खेल

खेल (3297)


केपटाउन - पांच मैचों की ट्वंटी-20 सीरीज में 2-1 की अपराजेय बढ़त हासिल कर चुकी भारतीय महिला क्रिकेट टीम शनिवार को मेजबान दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांचवें और आखिरी मैच को जीतकर स्वैग से सीरीज का समापन करना चाहेंगी। भारतीय टीम तीन मैचों की वनडे सीरीज को पहले ही 2-1 से अपने नाम कर चुकी है और वह अब ट्वंटी-20 सीरीज में भी 2-1 से आगे है। सीरीज का चौथा मैच सेंचुरियन में बारिश के कारण रद्द कर दिया गया था।
भारत ने पहले दो मैच क्रमश: सात और नौ विकेट से जीते थे। लेकिन तीसरे मैच में उसे मेजबान टीम के हाथों पांच विकेट से हार का सामना करना पड़ा था। कप्तान हरमनप्रीत कौर की कप्तानी वाली भारतीय टीम अगर शनिवार को मैच जीतकर सीरीज अपने नाम कर लेती है तो वह दक्षिण अफ्रीका दौरे में एक दौरे पर दो सीरीज जीतने वाली पहली भारतीय टीम बन जाएंगी। भारत ने इससे पहले ऑस्ट्रेलिया में ट्वंटी-20 सीरीज जीती थी।
भारतीय टीम की सीनियर खिलाड़ी मिताली राज सीरीज में अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं और उन्होंने पहले दो मैचो में लगातार अर्धशतक बनाए थे। लेकिन तीसरे मैच में वह खाता भी नहीं खोल सकीं थी। इसके अलावा ओपनर स्मृति मंधाना ने तीन मैचों में क्रमश: 28, 57 और 37 रन बनाकर उपयोगी योगदान दिया है। गेंदबाजी में आफ स्पिनर अनुजा पाटिल पहले तीन मैचों में पांच विकेट झटक चुकी है और टीम को उनसे आखिरी मैच में भी ऐसे ही प्रदर्शन की उम्मीद होगी। इसके अलावा पूनम यादव और पूला वस्त्राकर ने भी अब तक चार-चार विकेट लिए हैं। स्पिन के अलावा तेज गेंदबाजों को दम दिखाना होगा।
वहीं दक्षिण अफ्रीकी महिलाएं भी पांचवें और आखिरी मैच को जीतकर सीरीज का समापन 2-2 की बराबरी से करना चाहेंगी। तीसरा मैच जीतने से मेजबान टीम का मनोबल बढ़ा है और वह इसी ऊंचे मनोबल के साथ आखिरी मैच में उतरेगी। तीसरे मैच में पांच विकेट लेने वाली शबनम इस्माइल के प्रदर्शन ने सीरीज में दक्षिण अफ्रीका की उम्मीदों को बनाए रखा है। शबनम के अलावा एम डेनियल्स और क्लास ने अब तक तीन-तीन विकेट चटकाए हैं।


मेड्रिड - यूरोपा लीग में एथलेटिक बिलबाओ और स्पातार्क मॉस्को के बीच खेले गए मैच से पहले प्रशंसकों के बीच हुई भिड़ंत में एक पुलिस अधिकारी की मौत हो गई। एक रिपोर्ट के अनुसार, 'बॉस्क कंट्री' के पुलिसबल में कार्यरत अधिकारी की मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई। इस मैच के आयोजन की निगरानी के लिए 500 से अधिक अधिकारी तैनात किए गए थे और रिपोटोर्ं का कहना है कि इस भिड़ंत में कम से कम पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है।
बिलबाओ पुलिस ने कहा, “हमारी सांत्वना पुलिस अधिकारी के परिवार, दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ हैं।” सान मामेस स्टेडियम में खेले गए इस मैच के बाद स्पेनिश लीग क्लब नेट्वीट कर कहा, “पुलिस अधिकारी के परिवार और साथी कर्मचारियों के साथ हमारी सांत्वना है। बिलबाओ क्लब फुटबाल से जुड़ी हिंसक घटनाओं की कड़ी रूप से निंदा करता है।” इस हिंसक भिड़ंत की वीडियो में साफ नजर आ रहा है कि समर्थकों ने एक-दूसरे पर पटाखों का इस्तेमाल किया था।


नई दिल्ली - भारतीय टेस्ट क्रिकेट टीम के बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा पापा बन गए हैं। उनकी पत्नी पूजा पाबरी ने 22 फरवरी को बेटी को जन्म दिया। पुजारा ने बेटी और पत्नी के साथ फोटो शेयर करते हुए लिखा, 'छोटी बच्ची का स्वागत, मैं बहुत उत्साहित और खुश हूं। अपनी जिंदगी में एक नई भूमिका निभाने के लिए। हमने एक विश मांगी थी जो अब पूरी हो गई है।'
दिसंबर 2017 में पुजारा ने सोशल मीडिया के जरिए फैन्स से शेयर किया था कि वो पापा बनने वाले हैं।
बता दें कि पुजारा के फोटो शेयर करने से पहले ही ये खबर तेजी से वायरल हो रही थी कि पुजारा की बेटी हुई हैं। लेकिन अब पुजारा ने खुद ये गुड न्यूज अपने फैन्स के साथ शेयर कर दी है।
सोशल मीडिया पर पुजारा की बेटी की फोटो भी वायरल हुई थी, हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है कि ये सही या नकली।


अलीगढ़ - जब देश आजाद भी नहीं हुआ था, उस समय दुनिया में भारत की पहचान हॉकी और मेजर ध्यानचंद की वजह से होती थी। वह हमेशा से ही देश की प्रेरणा रहे हैं, लेकिन देश की आजादी के बाद से आज तक हॉकी और हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद हमेशा ही उपेक्षित रहे। देश की सरकारों का ध्यान नहीं गया। उनको भारत रत्न न देना एक राजनीतिक साजिश है। यह बातें गुरुवार को अलीगढ़ आए मेजर ध्यानचंद के पुत्र और अर्जुन अवार्डी ओलंपियन अशोक ध्यानचंद ने कही। उन्होंने सभी सरकारों पर भेदभाव का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें तो बहुत पहले भारत रत्न दे दिया जाना चाहिए था।
डीएस कॉलेज में बेटी बचाओ, बेटी खिलाओ, राष्ट्र गौरव बढ़ाओ के तहत महिलाओं की हॉकी प्रतियोगिता के आयोजन के लिए समिति के अन्य सदस्यों के साथ तैयारियों का जायजा लेने अलीगढ़ आए अशोक ध्यानचंद ने बताया कि मेजर ध्यानचंद को दुनिया में लगभग 55 देशों में 400 से अधिक पुरस्कार प्राप्त हुए। हॉकी के जादूगर कहे जाने वाले मेजर ध्यानचंद जितना अपने खेल के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध रहे हैं। उतना ही वे हिटलर की पेशकश ठुकराने की वजह से भी रहे हैं। बात 1936 की है, बर्लिन ओलंपिक खेलों के दौरान जर्मनी के तानाशाह हिटलर ने उनके खेल से प्रभावित होकर जर्मनी की सेना में सबसे ऊंचे पद का प्रस्ताव दिया, लेकिन मेजर ध्यानचंद ने उसे अपने देश भारत के लिए ठुकरा दिया।
हालांकि उन्हें 1956 में पद्मभूषण से सम्मानित किया गया और उनके जन्मदिन को देश में खेल दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसके बाद भी उन्हें भारत रत्न देने के लिए अब तक की सरकारों ने कोई खास प्रयास नहीं किया। क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर को भारत रत्न मिलना भी एक तरह का विवाद है। हालांकि सचिन तेंदुलकर को इसमें दोषी नहीं माना जा सकता। क्योंकि उन्होंने क्रिकेट के जरिए देश का काफी नाम किया है, लेकिन सरकार को उनको भारत रत्न देने की घोषणा करने से पहले ध्यानचंद और उनके हॉकी के योगदान पर जरूर सोचना चाहिए था।
आगे कहा कि मेजर ध्यानचंद को भारत रत्न न दिया जाना एक राजनीतिक साजिश है। क्योंकि वे किसी एक के लिए नहीं बल्कि पूरे देश के लिए प्रेरणा थे। उनको खेल रत्न दिए जाने के लिए खिलाड़ियों ने काफी आंदोलन भी किए और मांगें भी उठाईं, लेकिन किसी भी सरकार पर कोई फर्क नहीं पड़ा। इससे खेल प्रेमियों में काफी निराशा है।
बेटियों को आगे लाने के लिए किया जा रहा है हरसंभव प्रयास
उन्होंने कहा कि आज के समय में देश में पुरुषों की टीम है, लेकिन महिलाओं की टीम उतनी सक्रिय नहीं है। दूसरी ओर पूरे देश में यहीं स्थिति है कि हॉकी के खेल में कम ही बेटियां आती हैं। ऐसे में इसको बढ़ावा देने के लिए हरसंभव प्रयास किया जा रहा है। अलीगढ़ में अक्टूबर में पूरे देश से महिला खिलाड़ियों की टीमों को बुलाया जाएगा। इससे कम से कम बेटियों का हॉकी के प्रति रुझान बढ़ेगा और वे आगे आएं। वहीं ऐसे आयोजन भी समय-समय पर हर जगह कराए जाते रहेंगे।


नई दिल्ली - अनुभवी स्ट्राइकर रानी रामपाल कोरिया के खिलाफ सीजन की शुरुआती सीरीज के लिए 20 सदस्यीय भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान होंगी। भारतीय टीम 3 से 12 मार्च तक कोरिया के खिलाफ पांच मैच खेलेगी। फॉरवर्ड पूनम रानी फिट होकर टीम में लौटी हैं।
डिफेंडर सुनीता लाकड़ा को उप-कप्तान बनाया गया है। गोलकीपर सविता को इस दौरे के लिए आराम दिया गया है। गोलकीपिंग की जिम्मेदारी रजनी ई और नई खिलाड़ी स्वाति पर होगी। डिफेंस में अनुभवी दीपिका, सुमन देवी, दीप ग्रेस इक्का, सुशीला चानू और गुरजीत कौर हैं। वहीं मिडफील्ड का जिम्मा मोनिका, नमिता टोप्पो, निक्की प्रधान, नेहा गोयल, उदिता और लिलिमा मिंज पर होगा।
रानी, वंदना कटारिया, लालरेमसियामी, नवजोत कौर, नवनीत कौर और पूनम फारवर्ड पंक्ति संभालेंगे। पिछले साल नवंबर में चीन को हराकर एशिया कप जीतने के बाद भारतीय टीम का यह पहला टूर्नामेंट है। मुख्य कोच हरेंद्र सिंह ने कहा, 'सीजन के पहले टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन बहुत जरूरी है। इससे लय मिलती है। कोरिया दौरे से पता चलेगा कि राष्ट्रमंडल खेलों से पहले हमें कहां सुधार करने की जरूरत है।'
उन्होंने कहा, 'हमारे पास युवा और अनुभवी खिलाड़ियों से सजी टीम है। ये लड़कियां जबर्दस्त फिट हैं और यो यो टेस्ट में अच्छा स्कोर कर रही हैं। इनमें से अधिकांश ने रांची में राष्ट्रीय चैम्पियनशिप में अच्छा प्रदर्शन किया था और उम्मीद है कि यह लय कायम रहेगी।'

 


मुरादाबाद - मुरादाबाद के पूर्व सांसद एवं पूर्व क्रिकेटर ने दिल्ली में राहुल गांधी से मुलाकात की। अजहर एक बार फिर मुरादाबाद से चुनावी मैदान में उतरने को तैयार हैं। कुछ महीने पहले वह इसका ऐलान भी मुरादाबाद में खुले तौर पर कर चुके हैं। अजहर की मुलाकात से तमाम सियासी अटकलें लगने लगी हैं।
पूर्व क्रिकेटर अजहरुद्दीन 2009 में लोकसभा चुनाव में उतरे और जीते। 2014 में अजहरुद्दीन ने मध्य प्रदेश को अपना ठिकाना बनाया पर सफल नहीं हो सके। मोदी की लहर में उनकी भी हार हो गई। एक बार फिर से वह सियासी समीकरण साधने में लगे हैं। मुरादाबाद में रोजा इफ्तार किया था अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात करने पहुंचे।
अजहरुद्दीन ने राहुल से विस्तार से कुछ खास मुद्दों पर चर्चा की। अज़हर अपने बेटे को भी सियासत में आगे लाना चाहते हैं इसकी भी अटकलें लगने लगी हैं। अज़हर के बेटे अब्बास ने भी युवाओं की सियासत पर बात की। अजहरुद्दीन ने कहा है कि देश में बदलाव के लिए कांग्रेस कुछ महत्वपूर्ण कदम उठाएगी। मौजूदा सरकार की छुट्टी करने को विशेष रणनीति के तहत काम होगा। पार्टी अध्यक्ष से मुरादाबाद ही नहीं देश की सियासत पर लंबी गुफ्तगू हुई है। पार्टी की सोच है कि देश में विकास हो और हर किसी को न्याय मिले।

 

बासेल - राष्ट्रमंडल खेलों के कांस्य पदक विजेता आरएमवी गुरूसाईदत्त और सैयद मोदी ग्रां प्री विजेता समीर वर्मा ने पुरुष एकल में विपरीत हालात में जीत के साथ स्विस ओपन विश्व सुपर 300 टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। टखने की चोट के बाद वापसी कर रहे गुरूसाईदत्त ने हमवतन सौरभ वर्मा को सीधे गेम में 21-18 21-14 से हराया। वहीं दूसरे वरीय समीर को जापान के यू इगाराशी…
दुबई - मशहूर कॉमेडियन कपिल शर्मा आए दिन विवादों में फंसते रहते हैं, अब वो एक नए विवाद में फंस गए हैं। पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) का आगाज गुरुवार को दुबई में हुआ और इस दौरान कपिल पाकिस्तान क्रिकेट को सपोर्ट करते दिखे। कपिल की ये बात देश के लोगों कुछ ज्यादा ही बुरी लग गई और सोशल मीडिया पर इसको लेकर एक जंग सी शुरू हो गई।पाकिस्तानी क्रिकेटरों के…
नई दिल्ली - दिल्ली का कागज पर मजबूत बल्लेबाजी क्रम आंध्र प्रदेश के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में ताश के पत्तों की तरह ढह गया जिससे मेजबान टीम विजय हजारे ट्राफी में छह विकेट की हार के साथ प्रतियोगिता से बाहर हो गई। तेज गेंदबाज शिव कुमार ने 29 रन देकर चार जबकि बायें हाथ के स्पिनर भार्गव भट्ट ने 28 रन देकर तीन विकेट चटकाए जिससे दिल्ली की टीम पहले…
चंडीगढ़ - भारतीय महिला टी-20 क्रिकेट टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर एक मार्च को पंजाब पुलिस में पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) पद पर तैनात होंगी। यह तभी संभव हो सका जब भारतीय रेलवे ने हरमनप्रीत को उनके पद से मुक्त कर दिया क्योंकि यह खिलाड़ी पंजाब पुलिस से जुड़ना चाहती थी। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी इस मामले को रेलवे मंत्रालय के समक्ष उठाया था और हरमनप्रीत को पदमुक्त करने…
Page 1 of 236

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें