा और इस आक्रामक बल्लेबाज ने अपने कई पूर्व साथियों की मौजूदगी में स्वयं उसका उद्घाटन किया।
सहवाग ने मीडिया से बात करते हुये कहा, मुझे बड़ी खुशी है कि दिल्ली में एक अच्छी शुरूआत हुई है और मेरे नाम से गेट का नाम रखा गया है। हो सकता है कि आने वाले समय में अन्य खिलाड़ियों के नाम से अन्य स्टैंड, गेट और यहां तक कि ड्रेसिंग रूम के भी नाम रखे जाएं। डीडीसीए का य़ह सकारात्मक कदम है।
उन्होंने कहा, मैंने आग्रह किया था कि यह समारोह (श्रीलंका के खिलाफ होने वाले) टेस्ट मैच से पहले आयोजित किया जाए, लेकिन तब कोई और समारोह होना है। इसलिए आपको आगे भी ऐसे समारोह देखने को मिलेंगे।
सहवाग ने घरेलू क्रिकेट में अपना अधिकतर समय दिल्ली के साथ बिताया था लेकिन उन्हें अफसोस है कि वह कभी रणजी ट्रॉफी चैंपियन टीम का हिस्सा नहीं बन पाये। दिल्ली जब 2007-08 में रणजी चैंपियन बनी तब सहवाग भारतीय टीम के साथ ऑस्ट्रेलिया दौरे पर थे।
टेस्ट क्रिकेट में 104 मैचों में 8586 और 251 वनडे में 8273 रन बनाने वाले सहवाग ने कहा, मैं उस रणजी ट्रॉफी टीम का हिस्सा नहीं था, जो रणजी चैंपियन बनी। उस समय मैं राष्ट्रीय टीम की तरफ से खेल रहा था। लेकिन मैं हर दिन की रिपोर्ट लेता था। श्रेय गौतम गंभीर को जाता जो उस मैच के कप्तान थे। प्रदीप सांगवान ने उस मैच में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया था। आकाश चोपड़ा, रजत भाटिया, मिथुन मन्हास जैसे खिलाड़ी उस टीम में थे जिन्होंने गंभीर की कप्तानी में दिल्ली को रणजी चैंपियन बनाया था।
सहवाग ने कहा कि कोटला में गुजरात के खिलाफ अंडर-19 का मैच जीतना इस मैदान पर उनका सर्वश्रेष्ठ यादगार पल था। उन्होंने कहा, मुझे अंडर-19 का एक मैच याद है जो गुजरात के खिलाफ खेला था। उस मैच में आशीष नेहरा ने बहुत अच्छी गेंदबाजी की थी। मैं उस मैच में 50-60 रन ही बना पाया था लेकिन हम तब पहली बार नॉकआउट में पहुंचे थे और वह मेरे लिये यादगार क्षण था।


नई दिल्ली - भारत और न्यूजीलैंड के बीच तीन मैचों की ट्वंटी20 सीरीज का आगाज आज होना है। ये मैच कई मायनों में बहुत खास है। टीम इंडिया के सीनियर तेज गेंदबाज आशीष नेहरा आज अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच खेलेंगे। 38 साल की उम्र में नेहरा अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच खेलने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।
उन्होंने हाल ही में घोषणा की थी कि दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले जाने वाला मैच उनके करियर का आखिरी इंटरनेशनल मैच होगा। नेहरा ने साथ ही कहा था कि वो इसके बाद इंडियन प्रीमियर लीग में भी नहीं खेलेंगे। 1999 में नेहरा ने श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट के साथ इंटरनेशनल करियर शुरू किया था। नेहरा कई भारतीय कप्तानों के अंडर खेल चुके हैं। नेहरा का करियर इंजरी से भरा रहा और उन्हें इसके लिए काफी सर्जरी भी करानी पड़ीं।
नेहरा ने 17 टेस्ट में 42.40 की औसत से 44 विकेट झटके हैं। 120 वनडे में उनके नाम 31.72 की औसत से 157 विकेट और 26 टी20 मैचों में 21.44 की औसत से 34 विकेट दर्ज हैं। नेहरा ने अपने पूरे करियर के दौरान 12 सर्जरी कराईं।
2005 में भारत और पाकिस्तान के बीच मैच था और शाहिद अफरीदी बल्लेबाजी कर रहे थे। नेहरा की एक गेंद पर महेंद्र सिंह धौनी कैच नहीं लपक पाए थे, जिसके बाद उन्होंने धौनी को गाली दी थी। इस वीडियो को यूट्यूब पर काफी देखा गया है। इन दिनों भी ये वीडियो खूब वायरल हो रहा है।
'ब्रेकफास्ट विद चैंपियन' शो में जब विराट आए थे, तो उन्होंने खुलेआम नेहरा के दांतों का मजाक उड़ाया था। विराट ने इस शो में कहा था कि वो नेहरा का एपिसोड देखने के बाद ही इस शो में आए हैं। नेहरा के 12 ऑपरेशन को लेकर जब गौरव कपूर ने कहा कि उनकी दाद देनी पड़ेगी, विराट ने इस दौरान नेहरा के दांत का मजाक उड़ाया।


नई दिल्ली - भारत और न्यूजीलैंड के बीच तीन मैचों की सीरीज का पहला ट्वंटी20 मैच आज दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेला जाना है। टीम इंडिया सोमवार को दिल्ली पहुंची थी और रात में कप्तान विराट कोहली ने पूरी टीम को डिनर पार्टी दी थी। विराट ने अपने फेवरेट रेस्त्रां 'नुएवा' में टीम इंडिया को पार्टी दी। इसकी कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं।
कोच रवि शास्त्री, महेंद्र सिंह धौनी से लेकर अक्षर पटेल और हार्दिक पांड्या सब इस पार्टी में नजर आए। सोमवार को शिखर धवन (30 अक्टूबर) की शादी की 5वीं सालगिरह भी थी, जिसके लिए इस पार्टी में केक काटा गया था। इस पार्टी में धौनी बिल्कुल कूल डूड लुक में नजर आए। ऐसे लुक में धौनी कम ही नजर आते हैं।
धौनी ने हाफ टी-शर्ट और हाफ जैकेट पहन रखी थी। ब्लू टी-शर्ट और ब्लैक जैकेट में धौनी का लुक सबसे अलग दिखा। हार्दिक पांड्या, अक्षर पटेल भी बिल्कुल कैजुअल लुक में नजर आए। कप्तान विराट ने हूडी पहन रखा था।
टीम इंडिया के अलावा इस दौरान विराट के भाई और बहन भी नजर आए। धौनी के साथ उन्होंने फोटो भी क्लिक करवाई। भारत और न्यूजीलैंड के बीच रविवार को कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम पर वनडे सीरीज का आखिरी मैच खेला गया था। मैच के अगले दिन टीम दिल्ली के लिए रवाना हो गई थी। सीरीज का पहला ट्वंटी20 मैच यहीं खेला जाना है।
भारत आज तक कभी भी न्यूजीलैंड को क्रिकेट के सबसे छोटे फॉरमैट में हरा नहीं पाया है। ऐसे में वो विराट एंड कंपनी सीरीज जीतकर रिकॉर्ड सुधारने की पूरी कोशिश करेगी। इसके अलावा आशीष नेहरा अपने होमग्राउंड पर आखिरी इंटरनेशनल मैच खेलेंगे। नेहरा ने पहले ही घोषणा कर दी थी कि ये मैच उनके करियर का आखिरी इंटरनेशनल मैच होगा।


नई दिल्ली - भारत और न्यूजीलैंड के बीच वनडे सीरीज के आखिरी मैच के दौरान एक गजब का वाकया हुआ। इस की कवरेज के लिये स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट और स्टुआर्ट बिन्नी की पत्नी मयंती लैंगर ग्रीन पार्क स्टेडियम में थीं। इस दौरान उन्होंने इंटरनेट के लिए वाईफाई का नेटवर्क सर्च किया और उन्हें सुरेश रैना का वाईफाई नेटवर्क मिला।
मयंती ने रैना के वाईफाई नेटवर्क का स्क्रीनशॉट लेकर उन्हें ट्विटर पर टैग करके पासवर्ड पूछा। उन्होंने लिखा 'हैलो रैना! क्या मुझे आपके वाईफाई का पासवर्ड मिल सकता है?'
एक ट्विटर यूजर ने मयंती को थर्ड अंपायर के पास जाने की सलाह दे डाली। वहीं एक यूजर ने लिखा कि पासवर्ड के तौर प्रियंका या ग्रेसिया ट्राय कीजिये।

नई दिल्ली - भारत और न्यूजीलैंड के बीच 3 टी-20 मैचों की सीरीज खेली जायेगी। इसका पहला मैच बुधवार को दिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में खेला जायेगा। यह मुकाबला टीम इंडिया के लिए काफी महत्वपूर्ण होगा। पहली और बड़ी वजह यह है कि टीम के दिग्गज तेज गेंदबाज आशीष नेहरा 19 साल के लम्बे क्रिकेट करियर के बाद संन्यास लेंगे। वहीं दूसरी वजह से टी-20 में न्यूजीलैंड से कभी…
ब्रिसबेन - हीना सिद्धू ने कॉमनवेल्थ गेम्स में शूटिंग चैम्नियनशिप में 10 मीटर एयर पिस्टल में गोल्ड मेडल जीतकर भारत को शानदार शुरुआत दिलाई। सिद्धू ने 626.2 का स्कोर किया।ये उनका लगातार दूसरा अंतरराष्ट्रीय गोल्ड मेडल है। उन्होंने जीतू राय के साथ भारत में आईएसएसएफ वर्ल्ड कप फाइनल्स में 10 मीटर एयर पिस्टल मिक्स्ड टीम स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीता था।भारत के दीपक कुमार ने 10 मीटर एयर राइफल में…
क्रिकेटर जहीर खान और बॉलीवुड एक्‍ट्रेस सागरिका घाटगे इस साल 27 नवंबर को शादी के बंधन में बंध जाएंगे। हाल ही में दोनों ने अपनी शादी को लेकर अहम खुलासा किया। दरअसल, ये दोनों न निकाह करेंगे और नहीं फेरे लेंगे, बल्कि ये तो कोर्ट मैरिज करेंगे। एक लीडिंग डेली को दिए इंटरव्यू में दोनों ने अपनी शादी से जुड़े कई अहम खुलासे हैं। इसमें जहीर ने ये भी बताया…
नई दिल्ली - भारतीय महिला हॉकी टीम की गोलकीपर सविता ने जापान के काकामिगाहारा में खेले जा रहे एशिया कप-2017 में सोमवार को चीन के खिलाफ खेले गए मैच में जीत के साथ अपने 150वें अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने की उपलब्धि भी हासिल की है। इस मौके पर हॉकी इंडिया (एचआई) ने सविता को बधाई भी दी। भारतीय टीम ने चीन के खिलाफ खेले गए मैच में 4-1 से जीत हासिल…
Page 10 of 202

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें