नई दिल्ली - टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और मौजदा विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धौनी को वैसे तो गुस्सा कम आता है, लेकिन जब आता है तो उसका नुकसान सामने वाले को उठाना ही पड़ता है। धौनी ने रियल एस्टेट कंपनी आम्रपाली ग्रुप पर आरोप लगाया है कि इस कंपनी ने उनके करोड़ों रुपये हड़प लिए हैं।
धौनी ने घाटे में चल रही आम्रपाली ग्रुप पर आरोप लगाया है कि इस कंपनी ने उनके 150 करोड़ रुपये का भुगतान नहीं किया है। बातचीत से जब बात नहीं बनी तो धौनी ने दिल्ली हाई कोर्ट जाने का फैसला लिया। अब ये मामला कोर्ट में पहुंच गया है।
धौनी ने आरोप लगाया है कि कंपनी का ब्रैंड एम्बेसेडर बनने के लिए उन्हें कई साल से पैसे नहीं दिए गए। आपको बता दें, आम्रपाली पिछले कुछ सालों से वित्तीय संकट का सामना कर रही है और अपने कई हाउसिंग प्रॉजेक्ट्स तक पूरे नहीं कर सकी है।
छपी खबर के मुताबिक धौनी के अलावा कई क्रिकेटर्स के एंडोर्समेंट संभालने वाली फर्म रिति स्पोर्ट्स ने आम्रपाली के खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट में बकाया रकम की वसूली से जुड़ा केस दर्ज कराया है। रिति स्पोर्ट्स के मैनेजिंग डायरेक्टर अरुण पांडे का कहना है, ‘कंपनी ने ब्रैंडिंग और मार्केटिंग एक्टिविटीज के लिए पैसा नहीं दिया।’ पांडे के मुताबिक, 'रिति स्पोर्ट्स का आम्रपाली पर लगभग 200 करोड़ रुपए बकाया है।'
धौनी पिछले करीब 6-7 साल आम्रपाली ग्रुप के ब्रैंड एम्बेसडर रहे। आम्रपाली के हाउसिंग प्रॉजेक्ट के पूरा न होने को लेकर नाराज होमबायर्स के सोशल मीडिया पर धौनी को निशाना बनाने के बाद उन्होंने अप्रैल 2016 में कंपनी से ब्रैंड एम्बेसेडर के तौर पर अपना नाता तोड़ दिया था।
होमबायर्स ने अपने ट्वीट्स में धौनी से आम्रपाली से खुद को अलग करने या कंपनी पर हाउसिंग प्रोजेक्ट के बकाया काम को पूरा करने का दबाव डालने को कहा था।

Share this article

AUTHOR

Editor

हमारे बारे में

नार्थ अमेरिका में भारत की राष्ट्रीय भाषा 'हिन्दी' का पहला समाचार पत्र 'हम हिन्दुस्तानी' का शुभारंभ 31 अगस्त 2011 को न्यूयॉर्क में भारत के कौंसल जनरल अम्बैसडर प्रभु दियाल ने अपने शुभ हाथों से किया था। 'हम हिन्दुस्तानी' साप्ताहिक समाचार पत्र के शुभारंभ का यह पहला ऐसा अवसर था जब नार्थ अमेरिका में पहला हिन्दी भाषा का समाचार पत्र भारतीय-अमेरिकन्स के सुपुर्द किया जा रहा था। यह समाचार पत्र मुख्य सम्पादकजसबीर 'जे' सिंह व भावना शर्मा के आनुगत्य में पारिवारिक जिम्मेदारियों को निर्वाह करते हुए निरंतर प्रकाशित किया जा रहा है Read more....

ताज़ा ख़बरें