Editor

Editor

रायबरेलीः भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस के गढ़ रायबरेली में शनिवार को पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साथा और कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में अमेठी को परिवारवाद से मुक्त करना है। रायबरेली पहुंचे शाह ने कहा, ‘‘2019 के लोकसभा चुनाव में अमेठी को परिवारवाद से मुक्त करना है और अब यहां के लोगों के विकास की जिम्मेदारी योगी सरकार की है। ’’उन्होंने कहा,‘‘देश के कई बड़े नेता यहां से जीत कर गए हैं, लेकिन यहां का विकास नहीं हुआ।’’ शाह ने कहा कि सत्य कोई भी छुपा नहीं सकता है। हर बड़े काम में बाधा आती है, लेकिन सफलता जरूर मिलेगी और रायबरेली में कमल खिलेगा।शाह ने कहा, ‘‘रायबरेली को अब परिवारवाद से मुक्ती मिलेगी और भाजपा रायबरेली में अब विकासवाद लाएगी। उन्होंने कहा कि योगी सरकार राज्य में विकास कर रही है और अब रायबरेली में ‘दिन दूना रात चौगुना विकास’ होगा।’’उन्होंने कहा,‘‘रायबरेली की भूमि में कांग्रेस के बड़े-बड़े नेता घूमते थे, लेकिन विकास नहीं किया। अब बारी भाजपा की है, जो क्षेत्र में विकास करेगी।’’भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि राहुल गांधी को आतंकवाद के मुद्दे पर देश से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि रायबरेली को भाजपा मॉडल जिला बनाएगी और पांच साल में उत्तर प्रदेश का बहुत विकास होगा। कर्नाटक के आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी की जीत को लेकर आश्वस्त शाह ने कहा कि कर्नाटक राज्य में भी भाजपा की सरकार बन रही है।
रैली में मची भगदड़:-इससे पहले रायबरेली में हुई रैली से पहले पंडाल में शॉट सर्किट की वजह से अफरा तफरी फैल गई। पंडाल में आग लग गई और हर तरफ धुंए का गुबार सा बन गया, जिससे वहां पर मौजूद लोगों में भगदड़ मच गई। इस भगदड़ पर अमित शाह ने कहा कि यह अच्छे काम का संकेत हैं, किसी भी शुभ काम से पहले व्यवधान होता है।

नई दिल्लीः केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने आज आरोप लगाया कि प्रधान न्यायाधीश के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव का कांग्रेस का नोटिस ‘‘न्यायपालिका पर हमला’’ और ‘‘ राजनीति से प्रेरित’’ है। कांग्रेस के नेतृत्व में सात विपक्षी पार्टियों ने प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा पर ‘‘कदाचार’’ और अधिकार के ‘‘दुरुपयोग’’ का आरोप लगाते हुए उन्हें पद से हटाने के लिए कल एक नोटिस पेश किया है। गोयल ने कहा कि न्यायाधीश लोया के मामले में उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद कांग्रेस हड़बड़ी में थी क्योंकि फैसला उसके ‘‘मनमाफिक’’ नहीं था।उन्होंने कहा कि विपक्ष ने संविधान के उस प्रावधान के तहत नोटिस दिया है जो उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीशों को पद से हटाने की बात कहता है, महाभियोग की नहीं। संसदीय कार्य राज्य मंत्री गोयल ने कहा, ‘‘मीडिया की खबरों के मुताबिक कांग्रेस नेर् संविधान के ी अनुच्छेद 124र् 4ी के तहत एक नोटिस दिया है लेकिन इस विशिष्ट अनुच्छेद के तहत उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश को हटाने का प्रावधान है न कि उनके खिलाफ महाभियोग चलाने का। इसलिए इसके अस्वीकार होने की संभावना है।’’उन्होंने कहा कि महाभियोग के प्रस्ताव का दोनों सदनों के दो तिहाई सदस्यों की स्वीकृति से पारित होना जरुरी है। विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधते हुए गोयल ने आरोप लगाया कि प्रधान न्यायाधीश के खिलाफ महाभियोग चलाने का नोटिस ‘‘ राजनीति से प्रेरित ’’ है और उनके ‘‘ पद की गरिमा कम करने ’’ के लिए लाया गया है। उन्होंने कहा, ‘‘यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण और शर्मनाक है कि कांग्रेस अन्य विपक्षी पार्टियों के साथ मिलकर न्यायपालिका को बिना किसी आधार और साक्ष्य के निशाना बना रही है।’’

नई दिल्लीः राजधानी में मेट्रो रेल के आ जाने से यात्रियों को बहुत सुविधा हुई है। लेकिन अब मेट्रो यात्रियों को सुविधा देने के लिए एक नया कदम उठाने जा रही है। अब मेट्रो स्टेशन पर टोकन लेने के लिए आपको लंबी लाइनों में लगने की जरुरत नहीं है। दिल्ली मेट्रो सभी स्टेशनों पर टोकन बिक्री काउंटरों को बंद करने जा रही है। इसकी शुरुआत हो चुकी है और करीब 118 स्टेशनों पर काउंटरों को बंद कर दिया गया है।
फेस थ्री के स्टेशनों पर नहीं होंगे काउंटर:-दिल्ली मेट्रो की जल्द खुलने वाली मेट्रो फेज थ्री लाइन पर शुरू होने वाले स्टेशनों पर काउंटर नहीं होंगे। काउंटर की सुविधा केवल उन्हीं स्टेशनों पर मिलेगी, जहां पर इंटरचेंज होगा।
टीवीएम का होने लगा प्रयोग:-दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) ने काउंटरों की जगह टिकट वेंडिंग मशीन (टीवीएम) का प्रयोग शुरू किया है। अब तक मेट्रो के तमाम स्टेशनों पर 519 टीवीएम लगाई जा चुकीं हैं। दिल्ली मेट्रो के उन स्टेशनों पर टीवीएम का प्रयोग ज्यादा होगा जहां पर रोजाना पांच हजार से कम यात्री आते-जाते हैं। इससे ज्यादा संख्या में जिन स्टेशनों पर यात्री आते हैं, वहां पर काउंटर से भी टोकन मिलते रहेंगे।
स्मार्ट कार्ड का बढ़ाना चाहता है प्रयोग:-डीएमआरसी के एमडी मंगू सिंह ने कहा कि वो यात्रियों के बीच स्मार्ट कार्ड का प्रयोग बढ़ाना चाहते हैं। मेट्रो के फिलहाल कुल 183 स्टेशन हैं, जो कि फेज थ्री के पूरा हो जाने के बाद 227 हो जाएंगे। फिलहाल 80 फीसदी से ज्यादा यात्री स्मार्ट कार्ड का प्रयोग मेट्रो में यात्रा के दौरान करते हैं।
टीवीएम पर नियुक्त किया गया स्टाफ;-मेट्रो ने यात्रियों की सुविधा के लिए टीवीएम मशीन के पास स्टाफ को तैनात किया है, जो उन्हें मशीन से टोकन लेने के प्रोसेस को पूरा करने में उनकी मदद करता है। टीवीएम से लोग अपने कार्ड को रिचार्ज करा सकते हैं।

हाजीपुरः बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भले ही सुशासन के लाख दावे कर लें, परंतु उनके ही राज्य में अगर किसी थानेदार द्वारा मांगी गई रिश्वत की राशि देने के लिए बच्चे को भीख (मदद) मांगनी पड़े तो इसे आप क्या कहेंगे? यह बात आपको भले ही अजीब लग रही हो परंतु पूरे विश्व को लोकतंत्र का पाठ पढ़ाने वाली धरती बिहार के वैशाली जिले में एक बच्चे को अपना भू-खंड का एक टुकड़ा बचाने के लिए थानेदार द्वारा मांगी गई रिश्वत की राशि जुटाने के लिए सड़क पर लोगों के सामने हाथ फैलाना पड़ा।वैशाली जिला मुख्यालय हाजीपुर के जिलाधिकारी कार्यालय के सामने शुक्रवार को जब एक अनाथ बच्चे को गले में तख्ती लगाकर भीख मांगते देखा गया तब यह मामला प्रकाश में आया। उसके साथ उसके संरक्षक भी मौजूद थे। कटहरा के चेहराकला गांव का रहने वाला विवेक अनाथ है और उसके पास पूर्वजों की एक एकड़ से ज्यादा जमीन है। विवेक का आरोप है कि इस जमीन पर गांव के ही कुछ दबंगों ने निर्माण कार्य प्रारंभ कर दिया। इसकी शिकायत करने जब वह कटहरा सहायक थाना प्रभारी के पास पहुंचा, तो उसने बतौर रिश्वत 10 हजार रुपये की मांग की। विवेक बताता है, ‘‘मेरे पास इतनी बड़ी रकम नहीं थी, इस कारण मैं लोगों से मदद मांगकर रुपये इकट्ठे करने लगा।’’ इसकी सूचना जब जिलाधिकारी को मिली तब उन्होंने विवेक को अपने पास बुलाया। प्रभारी जिलाधिकारी प्रभुनारायण यादव ने शनिवार को बताया कि मामले की जांच महुआ अनुमंडल अधिकारी, पुलिस उपाधीक्षक और अंचलाधिकारी के निर्देशन में कराई जा रही है। उन्होंने कहा कि जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इधर, कटहरा सहायक थाना प्रभारी राकेश रंजन रिश्वत मांगने के आरोप को बेबुनियाद बता रहे हैं। उन्होंने बताया कि विवेक को उसके संरक्षक महेंद्र राय को सौंप दिया गया है। महेंद्र राय ने कहा कि अदालत द्वारा जमीन पर यथास्थिति बनाए रखने का आदेश दिया गया है परंतु कुछ लोग उस पर निर्माण कार्य कर रहे हैं। बहरहाल, यह मामला यहां चर्चा का विषय बना हुआ है।

जम्मूः राजौरी जिले में मंगलवार को नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर पाकिस्तानी गोलीबारी में घायल जवान ने दम तोड़ दिया। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल देविंदर आनंद ने आईएएनएस को शनिवार को बताया, ‘‘हवलदार चरणजीत सिंह जो 17 अप्रैल को गोली लगने से घायल हो गए थे, उन्होंने शुक्रवार को दम तोड़ दिया। वह जम्मू एवं कश्मीर के सुंदरबनी सेक्टर में घायल हो गए थे। सिंह नौशेरा के कलसियान गांव के थे।आनंद ने कहा, ‘‘उनका पार्थिव शरीर उनके पैतृक गांव लाया जा रहा है। उनका अंतिम संस्कार पूरे सैन्य सम्मान के साथ किया जाएगा।’’

 

 

'इंडियन प्रीमियर लीग' का बुखार 2008 से भारत में सभी पर चढ़ा हुआ हैं, जिसमें चौक्के-छक्के की बारिश देखने को मिलती हैं और पैसा-वसूल आयोजन होता हैं। हर सीजन नया रिकॉर्ड बनाता हैं। आज हम बताने जा रहे हैं ऐसे ही कुछ बल्लेबाजों के बारे में जिनके नाम आईपीएल में सबसे ज्यादा रन बनाने का कीर्तिमान हैं और आपको जानकर हैरानी होगी कि ये चारों भारतीय खिलाड़ी हैं। आइये जानते हैं उन 4 बल्लेबाजों के बारे में...
1. सुरेश रैना:-चेन्नई सुपर किंग्स से आठ सीज़न और गुजरात लायंस से दो सीज़न खेल चुके सुरेश रैना आईपीएल के टॉप स्कोरर हैं। 161 मैचों की 157 पारियां खेल चुके रैना 4540 रन अपने खाते में जोड़ चुके हैं। उन्होंने इतनी ही पारियों में 402 चौके और 173 छक्के जड़े हैं। 34.13 का औसत और 139 का स्ट्राइक रेट रखने वाले रैना अपने आईपीएल कैरियर में 31 अर्धशतक लगाने के साथ साथ एक शतक भी जड़ चुके हैं। यूँ तो रैना अपनी 157 पारियों में 24 बार नाबाद रहे हैं मगर उन्हें सात बार बिना कोई रन जोड़े भी लौटना पड़ा है।
2. विराट कोहली:-आईपीएल में 149 मैचों की 141 पारियां खेल चुके विराट कोहली दस सीज़न रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की ओर से खेलते हुए 4418 रन बना चुके हैं।129 के स्ट्राइक रेट के साथ खेलने वाले विराट का सर्वोच्च स्कोर 113 रन है। अपने आईपीएल कैरियर के दौरान 4 शतक और 30 अर्धशतक लगा चुके कोहली का औसत 37.44 है। विराट आईपीएल में खेलने के दौरान 382 चौके और 159 छक्के लगा चुके हैं।
3.रोहित शर्मा;-डेक्कन चार्जर्स और मुंबई इंडियन्स की ओर से खेल चुके रोहित शर्मा 159 मैचों की 154 पारियों में 4207 रन अपने नाम कर चुके हैं।130.89 के स्ट्राइक रेट के साथ खेलने वाले रोहित दस सीज़न में 32 अर्धशतक और एक शतक लगा चुके हैं। 32.61का औसत रखने वाले सलामी बल्लेबाज रोहित का सर्वोच्च स्कोर 109 रन नाबाद है।वह इस दौरान 172 छक्के और 354 चौके जड़ चुके हैं।
4. गौतम गंभीर:-148 मैचों की 147 पारियां खेल चुके गौतम गंभीर कोलकाता नाइटराइडर्स और दिल्ली डेयरडेविल्स की ओर से शानदार प्रदर्शन कर चुके हैं। वह इतनी पारियों में 4132 रन अपने खाते में शामिल कर चुके हैं। 35 अर्धशतक लगा चुके गंभीर के नाम एक शतक नही हैं। महज़ 58 छक्के लगा पाये गौतम के नाम सबसे ज्यादा चौके (484) दर्ज़ हैं। 124.6 के स्ट्राइक रेट के साथ खेलने वाले इस खिलाड़ी का सर्वोच्च स्कोर 93 रन है।

नई दिल्ली। चेन्नई और राजस्थान के बीच खेले गए आइपीएल मैच में शेन वॉटसन के दमदरा प्रदर्शन की बदौलत सीएसके ने इस सीजन की अपनी तीसरी जीत दर्ज की। राजस्थान को 64 रन से मात देने के बाद चेन्नई की टीम अंक तालिका में टॉप पर आ गई है। चेन्नई की इस जीत के हीरो रहे शेन वॉटसन। वॉटसन ने राजस्थान के गेंदबाज़ों की जमकर धुलाई करते हुए सिर्फ 57 गेंदों में 106 रन की पारी खेली। इस दौरान उनके बल्ले से 9 चौके और 6 छक्के भी निकले। इस धुआंधार पारी के दौरान वॉटसन ने डेविड वॉर्नर के एक रिकॉर्ड की बराबरी कर ली।
वॉटसन ने की वॉर्नर के रिकॉर्ड की बराबरी:-आइपीएल में राजस्थान की टीम के खिलाफ शेन वॉटसन का ये पहला मैच रहा। इससे पहले वो कभी भी इस टूर्नामेंट में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ नहीं खेल थे। 2015 तक वॉटसन राजस्थान से खेलते थे और जब रायल्स पर दो साल का बैन लगा तो फिर वो बैंगलोर के लिए खेलने लगे। लेकिन इस बार की नीलामी में चेन्नई ने उन्हें अपने बेड़े में शामिल कर लिया। राजस्थान के खिलाफ जमाया गया शतक वॉटसन का आइपीएल में तीसरा शतक रहा। ये सेंचुरी लगाते ही वॉटसन ने डेविड वॉर्नर के आइपीएल में लगाए गए तीन शतकों की बराबरी कर ली है।आपको बता दें कि साल 2013 में राजस्‍थान रॉयल्‍स की तरफ से खेलते हुए वॉटसन ने चेन्‍नई के खिलाफ ही पहला शतक ठोंका था। अब जब 2018 में वह चेन्‍नई में शामिल हैं तब उन्‍होंने राजस्‍थान के खिलाफ सेंचुरी जमा दी। आइपीएल इतिहास में ऐसा कारनामा करने वाले इकलौते खिलाड़ी हैं।
आइपीएल में सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले खिलाड़ी:-आइपीएल में सबसे ज़्यादा शतक लगाने वाले खिलाड़ियों की बात करें तो शेन वॉटसन इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर आते हैं। इस सूची में सबसे पहला नाम क्रिस गेल का है। गेल के नाम आइपीएल में अभी तक 6 शतक लगाने का रिकॉर्ड दर्ज हैं। वहीं दूसरे नंबर पर विराट कोहली का नाम है। कोहली ने आइपीएल में अभीतक 4 शतक जमाए हैं। तीसरे नंबर पर डेविड वॉर्नर और शेन वॉटसन काबिज हैं। इन दोनों ही खिलाड़ियों ने आइपीएल में 3-3 सैंकड़े जड़े हैं।
खिलाड़ी                      IPL में शतक
क्रिस गेल                        06 शतक
विराट कोहली                   04 शतक
शेन वॉटसन                     03 शतक
डेवि़ड वॉर्नर                     03 शतक
मौजूदा आइपीएल में अभी तक दो ही शतक लगे हैं पहला क्रिस गेल ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ ठोका था और वहीं दूसरा शतक उसके अगले ही दिन चेन्नई की तरफ से खेलते हुए शेन वॉटसन ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ जड़ दिया।

नई दिल्ली। पुणे के मैदान पर राजस्थान और चेन्नई के बीच खेले गए मैच में धौनी की चेन्नई सुपर किंग्स ने 64 रन की बड़ी जीत दर्ज की। इस मैच मैं शेन वॉटसन ने राजस्थान के गेंदबाज़ों की जमकर पिटाई करते हुए आइपीएल का अपना तीसरा शतक ठोक दिया। इस मैच के दौरान टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के लिए फैंस की दीवानगी खीब नज़र आई।
धौनी के साथ घटी ये घटना:-पुणे में चेन्नई और राजस्थान के बीच मुकाबला खेला जा रहा था। चेन्नई की पारी के 12वें ओवर में सुरेश रैना के आउट होने के बाद एमएस धौनी मैदान पर बल्लेबाज़ी के लिए आ रहे थे। जब धौनी मैदान पर आ रहे थे तभी तभी एक शख्स उनकी तरफ दौड़ता हुआ आया और उसने धौनी के पास आकर उनके पैर पकड़ लिए। वो फैन मैदान पर आ रहे धौनी के पैरों में गिर गया।
धौनी ने ऐसे जीता दिल:-पहले उसने धौनी के घुटने पकड़े और फिर जमीन पर बैठकर उनके पैर पकड़ लिए। फैन के ऐसा करने के बाद भी धौनी हमेशा की तरह कूल रहे और उन्होंने न ही अपने फैन को डांटा और न ही कुछ कहा। उन्होंने तो बस अपने इस फैन को पैर छूने से रोका और साइड हटे और मैदान पर आगे बढ़ गए।धौनी बल्लेबाज़ी के लिए आगे बढ़े तो वो फैन उनके साथ बातें करते हुए आगे जाने लगा। धौनी के साथ कुछ कदम तक चहलकदमी करने के बाद वो वहां से दूर हट गया और अपना दिल पकड़कर ऊपर वाले को इस बड़े दिन के लिए शुक्रिया अदा करने लगा।खास बात ये है कि धौनी का ये फैन उनकी टीम चेन्नई की पीली जर्सी में नज़र आया। उसकी जर्सी पर धौनी के नाम के साथ-साथ उनकी जर्सी का नंबर 7 भी लिखा हुआ था। इस पूरे मामले में सबसे हैरान करने वाली बात ये है कि इतनी देर तक धौनी के पास कोई अज्ञात व्यक्ति बना रहा लेकिन कोई भी सिक्योरिटी गार्ड वहां नज़र नहीं आया।इस मैच में धौनी बड़ी पारी तो नहीं खेल सके और वो 05 रन बनाकर आउट हो गए, लेकिन पुणे के फैंस में धौनी को लेकर दिवानगी देखते ही बनती थी। पुणे के मैदान में भी चेन्नई की ही तरह पीले रंग की जर्सी ही नज़र आ रही थी। धौनी को लेकर फैंस की दिवानगी इतनी थी कि आइसीसी तक को ट्वीट करना पड़ गया।
नई नहीं है धौनी के प्रति फैंस की दिवानगी:-ये कोई पहला मौका नहीं है जब धौनी के फैंस अपने चेहेते खिलाड़ी से मिलने के लिए मैदान पर आ गए हों। इससे पहले भी बहुत बार धौनी के चाहनेवाले मैच के बीच में मैदान पर घुसकर उनके पैर छू चुके हैं।

नई दिल्ली : कर्नाटक का एक डॉक्टर 33 साल की महिला खिलाड़ी से दो साल तक दुष्कर्म करता रहा। महाराष्ट्र की एक अंतर्राष्ट्रीय स्तर की अग्रणी महिला खिलाड़ी ने उसके खिलाफ केस दर्ज कराया है। आरोपी डॉक्टर कर्नाटक के गुलबर्ग शहर में रहता है। कारवीर पुलिस स्टेशन के जांच अधिकारी दिलीप तिबिले के अनुसार महिला ने इस सप्ताह की शुरुआत में डॉक्टर के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। महिला खिलाड़ी ने शिकायत में कहा है कि डॉक्टर ने शादी का झांसा देकर 2 साल तक उसके साथ दुष्कर्म किया और अब वह अपने वादे से मुकर गया है।पीड़िता का करना है कि वह सोशल मीडिया के जरिए दिसम्बर 2016 में आरोपी डॉक्टर के सम्पर्क में आई थी। कुछ समय बाद आरोपी डॉक्टर ने महिला खिलाड़ी के सामने शादी का प्रस्ताव रखा। महिला ने उसे स्वीकार कर लिया। शिकायत में महिला ने कहा कि इस साल मार्च तक डॉक्टर ने उसे एक बार गोवा और एक बार बेंगलुरू बुलाया और उसका यौन शोषण किया। महिला ने जब उसे शादी की याद दिलाई तो उसने ऐसा करने से इंकार कर दिया।डॉक्टर के इस व्यवहार से आहत महिला खिलाड़ी ने पुलिस में शिकायत की धमकी दी तो डॉक्टर ने महिला खिलाड़ी को जान से मारने की धमकी दी। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए कोल्हापुर पुलिस ने डॉक्टर को पकड़ने के लिए दो टीमें गठित की हैं। महाराष्ट्र पुलिस ने कर्नाटक पुलिस से भी मदद मांगी है।

नई दिल्ली : कर्नाटक का एक डॉक्टर 33 साल की महिला खिलाड़ी से दो साल तक दुष्कर्म करता रहा। महाराष्ट्र की एक अंतर्राष्ट्रीय स्तर की अग्रणी महिला खिलाड़ी ने उसके खिलाफ केस दर्ज कराया है। आरोपी डॉक्टर कर्नाटक के गुलबर्ग शहर में रहता है। कारवीर पुलिस स्टेशन के जांच अधिकारी दिलीप तिबिले के अनुसार महिला ने इस सप्ताह की शुरुआत में डॉक्टर के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। महिला खिलाड़ी ने शिकायत में कहा है कि डॉक्टर ने शादी का झांसा देकर 2 साल तक उसके साथ दुष्कर्म किया और अब वह अपने वादे से मुकर गया है।पीड़िता का करना है कि वह सोशल मीडिया के जरिए दिसम्बर 2016 में आरोपी डॉक्टर के सम्पर्क में आई थी। कुछ समय बाद आरोपी डॉक्टर ने महिला खिलाड़ी के सामने शादी का प्रस्ताव रखा। महिला ने उसे स्वीकार कर लिया। शिकायत में महिला ने कहा कि इस साल मार्च तक डॉक्टर ने उसे एक बार गोवा और एक बार बेंगलुरू बुलाया और उसका यौन शोषण किया। महिला ने जब उसे शादी की याद दिलाई तो उसने ऐसा करने से इंकार कर दिया।डॉक्टर के इस व्यवहार से आहत महिला खिलाड़ी ने पुलिस में शिकायत की धमकी दी तो डॉक्टर ने महिला खिलाड़ी को जान से मारने की धमकी दी। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए कोल्हापुर पुलिस ने डॉक्टर को पकड़ने के लिए दो टीमें गठित की हैं। महाराष्ट्र पुलिस ने कर्नाटक पुलिस से भी मदद मांगी है।

Page 7 of 2546

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें