नई दिल्ली - पाकिस्तानी स्पिनर सईद अजमल ने गेंदबाजी एक्शन में बदलाव करने के दो साल बाद सोमवार को क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा की। अपने सफल लेकिन विवादास्पद करियर के दौरान अजमल एक समय वनडे और टी20 इंटरनेशनल में दुनिया के नंबर एक गेंदबाज थे और टेस्ट मैचों में भी काफी सफल थे। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ 2012 में तीन टेस्ट मैचों में 24 विकेट लिये थे।
लेकिन इसके बाद उनका गेंदबाजी एक्शन गैरकानूनी करार दिया गया और उन पर अस्थायी प्रतिबंध लगा दिया गया। उन्होंने बदले हुए एक्शन के साथ 2015 में वापसी की लेकिन उनकी गेंदबाजी में अब पहले जैसी मारक क्षमता नहीं थी। गेंदबाजी की अनुमति मिलने के बाद उन्होंने बांग्लादेश में दो वनडे और एक टी20 में केवल एक विकेट लिया। इसके बाद उन्हें कभी राष्ट्रीय टीम में नहीं चुना गया।
अजमल ने रावलपिंडी में कहा, मैं वर्तमान राष्ट्रीय टी20 टूनार्मेंट के बाद क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले रहा हूं। मेरा करियर काफी संतोषजनक रहा जिसमें मैंने जो भी लक्ष्य तय किये उन्हें हासिल किया और टीम की जीत में योगदान दिया।
अपने सफल करियर के बावजूद अजमल ने कहा कि पिछले दो साल उनके लिये निराशाजनक रहे। उन्होंने कहा, एक्शन को लेकर प्रतिबंध से मैं काफी निराश और आहत था। सबसे ज्यादा पीड़ा इंग्लैंड के तेज वर्तमान तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्राड की टिप्पणी से हुई जिसमें उन्होंने मुझ पर सवाल उठाया। लेकिन मैंने सभी को माफ कर दिया।
बता दें कि अजमल ने 35 टेस्ट मैचों में 178 विकेट, 113 वनडे में 184 विकेट और 64 टी20 अंतरराष्ट्रीय में 85 विकेट लिये।

 

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें